एडवांस्ड सर्च

जानें कौन हैं 2016 साहित्य नोबेल प्राइज विजेता बॉब डिलन...

अमेरिकी गीतकार व संगीतकार को मिला साल 2016 के साहित्य का नोबेल पुरस्कार. जानें उनके संगीत के सफर के बारे में सबकुछ...

Advertisement
aajtak.in
विष्णु नारायण नई दिल्ली, 13 October 2016
जानें कौन हैं 2016 साहित्य नोबेल प्राइज विजेता बॉब डिलन... Bob Dylan

आज भले ही बॉब डिलन को साहित्य में नोबेल के पुरस्कार से नवाजा गया हो लेकिन इस 75 वर्षीय गायक व गीतकार को दुनिया किसी किंवदंती के तौर पर याद करती है. वे साल 1941 में पैदा हुए और साल 1959 में संगीत के सफर पर निकले. वे शुरुआती दिनों में कॉफी हाउस के भीतर गाया करते थे.उन्हें यह पुरस्कार "अमेरिकी गीतों की परंपरा में नई अभिव्यक्ति के सृजन" के लिए दिया गया है.

उनके द्वारा गाए गए गीत Blowin'in the Wind और They are A-Changin पूरे अमेरिका के साथ-साथ दुनिया में युद्ध विरोधी और नागरिक अधिकारों के गीत बन गए. उनका पारंपरिक गीतों से पलायन करना पूरी दुनिया के लिए बेहद फायदेमंद साबित हुआ. आज भी उनके इन गीतों को सुनकर आम जनता यूं ही थिरकने लगती है. वे एक कलाकार, पार्ट टाइम एक्टर होने के साथ-साथ दुनिया के पहले ऐसे गीतकार हैं जिन्हें साहित्य के नोबेल से सम्मानित किया गया है. उनकी शब्दों और वाक्यों को तुकबंदी के अंदाज में लिखने की क्षमता अद्भुत मानी जाती है. वे आम जनता के संगीतकार माने जाते हैं.

बॉब डिलन के लिखे गीतों में हमेशा से ही एक अजीबोगरीब किस्म का अक्खड़पन रहा. उनके गीतों में राजनीतिक, सामाजिक, दार्शनिक और साहित्यिक विधा का मेल देखा गया. उन्हें हमेशा से ही प्रतिरोध का स्वर कहा जाता रहा है. वे 50 से भी अधिक वर्षों से संगीत जगत को प्रकाशमान कर रहे हैं. गीत लिखने के अलावा वे पेंटिंग करने के भी शौकीन माने जाते हैं. उनकी पेंटिंगें 14 अलग-अलग गैलरियों का हिस्सा बन चुकी हैं.
उन्हें दुनिया में सबसे अधिक बिकने वाले गीतकारों में गिना जाता है. वे ग्रैमी अवॉर्ड, गोल्डेन ग्लोब अवॉर्ड और अकादमी अवॉर्ड भी जीत चुके हैं. इस सभी के अलावा उन्हें आम जनता का गीतकार होने का दर्जा तो प्राप्त ही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay