एडवांस्ड सर्च

विपक्षी नेताओं से दोस्ती पर बोले पीएम मोदी- गुलाम नबी अच्छे दोस्त, ममता दीदी भेजती हैं कुर्ते

पीएम मोदी ने राजनीतिक लोगों से अपने रिश्तों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि आपको हैरानी होगी, इससे शायद मुझे चुनाव में नुकसान होगा. लेकिन ये ममता दीदी साल में आज भी मेरे लिए एक-दो कुर्ते भेजती हैं. बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना जी साल में 3-4 बार खास तौर पर ढाका से मिठाई भेजती हैं. ममता दीदी को पता चला तो वो भी साल में एक-दो बार मिठाई जरूर भेज देती हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 24 April 2019
विपक्षी नेताओं से दोस्ती पर बोले पीएम मोदी- गुलाम नबी अच्छे दोस्त, ममता दीदी भेजती हैं कुर्ते File Picture: PTI

विपक्षी नेताओं के साथ दोस्ती के बारे में बताते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'हम लोग साल में एक दो बार साथ में बैठकर खाना भी खाते हैं. खैर वह फॉर्मल होता है. बहुत पहले की बात है. तब तो मैं सीएम भी नहीं था. तब मैं किसी काम से पार्लियामेंट गया हुआ था. वहां गुलाम नबी आजाद और मैं बड़े दोस्ताना अंदाज में गप्पे मार रहे थे. फिर हम बाहर निकले, मीडिया वालों ने पूछा-अरे आप लोग ऐसे कैसे बात कर रहे हो, तुम तो आरएसएस वाले हो, गुलाम नबी आजाद से तुम्हारी दोस्ती कैसे हो गई. फिर गुलाम नबी ने अच्छा जवाब दिया. हम दोनों वहीं खड़े थे. वो बोले- देखो भाई बाहर आप लोग जो सोचते हो वैसा नहीं है. शायद हम लोग फैमली के रूप में जितने जुड़े हुए हैं, सभी दल के लोग, वो शायद आप लोग सोच नहीं सकते हैं. '

पीएम मोदी ने राजनीतिक लोगों से अपने रिश्तों के बारे में जानकारी देते हुए बताया, 'आपको हैरानी होगी, इससे शायद मुझे चुनाव में नुकसान होगा. लेकिन ये ममता दीदी साल में आज भी मेरे लिए एक-दो कुर्ते भेजती हैं. बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना जी साल में 3-4 बार खास तौर पर ढाका से मिठाई भेजती हैं. ममता दीदी को पता चला तो वो भी साल में एक-दो बार मिठाई जरूर भेज देती हैं.'

एक सवाल पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'मेरे लिए कभी कोई कहेगा की मुझे गुस्सा आता है ये सरप्राइज होगा.  राजी, नाराजगी और गुस्सा ये सब जीवन का हिस्सा है. मैं सख्त हूं, अनुशासित हूं लेकिन कभी किसी को नीचा दिखाने का काम नहीं करता.' इसी तरह प्रधानमंत्री बनने के सवाल पर उन्होंने कहा, ' कभी मेरे मन में प्रधानमंत्री बनने का विचार नहीं आया और सामान्य लोगों के मन में ये विचार आता भी नहीं हैं, और मेरा जो फैमिली बैकग्राउंड हैं उसमें मुझे कोई छोटी नौकरी मिल जाती तो मेरी मां उसी में पूरे गांव को गुड़ खिला देती.

बता दें कि अभिनेता अक्षय कुमार ने मंगलवार को ट्वीट कर प्रधानमंत्री के साथ बातचीत किए जाने की जानकारी दी थी. उन्होंने ट्वीट कर बताया कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बुधवार को ‘निष्पक्ष और पूरी तरह से गैर राजनीतिक’ बातचीत करेंगे. एक दिन पहले अक्षय ने ट्वीट कर बताया था कि वह कुछ ‘अनोखा करने जा रहे हैं, जो उन्होंने पहले कभी नहीं किया.’ उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ उनकी बातचीत चुनाव के समय में ‘सुकून भरा माहौल’ देगी. कुमार ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर लिखा, ‘देश में जहां हर ओर चुनाव और राजनीति की बात हो रही है, यहां आप चैन की सांस ले सकेंगे. हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ निष्पक्ष और पूरी तरह गैर राजनीतिक बातचीत करने का अवसर पाकर मैं गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay