एडवांस्ड सर्च

बीएसपी नेता ने 'भावी प्रधानमंत्री' मायावती को दी जन्मदिन पर बधाई

मायावती का जन्मदिन को बीएसपी 'जन कल्याणकारी दिवस' के रूप में मनाती है. इस मौके पर मायावती ने 63 किलो का केट काटा और बीएसपी आंदोलन पर अपनी लिखी हुई एक किताब का विमोचन भी किया.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 15 January 2019
बीएसपी नेता ने 'भावी प्रधानमंत्री' मायावती को दी जन्मदिन पर बधाई बीएसपी सुप्रीमो मायावती (फाइल फोटो- PTI)

बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती आज अपना 63वां जन्मदिन मना रही हैं और इस मौके पर देशभर में कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं. इस मौके पर देशभर के नेता उन्हें बधाई संदेश भी दे रहे हैं लेकिन सबसे खास संदेश उन्हें बीएसपी प्रवक्ता सुधींद्र भदोरिया की ओर से मिला है जिसमें उन्होंने मायावती को देश का भावी प्रधानमंत्री बताया है.

सुधींद्र भदोरिया ने बीएसी सुप्रीमो के जन्मदिन पर ट्वीट करते हुए उन्हें बधाई दी और लिखा, 'भारत की भावी प्रधानमंत्री बहन मायावती जी को जन्मदिन की शुभकामनाएं'. यह ट्वीट एक पोस्टर के तौर पर किया गया है जिसमें मायावती के फोटो के साथ मैसेज लिखा हुआ है.

जन्मदिन पर गठबंधन के सहयोगी और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी मायावती से मिलकर उन्हें जन्मदिन की बधाई दी. इससे पहले सोमवार को आरजेडी नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी मायावती से मिलकर उन्हें जन्मदिन की अग्रिम बधाई दी थी. इसके अलावा देश के तमाम दलों के नेता निजी संदेशों और ट्वीट के जरिए बीएसपी सुप्रीमो को जन्मदिन पर शुभकामनाएं दे रहे हैं.

मायावती का जन्मदिन को बीएसपी 'जन कल्याणकारी दिवस' के रूप में मनाती है. इस मौके पर मायावती ने 63 किलो का केट काटा और बीएसपी आंदोलन पर अपनी लिखी हुई एक किताब का विमोचन भी किया. मायावती की पार्टी ने लोकसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन किया है और दोनों दल उत्तर प्रदेश की 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे.

बीजेपी की नींद उड़ा दी...

जन्मदिन पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए मायावती ने पार्टी कार्यकर्ताओं और जन्मदिन पर बधाई देने वाले लोगों को आभार जताया. उन्होंने कहा कि इस बार लोकसभा चुनाव से पहले मेरा जन्मदिन मनाया जा रहा है. इसके लिए हमारी पार्टी ने सपा के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि सपा के साथ हमारे गठबंधन ने बीजेपी की नींद उड़ा दी है. मायावती ने कहा कि सपा और बीएसपी के लोग अपने गिले-शिकवे और स्वार्थ भुलाकर गठबंधन के सभी उम्मीदवारों को भारी बहुमत से जीत दिलाएं और यही मेरे जन्मदिन का तोहफा होगा.

इसके अलावा उन्होंने बीजेपी और कांग्रेस पर भी जमकर हमला बोला. मायावती ने कहा कि आजादी के बाद से ज्यादातर वक्त कांग्रेस और बीजेपी ने ही राज किया है लेकिन इन सरकारों में अल्पसंख्यकों और दलितों का विकास नहीं हो सका है. उन्होंने कहा कि किसान, अल्पसंख्यकों और दलित समाज ने बीजेपी को तीन राज्यों में हराकर बड़ा राजनीतिक संदेश दिया है, साथ ही कांग्रेस पार्टी एंड कंपनी को भी इससे सबक लेने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि जुमनेबाजी करने वाली किसी भी पार्टी की दाल ज्यादा दिन तक गलने वाली नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay