एडवांस्ड सर्च

अमेठी-वायनाड से हार रहे राहुल, अगली बार पड़ोसी मुल्क में सीट तलाशें: पीयूष गोयल

पीयूष गोयल ने कहा कि अमेठी में स्मृति ईरानी उन्हें (राहुल गांधी) हराने जा रही हैं और वायनाड में भी हार होगी. इसलिए चुनाव लड़ने के लिए उन्हें किसी पड़ोसी मुल्क की सीट तलाशनी होगी.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 21 April 2019
अमेठी-वायनाड से हार रहे राहुल, अगली बार पड़ोसी मुल्क में सीट तलाशें: पीयूष गोयल केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (फोटो-इंडिया टुडे आर्काइव)

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अगला चुनाव किसी पड़ोसी मुल्क से लड़ेंगे क्योंकि अमेठी और वायनाड दोनों सीटों पर उन्हें करारी हार मिलने जा रही है. न्यूज एजेंसी एएनआई ने गोयल के हवाले से लिखा, 'अमेठी में स्मृति ईरानी उन्हें (राहुल गांधी) हराने जा रही हैं और वायनाड में भी हार होगी. इसलिए चुनाव लड़ने के लिए उन्हें किसी पड़ोसी मुल्क की सीट तलाशनी होगी.'

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता पीयूष गोयल ने कहा कि राहुल गांधी को लेफ्ट दलों के खिलाफ बोलने की हिम्मत नहीं है जबकि वे वायनाड में सीपीआई के खिलाफ ही चुनाव मैदान में हैं. गोयल ने कहा, 'हमने सीताराम येचुरी के साथ राहुल गांधी की कई तस्वीरें देखी हैं. जब उन्हें लगा कि अमेठी में स्मृति ईरानी हरा देंगी तो वे वायनाड भाग गए. वायनाड में वे लेफ्ट के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं मगर कह रहे हैं कि उनकी आलोचना नहीं करेंगे. वे इतना डरे हुए हैं. लोकतंत्र में अगर कोई नेता विपक्ष के खिलाफ नहीं बोल पाएगा तो वह देश की सेवा करने के योग्य नहीं होगा.'

इस महीने वायनाड से पर्चा भरने के बाद राहुल गांधी ने कहा था कि वे अपने पूरे कैंपेन में सीपीएम के खिलाफ एक शब्द नहीं बोलेंगे. पत्रकारों से राहुल गांधी ने कहा, 'मैं यहां एकता का संदेश देने आया हूं.' वायनाड में राहुल गांधी के खिलाफ लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट ने अपने बड़े सीपीआई नेता पीपी सुनीर को मैदान में उतारा है.

इससे पहले बीजेपी ने शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर उनके चुनावी शपथ-पत्र में नागरिकता और शैक्षणिक योग्यता को लेकर कथित गड़बड़ियों को लेकर निशाना साधा. दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए बीजेपी प्रवक्ता जी.वी.एल. नरसिम्हा राव ने कहा, "आज पूरा देश स्तब्ध है कि राहुल गांधी और उसके वकील राहुल कौशिक अमेठी के निर्वाचन अधिकारी की ओर से मांगी गई नामांकन पत्र की कुछ जानकारियों को बता नहीं पाए."

राव ने कहा कि अमेठी में उम्मीदवारों से पूछे गए प्रश्न वास्तव में गंभीर हैं, इतने गंभीर हैं कि राहुल के कानूनी प्रतिनिधि भी इन आपत्तियों के जवाब नहीं दे पाए. उन्होंने यह बयान ऐसे समय दिया है, जब एक निर्दलीय उम्मीदवार ध्रुव लाल ने अमेठी की एक अदालत में राहुल गांधी की शैक्षणिक योग्यता और नागरिकता को लेकर स्पष्टीकरण मांगा है.

गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी उत्तर प्रदेश के अमेठी के अलावा केरल के वायनाड से भी लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं. राहुल गांधी फिलहाल अमेठी का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनाव में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को इसी सीट से हराया था. स्मृति ईरानी 2019 के चुनाव में फिर इसी निर्वाचन क्षेत्र से राहुल को चुनौती दे रही हैं. वायनाड लोकसभा में सात विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र हैं. इसमें तीन वायनाड जिले से, कोझिकोड से एक व मलप्पुरम से तीन हैं.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay