एडवांस्ड सर्च

लोकसभा चुनाव के नौ चरणों में रिकॉर्डतोड़ 66.38 प्रतिशत वोटिंग, यूपी में भारी मतदान

नौवें और अंतिम चरण का मतदान संपन्न होने के साथ ही लोकसभा चुनाव की मतदान प्रक्रिया सोमवार को पूरी हो गई. अब लोकसभा की 543 सीटों के लिए 16 मई को मतगणना होगी और परिणाम घोषित किए जाएंगे.

Advertisement
aajtak.in
आज तक वेब ब्‍यूरो [Edited By: कुलदीप मिश्र]नई दिल्‍ली, 13 May 2014
लोकसभा चुनाव के नौ चरणों में रिकॉर्डतोड़ 66.38 प्रतिशत वोटिंग, यूपी में भारी मतदान वाराणसी सीट को चर्चा में लाने वाले सियासी दिग्‍गज...

नौवें और अंतिम चरण का मतदान संपन्न होने के साथ ही लोकसभा चुनाव की मतदान प्रक्रिया सोमवार को पूरी हो गई. अब लोकसभा की 543 सीटों के लिए 16 मई को मतगणना होगी और परिणाम घोषित किए जाएंगे. अंतिम चरण में तीन राज्यों में करीब 60 फीसदी मतदान दर्ज किया गया. निर्वाचन आयोग ने कहा कि सोमवार को उत्तर प्रदेश में 18 सीटों, पश्चिम बंगाल में 17 और बिहार में छह सीटों के लिए मतदान संपन्न होने के साथ ही मतदान प्रक्रिया संपन्न हो गई. पांच सप्ताह तक चली मतदान प्रक्रिया में करीब 50 करोड़ मतदाताओं ने वोट डाले.

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में उत्तर प्रदेश की 18, पश्चिम बंगाल की 17 और बिहार की छह लोकसभा सीटें पर मतदान संपन्न हुआ. इस चरण में करीब 6.6 करोड़ मतदाताओं ने 606 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में बंद कर दिया. इसके लिए 71, 254 मतदान केंद्र बनाए गए थे.

अंतिम चरण में हालांकि कमोबेश सभी 41 सीटों पर कांटे की टक्कर मानी जा रही है लेकिन सभी निगाहें वाराणसी पर टिकी रही, जहां बीजेपी के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल के बीच सीधी टक्कर मानी जा रही है.

केजरीवाल ने दावा किया है कि वह मोदी को पराजित करने जा रहे हैं. केजरीवाल ने कहा, 'पिछले तीन दिनों में समीकरण पूरी तरह बदल गए हैं और अब सभी कह रहे हैं कि मोदी हार रहे हैं.'

उधर, भाजपा ने भी कहा कि मोदी भारी अंतर से चुनाव जीतेंगे. मोदी वड़ोदरा के साथ ही वाराणसी से भी चुनाव लड़ रहे हैं.

अधिकारियों ने इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ के साथ ही सभी 17 सीटों पर व्यापक मतदान होने की बात कही है. आजमगढ़ से पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव चुनाव लड़ रहे हैं.

उत्तर प्रदेश में जिन 18 सीटों पर मतदान हुआ उन पर अभी समाजवादी पार्टी (सपा) का छह सीटों पर, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का पांच, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का चार और कांग्रेस का तीन सीटों पर कब्जा है.

उत्तर प्रदेश में डुमरियागंज, महाराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बांसगांव, लालगंज, आजमगढ़, घोसी, सलेमपुर, बलिया, जौनपुर, मछलीशहर, गाजीपुर, चंदौली, वाराणसी, मिर्जापुर और रॉबर्ट्सगंज लोकसभा क्षेत्र में मतदान हुआ.

इस दौर के मतदान से जिन बड़े राजनेताओं के चुनावी भाग्य का फैसला ईवीएम में बंद हो गया उनमें भाजपा नेता नरेंद्र मोदी, सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव, आप के नेता अरविंद केजरीवाल, भाजपा नेता कलराज मिश्र, योगी आदित्यनाथ, ऐन चुनाव के वक्त पाला बदलने वाले जगदम्बिका पाल और केंद्रीय मंत्री आर.पी.एन. सिंह (कांग्रेस) शामिल हैं. इसके अलावा 328 अन्य उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में बंद हो गया.

बिहार की छह लोकसभा सीटों वाल्मीकि नगर, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, सीवान, गोपालगंज और वैशाली के लिए मतदान हुआ. फिलहाल इनमें से दो-दो सीटों पर भाजपा और जद(यू) का कब्जा है, वहीं राजद और निर्दलीय के पास एक-एक सीटें हैं. इस चरण में 90 उम्मीदवार मैदान में हैं.

पश्चिम बंगाल में सबसे अधिक वोटिंग हुई. यहां माकपा और तृणमूल कर्यकर्ताओं के बीच झड़प में 20 लोग घायल हो गए.

पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के पांचवें दौर में उत्तर और दक्षिण चौबीस परगना, नादिया, मुर्शिदाबाद, पूर्वी और पश्चिमी मिदनापुर और कोलकाता सहित कुल 17 लोकसभा सीटों के लिए मतदान हुआ. इसके लिए सात जिलों में 31 हजार से ज्यादा मतदान केंद्र बनाए गए थे. इन 17 सीटों में से फिलहाल तृणमूल कांग्रेस के पास 14 और कांग्रेस, भाकपा एवं निर्दलीय के पास एक-एक सीटें हैं.

इसके साथ ही सात अप्रैल से शुरू आम चुनाव की 35 दिनों तक चली मतदान प्रक्रिया 12 मई को पूरी हो गई. अब लोकसभा की 543 सीटों के लिए 16 मई को मतगणना की जाएगी और परिणाम घोषित किए जाएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay