एडवांस्ड सर्च

अजित सिंह के बिगड़े बोल- PM नरेंद्र मोदी को बैल, योगी आदित्यनाथ को बछड़ा और ईरानी को गाय कहा

रालोद अध्यक्ष अजित सिंह ने कोसीकलां कस्बे में किसानों से संवाद कार्यक्रम के दौरान कहा कि प्रजातंत्र की बहुत बड़ी खूबी है कि यदि देश को कोई गलत प्रधानमंत्री मिल जाए तो पांच साल में उसकी छुट्टी करने का अधिकार आपके पास है.

Advertisement
aajtak.in [Edited by:पन्ना लाल]मथुरा, 11 January 2019
अजित सिंह के बिगड़े बोल- PM नरेंद्र मोदी को बैल, योगी आदित्यनाथ को बछड़ा और ईरानी को गाय कहा फोटो- इंडिया टुडे आर्काइव

राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष अजित सिंह ने बृहस्पतिवार को यहां एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के लिए ‘‘बैल, बछड़ा और गाय’’ जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया जिससे विवाद खड़ा हो गया है. भाजपा के एक नेता ने बयान को अशोभनीय बताते हुए रालोद अध्यक्ष से माफी मांगने को कहा.

रालोद अध्यक्ष अजित सिंह ने कोसीकलां कस्बे में ‘किसानों से संवाद’ कार्यक्रम के दौरान कहा कि प्रजातंत्र की बहुत बड़ी खूबी है कि यदि देश को कोई गलत प्रधानमंत्री मिल जाए तो पांच साल में उसकी छुट्टी करने का अधिकार आपके पास है.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं आजकल अखबारों में पढ़ रहा हूं कि आजकल आपके गाय-बैल-बछड़े खूब घूम रहे हैं. इन्हें आप लोग स्कूल-कॉलेजों में बंद कर रहे हो. जिन्हें लोग कहते हैं कि ये मोदी-योगी घूम रहे हैं, सच है क्या?’’ सिंह ने कहा, ‘‘कुछ लोग तो यह भी कहते हैं कि हट्टी-कट्टी गाय आ गई. स्मृति ईरानी भी घूम रही है.’’ रालोद अध्यक्ष ने अपने पूरे भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने ‘मोदी - हाय, हाय’ और ‘मोदी- बाय, बाय’ के नारे भी लगाए व जनता से लगवाए.

उन्होंने किसानों की समस्याओं से लेकर नोटबंदी से व्यापारियों को होने वाली परेशानियों के लिए भी मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया.

रालोद मुखिया अजित सिंह के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय नेता योगेश गोस्वामी ने कहा, ‘‘यह बेहद असभ्य एवं अशोभनीय वक्तव्य है. वैसे भी, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री एवं कपड़ा मंत्री संवैधानिक पदों पर बैठे राजनीतिक लोग हैं, जिन पर अभद्र टिप्पणी करना देश के संविधान के अपमान के समान है.’’ उन्होंने कहा कि वैसे भी किसी भी महिला के प्रति इस प्रकार की टिप्पणी करना भारतीय संस्कृति के खिलाफ है और किसी भी राजनीतिक दल के मुखिया को ऐसा करना शोभा नहीं देता. उन्होंने कहा कि अजित सिंह को इसके लिए भाजपा नेताओं से माफी मांगनी चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay