एडवांस्ड सर्च

TMC सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी को गृह मंत्रालय का नोटिस, तथ्य छुपाने को लेकर सवाल

TMC सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी को तथ्य छुपाने और झूठा प्रतिवेदन पेश करने के आरोप में गृह मंत्रालय ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

Advertisement
aajtak.in
इंद्रजीत कुंडू/ खुशदीप सहगल नई दिल्ली, 03 April 2019
TMC सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी को गृह मंत्रालय का नोटिस, तथ्य छुपाने को लेकर सवाल TMC सांसद अभिषेक बनर्जी

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है. उन पर ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया (ओसीआई) कार्ड हासिल करने के लिए तथ्य छुपाने और झूठा प्रतिवेदन पेश करने के आरोप हैं. अभिषेक बनर्जी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे हैं.

गृह मंत्रालय का नोटिस विदेशी प्रभाग की ओर से 29 मार्च को रूजिरा नरूला को जारी किया गया. रुजिरा थाईलैंड की नागरिक हैं और उन्हें बैंकॉक में भारतीय दूतावास की ओर से 2010 में पीआईओ कार्ड जारी किया गया. इसमें उनके पिता का नाम निफोन नरूला बताया गया था.

नोटिस के मुताबिक, जब रूजिरा ने अपने पीआईओ कार्ड को ओसीआई कार्ड में तब्दील कराने के लिए 2017 में कोलकाता में FRRO ऑफिस में आवेदन किया तो उन्होंने अपने विवाह के सर्टिफिकेट में उल्लेख किया कि उनके पिता दिल्ली राजौरी गार्डन के निवासी गुरशरण सिंह आहूजा हैं.

f04d2ad6-875e-458d-942e-0ad0e9a98a13_040319033900.jpgगृह मंत्रालय का नोटिस

1eecfaa5-a76d-43ac-8699-4f7801259a13_040319033922.jpgकारण बताओ नोटिस

गृह मंत्रालय ने इस विसंगति पर जोर देते हुए लिखा है कि “केंद्र सरकार ने इस मामले का निरीक्षण किया और ऊपर दी गईं इन विसंगतियों का संज्ञान लिया. प्रथम दृष्टया ऐसी राय है कि रुजिरा नरूला जो ओसीआई कार्ड होल्डर हैं उनका रजिस्ट्रेशन रद्द करने लायक है. ये सिटीजन एक्ट 1955 के सेक्शन 7D की उप-धारा  (a) और (e) के हित में है.”  

नोटिस में कहा गया कि “केंद्र सरकार को आगे बताया गया कि 14 नवंबर 2009 को रुजिरा नरूला ने फॉर्म 49A के जरिए PAN कार्ड के लिए आवेदन किया, लेकिन अपने थाई नागरिक होने और ओसीआई कार्ड होल्डर होने की जानकारी नहीं दी. साथ ही अपने पिता का नाम गुरशरण सिंह आहूजा बताया. नियमों के मुताबिक, उन्हें PAN के लिए 49AA फॉर्म भरना था और ये जानकारी देनी थी कि वे ओसीआई कार्ड धारक विदेशी हैं. उन्होंने फॉर्म 49A में दी गई जानकारी के आधार पर भारतीय नागरिक रुजिरा नरूला के नाम से PAN कार्ड नंबर******* हासिल कर लिया.”

नोटिस पर भारत सरकार के डिप्टी सेक्रेटरी मनोज कुमार झा के हस्ताक्षर हैं. सांसद की पत्नी को नोटिस का जवाब देने के लिए 15 दिन का वक्त दिया गया है. उनसे पूछा गया है कि “क्यों उन्होंने झूठा प्रतिवेदन किया, साथ ही क्यों ओसीआई और PAN कार्ड हासिल करने के लिए दस्तावेज दाखिल करते वक्त तथ्यों को छुपाया.”

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay