एडवांस्ड सर्च

जाट आंदोलन: सोनीपत में मोबाइल इंटरनेट सेवा पर रोक

सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सऐप, फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राफ, फ्लिकर, गूगल प्लस और मोबाइल इंटरनेट का इस उद्देश्य के लिए दुरुपयोग किया जा सकता है. इसलिए सभी दूरसंचार कंपनियों को इंटरनेट सेवा रोकने के आदेशों का सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया गया है.

Advertisement
भाषा [Edited By: सना जैदी]सोनीपत , 05 June 2016
जाट आंदोलन: सोनीपत में मोबाइल इंटरनेट सेवा पर रोक फिर शुरू होगा जाट आंदोलन

प्रस्तावित जाट आंदोलन रविवार से शुरू होना तय होने के बीच सोनीपत के जिलाधिकारी के मकरंद पांडुरंग ने जिले में मोबाइल इंटरनेट सेवा पर रोक लगाने का आदेश जारी किया जो अगले आदेश तक प्रभावी रहेगा.

मोबाइल इंटरनेट सेवा से अफवाह फैलने की आशंका
जिलाधिकारी ने कहा कि ऐसी संभावना थी कि मोबाइल इंटरनेट सेवाओं का इस्तेमाल गलत सूचना और अफवाह फैलाने के लिए किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि इन सेवाओं का इस्तेमाल अवैध गतिविधियों में भी किया जा सकता था जैसे सड़क, राजमार्ग और रेल पटरियां अवरूद्ध करना, सरकारी सम्पत्ति को क्षतिग्रस्त करना और आवश्यक सेवा एवं खाद्य आपूर्ति बाधित करना.

इंटरनेट सेवा बंद करने के आदेश
जिलाधिकारी ने कहा कि सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सऐप, फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राफ, फ्लिकर, गूगल प्लस और मोबाइल इंटरनेट का इस उद्देश्य के लिए दुरुपयोग किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि सभी दूरसंचार कंपनियों को इन आदेशों का सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया गया है.

इस बीच रोहतक के जिला प्रशासन ने सक्षम प्राधिकार की अनुमति के बिना धरने के लिए टेंट लगाकर जिले में लगाई गई धारा 144 का उल्लंघन करने के लिए चार व्यक्तियों को नोटिस जारी किए हैं. रोहतक के उपायुक्त अतुल कुमार ने कहा कि गांव जसिया में कांही चौक के पास टेंट लगाने के लिए नोटिस रिथल के पूर्व सरपंच उमेद सिंह, जसिया निवासी सोमवीर सिंह, देव कालोनी के अशोक बलहारा और रोहतक के विजयदीप को जारी किए गए हैं. टेंट लगाने के लिए प्रशासन से अनुमति नहीं ली गई थी. इन लोगों को तत्काल टेंट हटाने का निर्देश दिया गया है. उनसे दो दिनों के भीतर स्पष्टीकरण देने के लिए कहा गया है.

उन्होंने कहा कि सेक्टर छह स्थित मैदान को धरने के लिए तय किया गया है. सभी राष्ट्रीय एवं राज्य राजमार्ग, रेल पटरियों एवं स्टेशनों और जिले में सम्पर्क सड़कों के 500 मीटर के भीतर पांच व्यक्तियों से अधिक के एकत्रित होने पर रोक लगाई गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay