एडवांस्ड सर्च

हरियाणा-महाराष्ट्र में दोनों CM नए थे, फिर भी दोबारा जीतने पर हमें गर्व है: PM मोदी

बीजेपी 90 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत हासिल नहीं कर सकी है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य से मुलाकात करेंगे. बीजेपी ने 40 सीटों पर जीत हासिल की है लेकिन दो को छोड़कर इसके सभी मंत्री हार गए हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 25 October 2019
हरियाणा-महाराष्ट्र में दोनों CM नए थे, फिर भी दोबारा जीतने पर हमें गर्व है: PM मोदी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (BJP Live फोटो)

  • हरियाणा अपने आप में एक अभूतपूर्व विजय है: पीएम
  • हमें जो आशीर्वाद मिला है, उसके लिए धन्यवाद देता हूं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार शाम दिल्ली में बीजेपी मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. उन्होंने हरियाणा और महाराष्ट्र में बीजेपी को बड़े दल के रूप में जीत दर्ज करने पर बधाई दी और कहा कि दोनों राज्यों में मुख्यमंत्री नए थे, इसके बावजूद दोनों का जीत कर आना पार्टी के लिए गर्व की बात है.

प्रधानमंत्री ने कहा, महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस और हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर का पहला अनुभव था, दोनों नेता कभी किसी सरकार में मंत्री भी नहीं रहे. महाराष्ट्र में पिछली बार बीजेपी को पूर्ण बहुमत भी नहीं मिला और हरियाणा में बहुमत से मात्र दो सीटें ज्यादा थीं. इसके बावजूद दोनों नेताओं ने अपने अपने राज्य में खूब काम किया जिसका परिणाम है कि जनता ने उन्हें दोबारा बीजेपी पर विश्वास जताया है. पीएम मोदी ने कहा, दिवाली आरंभ होने से पूर्व ही हरियाणा और महाराष्ट्र के लोगों ने हमारी पार्टी के प्रति जो विश्वास जताया है, हमें जो आशीर्वाद दिया है, उसके लिए धन्यवाद देता हूं.

प्रधानमंत्री ने कहा, महाराष्ट्र में गत 50 वर्ष में एक भी मुख्यमंत्री लगातार पूरे 5 वर्ष तक सेवा नहीं कर पाया. 5 वर्ष तक मुख्यमंत्री के रूप में लगातार कार्य करने का काम 50 वर्ष बाद देवेंद्र फडणवीस ने किया. जो लोग हरियाणा की राजनीति जानते हैं उनको पता है कि किसी भी दल के साथ हमें समझौता अगर करना होता था तो ज्यादातर उन दलों की टर्म एंड कंडीशन पर कभी 5 तो कभी 10 सीटों पर और वो भी जो वो कहें उन सीटों पर लड़ना पड़ता था. 2014 के पहले तक ये हमारी स्थिति थी, वैसी स्थिति में से जिस प्रकार से हमारी नई टीम को पांच साल वो भी सिर्फ दो का बहुमत था. इन सबके बावजूद पांच वर्ष काम करके फिर से आना हरियाणा के बीजेपी को जितनी बधाई दें उतनी कम है.

बीजेपी 90 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत हासिल नहीं कर सकी है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य से मुलाकात करेंगे. बीजेपी ने 40 सीटों पर जीत हासिल की है लेकिन दो को छोड़कर इसके सभी मंत्री हार गए हैं. इन दो में अनिल विज और राज्य पार्टी प्रमुख सुभाष बराला शामिल हैं. बीजेपी की प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस ने 31 सीटों पर जीत हासिल की है, जबकि जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) ने 10 सीटों पर जीत हासिल की है. निर्दलीयों सहित नौ अन्य ने भी चुनावों में जीत हासिल की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay