एडवांस्ड सर्च

इंडिया टुडे ग्रुप ने प्रधानमंत्री को श्‍वेत पत्र सौंपा

इंडिया टुडे समूह के एडीटर-इन-चीफ अरुण पुरी की अगुवाई में समूह के वरिष्‍ठ संपादकों के एक दल ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को 'आतंकवाद के खिलाफ एलान-ए-जंग की कार्रवाई के एजेडें' की पहली प्रति सौंपी.

Advertisement
आज तक ब्‍यूरोनई दिल्‍ली, 14 January 2009
इंडिया टुडे ग्रुप ने प्रधानमंत्री को श्‍वेत पत्र सौंपा प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ अरुण पुरी

इंडिया टुडे समूह के एडीटर-इन-चीफ अरुण पुरी की अगुवाई में समूह के वरिष्‍ठ संपादकों के एक दल ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को 'आतंकवाद के खिलाफ एलान-ए-जंग की कार्रवाई के एजेडें' की पहली प्रति सौंपी. 26 नवंबर 2008 को मुंबई में हुए आतंकवादी हमले के बाद 72 पृष्‍ठों वाली इस श्‍वेत पत्र को गहन विचार विमर्श के बाद तैयार किया गया है. यह पत्र एक सभ्‍य समाज बनाने को लेकर बनाया गया है, जिसमें मुंबई में हुई ग‍लतियों पर दोषारोपण करने के बजाए इसमें यह तय करने का प्रयास किया गया है कि अब क्‍या किया जाना चाहिए.

मुंबई में हुए आतंकी हमले के बाद आम जनता का गुस्‍सा फूट पड़ा था. इसके बाद आतंकवाद के खिलाफ टीवी, सेमिनार, अखबार और पत्रिकाओं में ना जाने कितनी बहसें हुई. इंडिया टुडे समूह- जिसमें इंडिया टुडे साप्‍ताहिक, आज तक और हेडलाइंस टुडे टीवी चैनल एवं डेली मेल टुडे ने मिलकर 'आतंकवाद के खिलाफ एलान-ए-जंग' नाम से एक मुहिम चलाई. इस मुहिम में आम जनता से उनके सवाल और सुझाव मांगे गए थे, जो आतंकवाद से लड़ने वाले विशेषज्ञों के पैनल की देख रेख में संकलित किया गया.

इस मुहिम में शामिल हुए लोगों ने अपने सुझाव देकर आतंकवाद से लड़ने का रास्‍ता दिखाया. उनके सुझावों को हमारे विशेषज्ञों के पैनल एवं हमारे समूह के संपादकों ने अध्‍ययन कर 12 मुख्‍य बिंदुओं की ओर ध्‍यान दिलाया, जहां बदलाव की सख्‍त जरूरत है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay