एडवांस्ड सर्च

Advertisement

गूगल-ऐपल को टक्कर देने के लिए फेसबुक का ये नया प्लान

गूगल-ऐपल को टक्कर देने के लिए फेसबुक का ये नया प्लान
मुन्ज़िर अहमदनई दिल्ली, 20 April 2017

सोशल मीडिया दिग्गज फेसबुक ने दो दिन के डेवलपर कॉन्फ्रेंस F8 के दौरान कई अत्याधुनिक टेक्नॉलॉजी के लाने की तैयारी के बारे में बताया है. इस साल के आखिर तक फेसबुक और मैसेंजर प्लैटफॉर्म पर कई बदलाव मिलेंगे. वर्चुअल रियलिटी, ऑग्मेंटेड रियलिटी और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस- ये तीन तरीकों से फेसबुक गूगल और ऐपल को टक्कर दे सकता है. इतना ही नहीं स्टैंडअलोन ऐप सपोर्ट से स्मार्टफोन कंपनियों के ऐप मार्केट प्लेस का भी खेल खराब हो सकता है.

वर्चुअल दुनिया को कैसे असली दुनिया में मर्ज करें ये फेसबुक बखूबी जानता है. चाहे स्नैपचैट फिल्टर हो या फिर सोशल वर्चुअल रियलिटी हेडसेट के जरिए सोशल स्पेस पर जाना हो. कैमरा इफेक्ट प्लैटफॉर्म का दायरा बढ़ाया जा रहा है और इसमें लगातार नए प्रयोग किए जा रहे हैं.

फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने ऑग्मेंटेड रियलिटी कैमरा इफेक्ट प्लैटफॉर्म की भी शुरुआत की है . ये दरअसल टूल्स का हिस्सा जो डेवलपर्स को दिया जाएगा और वो फेसबुक के कैमरा प्लेटफॉर्म के लिए ऑग्मेंटेड रियलिटी ऐप बना सकें.

फेसबुक अपने प्लान और अत्याधुनिक टेक्नॉलॉजी से आने वाले समय में गूगल और ऐपल को कड़ी टक्कर दे सकता है. क्योंकि फेसबुक ऐसे ऐप्स और टूल्स डेवलप कर कर रहा है जो स्मार्टफोन के मार्केट प्लेस के भरोसे नहीं रहेंगे. यानी इंडिपेंडेट ऐप.

Facebook F8 डेवलपर कॉन्फ्रेंस की खास बातें जो हैरान करने वाली हैं


यहां क्लिक करें और पढ़ें फेसबुक के सीक्रेट प्रोजेक्ट Building8 के तहत तैयार की गई दिमाग पढ़ने वाली तकनीक के बारे में. 'सिर्फ सोचिए और स्क्रीन पर खुद टाइप होने लगेंगे शब्द'

Facebook F8 कॉन्फ्रेंस में हुए इन ऐलान ने टेक्नॉलॉजी जगत में मचाई हलचल, क्लिक करें और पढ़ें- ''वर्चुअल दुनिया में दोस्तों के साथ करें पार्टी, Facebook की 4 बड़ी घोषणाएं'

फेसबुक डेवलपर कॉन्फ्रेंस में कंपनी ने 24 लेंस वाला वर्चुअल रियलिटी कैमरा पेश किया है. क्लिक करें और पढ़ें- 'फेसबुक के इस खास कैमरे से आप खुद फिल्म सीन में जा सकते हैं'


टैग्स

Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay