एडवांस्ड सर्च

Advertisement
Sahitya Aajtak 2018

कॉनक्लेव 2017: सच के लिए आवाज उठानी चाहिए: अनुष्का शर्मा

aajtak.in [Edited By: स्वाति पांडेय]नई दिल्ली, 18 March 2017

इंडिया टुडे कॉनक्लेव 2017 में अनुष्का शर्मा दूसरी बार शामिल हुईं. एक्ट्रेस और फिल्मी करियर में बहुत जल्दी प्रोड्यूसर बनने को वह अपनी एम्पावरमेंट जर्नी के पड़ाव मानती हैं.इंडिया टुडे कॉनक्लेव 2017 में Settle for more सेशन की शुरुआत उन्होंने एम्पावरमेंट को लेकर मेसेज देने से की. इसमें अनुष्का शर्मा ने परवरिश का भी अहम रोल बताया.कॉनक्लेव 2017 में बोलते हुए अनुष्का शर्मा ने कहा- बचपन में दिमाग कच्चा होता है. इस उम्र में यह जो सीखता है वही हमारी पर्सनैलिटी के रूप में उभरता है. समय के साथ हमें अपनी परवरिश की अहमियत पता लगती है. इसी से सोच तय होती है और इसी से हमारा माहौल बनता है.एम्पावरमेंट को लेकर अनुष्का ने कहा कि सही के लिए उठना भी मजबूत होने की एक निशानी है. अगर कुछ गलत होता है तो उसे कभी नहीं स्वीकारना चाहिए. 

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay