एडवांस्ड सर्च

जब बोरिस बेकर दुनिया के सबसे युवा विंबलडन चैंपियन बने...

बोरिस बेकर को आज पूरी दुनिया भले ही एक बेहतरीन व सफल टेनिस खिलाड़ी के तौर पर जानती हो लेकिन ऐसा कम ही लोग जानते हैं कि उन्होंने विंबलडन का टाइटल सबसे कम उम्र में जीता था और वो भी जॉन मैकनरो को हरा कर. उन्होंने यह टाइटल साल 1985 में 7 जुलाई के रोज ही जीता था.

Advertisement
aajtak.in [Edited By:विष्णु नारायण]नई दिल्ली, 07 July 2016
जब बोरिस बेकर दुनिया के सबसे युवा विंबलडन चैंपियन बने... Boris Becker

दुनिया के सबसे पसंदीदा और कंपटीटिव खेलों में से एक है लॉन टेनिस और इसी खेल में कभी धूमकेतु की तरह आए थे बोरिस बेकर. इस जर्मन खिलाड़ी ने सबसे कम उम्र में विंबलडन टाइटल जीत कर तहलका मचा दिया था. उन्होंने यह टाइटल साल 1985 में 7 जुलाई के रोज ही जीता था.

1. वे विंबलडन सिंगल्स टाइटल जीतने वाले सबसे नौजवान, पहले गैर-वरीयता और पहले जर्मन खिलाड़ी थे.

2. यह मैच 6 घंटे 22 मिनट तक चला और इतिहास का सबसे लंबा मैच रहा. उनके अपोजिट थे जॉन मैकनरो.

3. उन्होंने 6 ग्रैंड स्लैम, 49 सिंगल और 15 डबल टाइटिल अपने नाम किए.

4. उन्होंने साल 1992 में माइकल स्टिश के साथ ओलंपिक गोल्ड मेडल भी जीता.

5. अपने वक्त में दुनिया के नंबर 1 खिलाड़ी रहे बेकर इन दिनों मौजूदा नंबर 1 जोकोविज को कोचिंग दे रहे हैं.

6. वे कहते हैं कि खेलों के मामले में सबसे तकलीफदेह बात यही होती है. आम जिंदगी की बात करें तो हमने अभी अपना चरम नहीं छुआ है, लेकिन खिलाड़ियों के बीच हम बूढ़े हो चुके हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay