एडवांस्ड सर्च

Advertisement

सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?

05 July 2018
सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?
1/9
2019 के चुनावी महाकुंभ में बीजेपी को परास्त करने के लिए तमाम विपक्षी दलों का मोर्चा बनाने की कोशिश जोरशोर से जारी है. देश के सात राज्यों की करीब 255 सीटों पर ऐसे चुनाव पूर्व महागठबंधन का खाका अमूमन तय हो चुका है. ये महागठबंधन हर राज्य की जरूरत के मुताबिक अलग-अलग होंगे.

सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?
2/9
इकोनॉमिक टाइम्स के अनुसार,  ये राज्य हैं- उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक, झारखंड, तमिलनाडु और जम्मू-कश्मीर. इन राज्यों में करीब 255 सीटें हैं जो लोकसभा की कुल संख्या के आधे से कुछ सीटें ही कम है.
साल 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को इनमें से करीब 150 सीटों पर जीत मिली थी. तमिलनाडु के अलावा बाकी राज्यों में जबर्दस्त मोदी लहर और विपक्ष के वोटों का विभाजन, बीजेपी की जीत के बड़े कारण थे.
सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?
3/9
तमिलनाडु में बीजेपी को सिर्फ एक सीट मिली थी, लेकिन वहां की 39 सीट में से AIADMK को 37 को मिली थी, जो एक तरह से बीजेपी की सहयोगी ही है. सूत्रों के मुताबिक इन राज्यों में गठबंधन की घोषणा और सीट साझेदारी के फॉर्मूल का ऐलान चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के बाद ही किया जाएगा. लेकिन सभी दल इस तरह से गठबंधन की कोशिश में लगे हैं कि वे एक-दूसरे के वोट पूल कर सकें. 
सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?
4/9
यह उसी तरह का व्यावहारिक बीजेपी विरोधी गठबंधन होगा, जैसा साल 2004 के चुनाव के पहले यूपीए ने एंटी बीजेपी गठबंधन बनाने में सफलता हासिल की थी. साल 2004 में भी तब गठबंधन ने किसी पीएम कैंडिडेट की घोषणा नहीं की थी, इस बार भी ऐसा ही किया जाएगा.
सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?
5/9
विपक्ष के एक प्रमुख नेता ने अखबार को बताया, 'इस बार भी जोर इस बात पर होगा कि ज्यादा से ज्यादा राज्यों में चुनाव पूर्व गठबंधन बनाया जाए. बाकी बचे राज्यों में चुनाव बाद गठबंधन बनाया जा सकता है.' बीजेपी के गढ़ में उसे रोकने पर जिस तरह से जोर दिया जा रहा है, उससे ऐसा लगता है कि विपक्षी दल सीटों के बंटवारे में व्यावहारिक रुख अपना रहे हैं. यूपी में सपा-बसपा सबसे बड़े हिस्सेदार होंगे तो कांग्रेस को आरएलडी के साथ छोटे साझेदार जैसी भूमिका स्वीकार करनी होगी.
सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?
6/9
मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में ही कांग्रेस, सपा और बीएसपी को कुछ सीटें दे सकती है, और यह कारगर रहा तो इसी फॉर्मूले को लोकसभा चुनाव में दोहराया जा सकता है.
बिहार में आरजेडी, कांग्रेस, एनसीपी, शरद यादव के लोकतांत्रिक जनता दल और जीतन राम मांझी का साथ आना तय है. आरजेडी ने इस गठबंधन में जेडीयू की घरवापसी की संभावना से इंकार किया है.
सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?
7/9
महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी तो साथ रहेंगे ही, इसमें आरपीआई, राजू शेट्टी के स्वाभिमानी पक्ष, बहुजन विकास आघाड़ी, सीपीएम, एसपी और आरपीआई को शामिल किया जा सकता है.
सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?
8/9
झारखंड में जेएमएम-कांग्रेस-आरजेडी और मरांडी की पार्टी के साथ महागठबंधन बन सकता है. कर्नाटक में जेडीएस और कांग्रेस के साथ ही बीएसपी को भी महागठबंधन में शामिल किया जा सकता है. तमिलनाडु में डीएमके-कांग्रेस गठबंधन के साथ ही कमल हासन जैसे अन्य नेताओं की छोटी पार्टियों को गठबंधन में शामिल किया जा सकता है.
सात राज्य, 255 सीटें, BJP विरोधी महागठबंधन का तैयार है खाका?
9/9
कश्मीर में पीडीपी सरकार गिरने के बाद कांग्रेस-नेशनल कॉन्फ्रेंस के बीच चुनावी गठजोड़ की संभावना बेहतर हो गई है. सिर्फ पश्चिम बंगाल में यह साफ नहीं हो पाया है कि कांग्रेस ममता के साथ गठबंधन में रहेगी या नहीं.

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay