एडवांस्ड सर्च

नामदार को बचाने के लिए कांग्रेस में नाखून काट शहीद होने की होड़: PM मोदी

रैली में PM नरेंद्र मोदी बोले कि कांग्रेस को नामदार को बचाने की कोशिश इसलिए करनी पड़ रही हैं, क्योंकि हार का ठीकरा उन पर नहीं फोड़ा जा सकता है ये वंशवाद के उसूलों के खिलाफ होगा.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: मोहित ग्रोवर]नई दिल्ली, 15 May 2019
नामदार को बचाने के लिए कांग्रेस में नाखून काट शहीद होने की होड़: PM मोदी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के मतदान से पहले बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के देवघर में चुनावी सभा को संबोधित किया. यहां पीएम के निशाने पर कांग्रेस पार्टी रही, साथ ही उन्होंने महागठबंधन पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने नतीजों की तैयार भी शुरु कर दी है, हार के बाद उसका ठीकरा किसके सिर पर फोड़े इसकी तैयारी कांग्रेस कर रही है. नामदार को बचाने के लिए क्या किया जाए इसके लिए वहां अभ्यास चल रहा है.

रैली में PM नरेंद्र मोदी बोले कि कांग्रेस को नामदार को बचाने की कोशिशें इसलिए करनी पड़ रही हैं, क्योंकि हार का ठीकरा उनपर नहीं फोड़ा जा सकता है ये वंशवाद के उसूलों के खिलाफ होगा. उन्होंने कहा कि नामदार को बचाने के लिए नाखून काटकर शहीद होने वालों की होड़ लगी है.

बता दें कि प्रधानमंत्री का ये बयान उस समय आया है जब महागठबंधन के सदस्य लगातार बैठकें कर रहे हैं और यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने भी विपक्षी नेताओं से बात की है.

पित्रोदा-अय्यर पर भी किया हमला

पीएम मोदी ने कहा कि आपने देखा होगा कि पांचवें चरण के बाद ही नामदार परिवार के दो सबसे करीबी दरबारियों ने अपनी तरफ से बैटिंग शुरू कर दी है, वरना इनकी हिम्मत नहीं है कि बिना कप्तान से पूछे, मैच खेलने मैदान में उतर जाएं. उन्होंने कहा कि एक बल्लेबाज तो नामदार के गुरु हैं जिन्हें मैदान में उतारा गया है, इन्होंने सिखों की भावनाओं का मजाक उड़ाते हुए कहा कि 84 का सिख दंगा हुआ तो हुआ!

प्रधानमंत्री ने कहा कि वोट के लिए महामिलावटी किसी को भी ठग सकते हैं. कांग्रेस ने कई साल तक देश में शासन किया, लेकिन उन्होंने आदिवासियों को सिर्फ अपना वोटबैंक समझा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक तरफ हम झारखंड के विकास के लिए समर्पित हैं, वहीं दूसरी तरफ झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस के लोग घुसपैठियों के साथ खड़े हैं. लेकिन भाजपा का स्पष्ट मत है कि हम देश में एक-एक घुसपैठिए की पहचान करेंगे. ये हमारे संसाधनों के साथ-साथ हमारी सुरक्षा के लिए भी बहुत बड़ा खतरा हैं.

पीएम बोले कि आतंकवाद ऐसी चुनौती है जिसका बहुत कड़ाई से मुकाबला किया जाना जरूरी है. लेकिन कांग्रेस और उसके साथियों की नीतियां ऐसी रही हैं कि वो आतंकवाद और नक्सलवाद को कुचल नहीं सकतीं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब देशद्रोह का कानून भी खत्म करना चाहती है. यानि पत्थरबाजों, आतंकियों और उनके समर्थकों, नक्सलियों और उन्हें खाद पानी देने वालों को कांग्रेस खुली छूट देना चाहती है.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay