एडवांस्ड सर्च

राजा भैया बोले-मुझे दबंग या बाहुबली जो टाइटल मिले, मुझे ऐतराज नहीं

जनसत्ता दल लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष और वर्तमान विधायक रघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया इन दिनों चुनाव प्रचार में मशगूल हैं. प्रतापगढ़ के रानीगंज में राजा भैया के रोड शो के दौरान 'आजतक' ने राजनीति से जुड़े मुद्दों पर 'आजतक'  ने की उनसे खास बातचीत.

Advertisement
कुमार विक्रांत [Edited by: राहुल झारिया]प्रतापगढ़, 09 May 2019
राजा भैया बोले-मुझे दबंग या बाहुबली जो टाइटल मिले, मुझे ऐतराज नहीं रघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया

जनसत्ता दल लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष और वर्तमान विधायक रघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया इन दिनों चुनाव प्रचार में मशगूल हैं. भरी दोपहर में प्रतापगढ़ के रानीगंज में 'आजतक' राजा भैया के रोड शो की कवरेज के लिए पहुंचा.

रोड शो के दौरान काफिले में राजा भैया की गाड़ी से आगे की फिल्म कलाकार राजपाल यादव की गाड़ी थी. राजपाल यहां राजा भैया की पार्टी का प्रचार करने पहुंचे हैं. इस दौरान वहां मौजूद लोग राजपाल के साथ सेल्फी लेते नजर आए. वहीं, उनके काफिले की कार की आगे की सीट पर राजा भैया और पीछे की सीट पर प्रतापगढ़ से उनकी पार्टी के उम्मीदवार अक्षय प्रताप सिंह नजर आए. अक्षय प्रताप सिंह 2004 में भी सांसद रह चुके हैं.

आजतक से बातचीत में रघुराज प्रताप ने कहा कि पांच सालों से में बतौर निर्दलीय उम्मीदवार जीत रहा हूं. समर्थकों ने कहा तो पार्टी बना ली. चुनावों में वक्त कम है इसलिए कौशाम्बी और प्रतापगढ़ लोकसभा क्षेत्र पर प्रत्याशी उतारे हैं. कौशाम्बी लोकसभा क्षेत्र में वोटिंग हो गई. वहां से हम जीत रहे हैं. प्रतापगढ़ में भी जनता का आशीर्वाद मिल रहा है.

उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा गठबंधन पर राजा भैया ने कहा कि मुलायम सिंह से मेरे हमेशा अच्छे संबंध थे और रहेंगे. मैं उनका सम्मान करता हूं, लेकिन अखिलेश ने जब बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के साथ जाने का फैसला किया तो तमाम समाजवादी पार्टी (सपा) के लोगों को उनका ये फैसला ठीक नहीं लगा. फिर बसपा के आगे मैं तब नहीं झुका तो अब क्यों? राजा भैया ये बताना नहीं भूलते कि यहां से बसपा का उम्मीदवार है, सपा का नहीं.

बसपा सुप्रीमो मायावती द्वारा 'कुंडा का गुंडा' कहे जाने पर राजा भैया ने कहा कि कि मेरी और मायावती की विचारधारा की लड़ाई है. मैंने उनको कभी व्यक्तिगत अपशब्द नहीं कहे.

राजा भैया पर विरोधियों ने कई बार आरोप लगाए हैं कि उन्होंने अपने बेथी महल की झील में मगरमच्छ पाल रखे हैं, जिसमें वह अपने दुश्मनों को फिंकवा देते हैं. इस बारे में पूछने पर राजा भैया ने बताया कि मेरे तालाब में कोई मगरमच्छ नहीं रहे. आप मीडिया के लोग कभी भी आकर देख लीजिए.

ये भी पढ़ें- विधायक राजा भैया के खिलाफ बड़ा एक्शन, 6 मई को वोटिंग के दिन रहेंगे नजरबंद

दबंग और बाहुबली कहे जाने पर राजा भैया ने कहा कि फिल्मों के टाइटल आते हैं तो आप मीडिया वाले लगा देते हैं. पहले दबंग फिल्म आई फिर साउथ की फिल्म बाहुबली आई. लेकिन मैं जनता की लड़ाई सड़क पर लड़ता था और लड़ता रहूंगा. इसके लिए मुझे दबंग या बाहुबली जो टाइटल मिले, मुझे ऐतराज नहीं.

चुनाव बाद किसके साथ जाऊंगा ये सवाल पूछने पर राजा भैया ने जवाब दिया कि मुझे जनता के हितों के साथ रहना है. निर्दलीय रहते हुए कई बार किसी का साथ दिया तो कई बार अकेले भी रहा.

ये भी पढ़ें- मायावती के करीब आकर राजा भैया के खिलाफ और तल्ख हुए अखिलेश के तेवर

आगे उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी की मजबूती के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रतापगढ़ आना पड़ा. ये हमारा सौभाग्य है. प्रियंका समत तमाम नेता अपनी पार्टी का प्रचार करने आते हैं. बड़ा सवाल ये है कि, जनता के बीच रोज सुख-दुख में कौन साथ रहेगा.

वहीं उनके लिए प्रचार करने पहुंचे फिल्म अभिनेता राजपाल यादव ने बताया कि हम राजा भैया के हाथ मजबूत करने आए हैं. लोगों से अपील है कि 12 मई को वोट दें.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़ लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay