एडवांस्ड सर्च

हिंसा पर चुनाव आयोग का बड़ा एक्शन, पूर्वोत्तर की इस सीट पर दोबारा होगा मतदान

चुनाव आयोग ने अपने फैसले में बताया कि 12 मई को जब देश में छठे चरण का मतदान हो रहा होगा, तभी सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक दोबारा मतदान कराया जाएगा.

Advertisement
aajtak.in
संजय शर्मा नई दिल्ली, 08 May 2019
हिंसा पर चुनाव आयोग का बड़ा एक्शन, पूर्वोत्तर की इस सीट पर दोबारा होगा मतदान त्रिपुरा वेस्ट सीट पर दोबारा होगा मतदान

पूर्वोत्तर के त्रिपुरा राज्य में 11 अप्रैल को हुए मतदान के दौरान हुई हिंसा पर चुनाव आयोग ने बड़ा एक्शन लिया है. चुनाव आयोग ने बुधवार सुबह फैसला सुनाते हुए त्रिपुरा वेस्ट सीट के 168 पोलिंग बूथों का मतदान रद्द कर दिया है. अब इन सभी बूथों पर 12 मई को दोबारा मतदान कराया जाएगा. चुनाव आयोग ने हवाला दिया है कि यहां मतदान के दिन हुई हिंसा से वोटिंग प्रभावित होने का डर है, इसी वजह से ये कदम उठाना पड़ा है.

चुनाव आयोग ने अपने फैसले में बताया कि 12 मई को जब देश में छठे चरण का मतदान हो रहा होगा, तभी सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक दोबारा मतदान कराया जाएगा.

बता दें कि 11 अप्रैल को पहले चरण में इस सीट पर मतदान हुआ था और कुल 81.8 फीसदी वोट डाले गए थे. गौरतलब है कि त्रिपुरा हमेशा देश के उन राज्यों में शामिल रहता है, जहां पर बंपर मतदान होता है.

चुनावी हिंसा से हुआ था बवाल

त्रिपुरा में लेफ्ट का गढ़ खत्म करने के बाद बीजेपी ने राज्य में अपनी सरकार बनाई, जिसके बाद राज्य में हो रहा ये पहला चुनाव था. मतदान के दौरान सीपीआई ने आरोप लगाया था कि कुछ जगह पर बीजेपी के गुंडों ने लेफ्ट कार्यकर्ताओं और समर्थकों को मतदान नहीं करने दिया था. इसी वजह से यहां पर विवाद गरमाता जा रहा था. इतना ही नहीं, लेफ्ट और बीजेपी के कार्यकर्ताओं में इस सीट पर हाथापाई भी हुई थी.

कुल 16 उम्मीदवार मैदान में

आपको बता दें कि इस बार त्रिपुरा वेस्ट से चुनावी समर में 16 उम्मीदवार मैदान में हैं. कांग्रेस ने सुबल भौमिक, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने प्रतिमा भौमिक, सीपीआई ने अपने निवर्तमान सांसद शंकर प्रसाद दत्ता को टिकट दिया है. ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी की ओर से मामन खान मैदान में हैं. 7 निर्दलीय प्रत्याशी भी मैदान में हैं.

2014 चुनाव के नतीजे

2014 के लोकसभा चुनाव में त्रिपुरा वेस्ट सीट से सीपीएम के शंकर प्रसाद दत्ता ने जीत दर्ज की थी. उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी और कांग्रेस प्रत्याशी अरुणोदय साहा को 5 लाख 3 हजार 486 वोटों से करारी मात दी थी. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में शंकर प्रसाद दत्ता को 6 लाख 71 हजार 665 वोट मिले थे, जबकि कांग्रेस प्रत्याशी सचित्र देवबर्मन को एक लाख 68 हजार 179 वोट मिले थे.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़ लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay