एडवांस्ड सर्च

16 साल की लड़की ने अपनी डायरी से दुनिया जीत ली...

'डायरी ऑफ ए यंग गर्ल' लिखने वाली एन फ्रैंक और उनका परिवार एमर्टडम में साल 1944 में 4 अगस्‍त को गिरफ्तार किया गया था.

Advertisement
aajtak.in
ऋचा मिश्रा नई दिल्‍ली, 04 August 2016
16 साल की लड़की ने अपनी डायरी से दुनिया जीत ली... Anne Frank

'डायरी ऑफ ए यंग गर्ल' लिखने वाली एन फ्रैंक और उनका परिवार एमर्टडम में साल 1944 में 4 अगस्‍त को गिरफ्तार किया गया था.

'मैं परेशानियों के बारे में कभी नहीं सोचती , बल्कि उन अच्‍छे पलों को याद करती हूं जो अब भी बाकी हैं.'

1. 16 बरस की उम्र में इस दुनिया से जाने के बावजूद जीना सिखाने वाली एन फ्रैंक का जन्‍म साल 1929 में हुआ था.

2. जब नीदरलैंड पर नाजी ने कब्‍जा कर लिया तो दो साल अपने परिवार के साथ छिपी रहीं.

3. इस डायरी में 12 जून 1942 से 1 अगस्‍त 1944 के बीच उनकी जिंदगी में जो घटा उसका ब्‍योरा है. यह डायरी उन्‍हें 13वें जन्‍मदिन पर तोहफे में मिली थी.

4. 'द डायरी' उनके पिता ने पहली बार 1947 में छापी. इसकी 3 करोड़ प्रतियां बिकी और 67 भाषाओं में अनुवाद हुआ .

5. बाद में उन्‍हें पकड़कर बर्गेन-बेल्‍सन प्रताड़ना केंद्र भेज दिया गया, जहां उनकी टाइफस की वजह से मौत हो गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay