एडवांस्ड सर्च

भारत ने कहा- आतंकवाद से समझौता नहीं, पाक PM बोले- शांति बहाली हमारी प्रतिबद्धता

भारत ने कहा कि वो पाकिस्तान के साथ अच्छे संबंध चाहता है वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि अब समय आ गया है कि झगड़े नहीं बल्कि शांति बहाली पर दोनों देश काम करें. फोटो: मोदी और उनके मंत्रियों का शपथ ग्रहणमिलिए नरेंद्र मोदी के कैबिनेट मंत्रियों सेये हैं 'मोदी कैबिनेट' के राज्य मंत्री... कैमरे में कैद हुए ये ऐतिहासिक पल...

Advertisement
आज तक वेब ब्‍यूरो [Edited By: स्‍वपनल सोनल]नई दिल्‍ली, 27 May 2014
भारत ने कहा- आतंकवाद से समझौता नहीं, पाक PM बोले- शांति बहाली हमारी प्रतिबद्धता पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से गर्मजोशी से हाथ मिलाते नरेंद्र मोदी

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ इस वक्‍त होटल ताज मानसिंह में शत्रुघ्‍न सिन्‍हा से मुलाकात कर रहे हैं. वे थोड़ी देर में मीडिया से बातचीत करेंगे. नवाज आज शाम वतन वापसी करने वाले हैं. हैदराबाद हाउस में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करने के बाद पाकिस्‍तान के PM पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से मुलाकात करने पहुंचे. करीब 15 मिनट की इस मुलाकात के बाद वापस होटल रवाना हो गए.

दूसरी ओर, नरेंद्र मोदी और पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के बीच 45 मिनट से अधिक समय तक बातचीत हुई. खबर है कि इस दौरान भारत की ओर से 26/11 के आतंकी हमले को लेकर चर्चा की गई. इससे पहले निर्धारित कार्यक्रम के तहत नवाज शरीफ लगभग 12:15 बजे हैदराबाद हाउस पहुंचे. दोनों देशों के प्रधानमंत्री ने हाथ मिलकार एक-दूसरे का गर्मजोशी के साथ अभिनंदन किया. इस दौरान दोनों ही शीर्ष नेताओं के चेहरे पर मुस्‍कान बनी हुई थी.

प्रधानमंत्री पद का कार्यभार संभालने के बाद नरेंद्र मोदी हैदराबाद हाउस में SAARC नेताओं से लगातार मुलाकात कर रहे हैं. इससे पहले उन्‍होंने नेपाल के प्रधानमंत्री सुशील कोइराला से मुलाकात की. दोनों नेताओं के बीच आपसी रिश्‍तों को और बेहतर बनाने को लेकर बातचीत हुई.

सुशील कोइराला से पहले नरेंद्र मोदी ने मॉरिशस के प्रधानमंत्री नवीन रामगुलाम से मुलाकात की. बताया जा रहा है कि इन मुलाकातों में आम मुद्दों पर चर्चा हो रही है और भविष्‍य में और बेहतर संबंधों को लेकर बातचीत हो रही है.

हैदराबाद हाउस में मुलाकातों का सिलसिला लगातार जारी है. विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात और बातचीत में हिस्‍सा ले रही हैं. नवीन रामगुलाम से पहले मोदी ने भूटान के प्रधानमंत्री ल्‍योनचेन शेरिंग और श्रीलंका के राष्‍ट्रपति महिंदा राजपक्षे से मुलाकात की.


SAARC देश के नेताओं से मुलाकात कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीलंका के राष्‍ट्रपति महिंदा राजपक्षे का गर्मजोशी से हाथ मिलाकर स्‍वागत किया. बातचीत में दोनों शीर्ष नेताओं ने मछुआरों की समस्‍या का हल ढूंढने पर जोर दिया. दोनों देश मामले में ज्‍वॉइंट कमिटी की बातचीत को आगे बढ़ाने और जारी रखने पर सहमत हुए. गौरतलब है कि महिंदा राजपक्षे की भारत यात्रा के विरोध में MDMK नेता वाइको ने सोमवार को जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन किया, जबकि चेन्‍नई में कई दलों ने सड़क पर उतरकर विरोध जताया.


मोदी ने मालदीव के राष्‍ट्रपति अब्‍दुल्‍ला यामीन से भी मुलाकात की. इससे पहले प्रधानमंत्री कार्यालय में पदभार संभालने के बाद नरेंद्र मोदी हैदराबाद हाउस पहुंचे. मोदी ने पहले से निर्धारित कार्यकम के तहत 9:30 बजे अफगानिस्‍तान के राष्‍ट्रपति हामिद करजई से मुलाकात की. मोदी के साथ ही विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज भी हैदराबाद हाउस पहुंचीं. हैदराबाद हाउस में ही 12:10 बजे प्रधानमंत्री SAARC देशों के नेताओं के साथ बैठक करेंगे.

नरेंद्र मोदी ने पदभार संभाला
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार सुबह अपना पदभार संभाल लिया है. पदभार संभालने के साथ ही मोदी SAARC देशों के साथ आज होने वाली बैठक पर रणनीति बनाने में जुट गए हैं. PMO में कुछ देर समय बिताने के बाद मोदी हैदराबाद हाउस के लिए निकल गए. आज दिल्‍ली के हैदराबाद हाउस में प्रधानमंत्री SAARC देशों के नेताओं से मुलाकात करेंगे, जिसमें पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भी शामिल हैं. यह बैठक दोपहर 12:10 बजे होगी.

गौरतलब है कि मोदी के मंत्रियों ने शपथ तो ग्रहण कर ली, लेकिन विभागों का बंटवारा अभी तक नहीं हुआ है. पहले खबर आ रही थी कि सुषमा स्‍वराज भी सुबह 8 बजे कार्यभार संभालेंगी. उन्‍हें विदेश मंत्रालय सौंपे जाने की चर्चा थी. लेकिन आज तक को मिली जानकारी के अनुसार सुषमा स्‍वराज फिलहाल सुबह 8 बजे कार्यभार नहीं संभालेंगी. वह सीधे हैदराबाद हाउस जाएंगी, जहां पर भारत और SAARC के अन्‍य देशों के साथ अलग-अलग बैठक होनी है.

वैसे तो शपथ ग्रहण के बाद से ही मोदी के मंत्रियों के मंत्रिमंडल को लेकर कयासों का बाजार गर्म हो गया था, लेकिन औपचारिक घोषणा नहीं की जाने की वजह से मंत्री असमंजस की स्थिति में फंसे हुए है.

दूसरी ओर, मोदी सरकार के कैबिनेट की पहली बैठक आज शाम 6 बजे होने वाली है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay