एडवांस्ड सर्च

6 पोलिंग बूथ ऐसे भी जहां वोट डालने नहीं आया एक भी इंसान

ओडिशा में मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मल्कानगिरी जिले के चित्रकोंडा में छह बूथों पर लोग मतदान करने नहीं आए. बताया जा रहा है कि नक्सलियों के भय की वजह से इन मतदान केंद्रों पर वोट नहीं पड़े.

Advertisement
aajtak.in [Edited by: वरुण शैलेश]मल्कानगिरी, 11 April 2019
6 पोलिंग बूथ ऐसे भी जहां वोट डालने नहीं आया एक भी इंसान प्रतिकात्मक तस्वीर (PIB)

लोकसभा चुनाव के लिए गुरुवार को पहले चरण में 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों और चार राज्यों की विधानसभा सीटों पर मतदान हुए. 91 लोकसभा सीटों पर कुल 1,279 उम्मीदवार चुनाव में हिस्सा ले रहे हैं. लेकिन ओडिशा के छह बूथ ऐसे भी हैं जहां एक भी वोट नहीं पड़े. राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है. ओडिशा में मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मल्कानगिरी जिले के चित्रकोंडा में छह बूथों पर लोग मतदान करने नहीं आए. बताया जा रहा है कि नक्सलियों के भय की वजह से इन मतदान केंद्रों पर वोट नहीं पड़े.

ओडिशा में गुरुवार को पहले चरण के मतदान में लोकसभा और विधानसभा सीटों के लिए पहले छह घंटे में करीब 41 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) सुरेंद्र कुमार ने बताया कि बूथ स्तर से प्राप्त जानकारी के अनुसार, अपरान्ह एक बजे तक लगभग 41 फीसदी मतदान दर्ज किया गया है.

चार संसदीय क्षेत्रों कालाहांडी, नबरंगपुर, बेरहामपुर व कोरापुट और इन लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले 28 विधानसभा क्षेत्रों में वोट डाले गए. सीईओ ने कहा, "28 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में से 20 निर्वाचन क्षेत्रों में शाम चार बजे तक मतदान प्रक्रिया चली. क्योंकि ये नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के अंतर्गत आते हैं. बाकी आठ निर्वाचन क्षेत्रों में, मतदान शाम छह बजे तक मतदान चला. हालांकि, कतार में लगे लोग निर्धारित समय के बाद भी वोट डाल सकते हैं."

उन्होंने कहा कि मतदान प्रक्रिया सुचारू रूप से चल रही है. नक्सल प्रभावित इलाकों में सुरक्षा के खास बंदोबस्त किए गए हैं. हालांकि, भवानीपटना विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में भेजिपदर गांव के 666 मतदाताओं ने अपने गांव को अच्छी सड़क उपलब्ध कराने में विफल रहने के लिए स्थानीय प्रशासन के प्रति विरोध जताते हुए चुनाव का बहिष्कार किया.

पहले चरण में, कुल 60,03,707 मतदाताओं में 29,72,925 पुरुष, 30,30,222 महिलाएं और 560 ट्रांसजेंडर शामिल हैं जो 7,233 बूथों पर वोट डालने के लिए पात्र हैं. पहले चरण में जहां चार लोकसभा सीटों के लिए 26 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं वहीं, 28 विधानसभा सीटों के लिए 191 उम्मीदवार हैं. ओडिशा में लोकसभा और राज्य विधानसभा के चुनाव 11, 18, 23 और 29 अप्रैल को चार चरणों में होंगे. मतगणना 23 मई को होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay