एडवांस्ड सर्च

आम लोगों की आवाज उठाने वाले साहित्‍य के भीष्‍म

हिंदी साहित्‍यकार, मशहूर पटकथा लेखक और अभिनेता भीष्‍म साहनी का जन्‍म साल 1915 में 8 अगस्‍त को हुआ था.

Advertisement
aajtak.in
ऋचा मिश्रा नई दिल्‍ली, 08 August 2016
आम लोगों की आवाज उठाने वाले साहित्‍य के भीष्‍म Bhisham Sahni

हिंदी साहित्‍यकार, मशहूर पटकथा लेखक और अभिनेता भीष्‍म साहनी का जन्‍म साल 1915 में 8 अगस्‍त को हुआ था.

1. 1998 में उन्‍हें साहित्‍य के लिए पद्मभूषण औश्र 2002 में साहित्‍य अकादमी फेलोशिप से नवाजा गया.

2. भारत-पाक विभाजन पर आधारित अपने उपन्‍यास तमस से उन्‍हें खास पहचान मिली. तमस में विभाजन के दौरान हुए दंगों का जिक्र है, जिसके गवाह खुद साहनी रहे थे.

3. उनके उपन्‍यास तमस पर निर्देशक निहलानी ने टीवी सीरियल बनाया. जो आज भी टेलीविजन के इतिहास में सर्वश्रेष्‍ठ सीरियलों में से एक गिना जाता है.

4. साहनी ने कई फिल्‍मों में भी काम किया, जिनमें मोहन जोशी हाजिर हो, लिटिल बुद्धा, मिस्‍टर एंड मिसेज अय्यर शामिल है.

5. उनके उपन्‍यासों की सूची में झरोखे, बसंती, 'मय्यादास की मंडी' और मशहूर कहानियों में 'पाली अमृतसर आ गया है' मशहूर है.

6. लेखक के अलावा आजादी से पहले वो कांग्रेस के सक्रिय कार्यकर्ता रहे और बाद में कम्‍युनिस्‍ट पार्टी से भी जुड़ गए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay