एडवांस्ड सर्च

ममता बोलीं- भगवा पहने गुंडों ने जो हिंसा की, वो बाबरी मस्जिद गिराए जाने जैसी थी

अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा को लेकर चुनाव आयोग की सख्त कार्रवाई पर ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी के निर्देश पर चुनाव आयोग ने ये फैसला लिया है. ये फैसला आयोग ने नहीं बल्कि मोदी और शाह ने लिया है. ममता ने कहा कि चुनाव आयोग का फैसला असंवैधानिक है.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: राहुल विश्वकर्मा]नई दिल्ली, 15 May 2019
ममता बोलीं- भगवा पहने गुंडों ने जो हिंसा की, वो बाबरी मस्जिद गिराए जाने जैसी थी ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर हमला किया.

पश्चिम बंगाल में मचे सियासी घमासान पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आक्रामक रुख अपना लिया है. सीएम ममता ने बीजेपी को खुली चुनौती देते हुए कहा कि हम आदर्श आचार संहिता का पालन करने के लिए बाध्य हैं. एक बार इसकी समय-सीमा पूरी हो गई तो यह मामला मेरे राज्य के अधीन आ जाएगा. फिर मैं चीजों को कानून की मदद से हल करूंगी. अगर किसी को परेशानी है तो आ जाए, मेरा सामना कर ले.

अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा को लेकर चुनाव आयोग की सख्त कार्रवाई पर ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी के निर्देश पर चुनाव आयोग ने ये फैसला लिया है. ये फैसला आयोग ने नहीं बल्कि मोदी और शाह ने लिया है. ममता ने कहा कि चुनाव आयोग का फैसला असंवैधानिक है.

ममता बनर्जी ने आज रात प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ये सारी साजिश मुकुल रॉय रच रहे हैं. उन्होंने कहा कि केंद्रीय सुरक्षाबलों की वजह से हिंसा हुई है. मोदी चुनाव आयोग की बांह मरोड़ रहे हैं. दोषियों के खिलाफ चुनाव आयोग ने कार्रवाई नहीं की है. ममता ने चेताया कि बंगाल को यूपी, बिहार या त्रिपुरा न समझें. राज्य सरकार की सुरक्षा होती तो हिंसा नहीं होती.  अमित शाह चुनाव आयोग को धमका रहे हैं.  मोदी ने मूर्ति तोड़े जाने की निंदा भी नहीं की.

ममता बनर्जी ने कहा कि गेरुआ पहन कर बंगाल में गुंडे आ रहे हैं. भगवा पहने इन गुडों ने जो हिंसा की, वो बाबरी मस्जिद गिराए जाने के दौरान जैसी थी. ममता ने कहा कि अमित शाह और मोदी मुझसे डर गए हैं. नरेंद्र मोदी बंगाल की जनता से डरते हैं.  अमित शाह को चुनाव आयोग ने नोटिस क्यों नहीं दिया? बीजेपी बंगाल को अपने इशारे पर नहीं चला सकती.

ममता ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि कहा कि केंद्र ने राजस्थान, आंध्र प्रदेश, यूपी में कितना फोर्स भेजा? ममता ने कहा कि मोदी अपनी पत्नी का ख्याल नहीं रख सके तो वे देश का ख्याल कैसे रखेंगे. मोदी ने राजीव गांधी को भी भ्रष्टाचारी नेता बता दिया. सोनिया, राहुल, प्रियंका, मायावती, अरविंद केजरीवाल और मुझे, सबको आपने भ्रष्टाचारी बोला.

ममता ने कहा कि कल कोलकाता में जो आए वे यूपी, राजस्थान से बीजेपी के बुलाए गए गुंडे थे. अमित शाह ने कल जो रोडशो किया उसमें कम से कम 15 से 20 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं. चुनाव आयोग ने इस पर संज्ञान क्यों नहीं लिया. ममता ने कहा कि चुनाव आयोग की हम इज्जत करते हैं, लेकिन उसे विपक्ष की मांग भी माननी चाहिए.

ममता बनर्जी ने कहा कि आयोग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उपहार दिया है जो ‘अभूतपूर्व, असंवैधानिक और अनैतिक’ है. पहले कभी इस तरह का चुनाव आयोग नहीं देखा जो आरएसएस के लोगों से भरा पड़ा है.

ममता ने कहा कि पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था की ऐसी कोई समस्या नहीं है कि अनुच्छेद 324 लागू किया जाए. यह अभूतपूर्व, असंवैधानिक और अनैतिक है. यह दरअसल मोदी और अमित शाह को उपहार है.

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा पर चुनाव आयोग ने सख्त कदम उठाया है. आयोग ने बंगाल में गुरुवार रात 10 बजे से चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी है. इसके अलावा आयोग ने पश्चिम बंगाल के प्रधान सचिव (गृह) अत्रि भट्टाचार्य और सीआईडी के अतिरिक्त महानिदेशक राजीव कुमार को उनके पदों से हटाने का आदेश दिया है. राजीव सिंह को गृह मंत्रालय भेजा गया है. आयोग ने सोशल मीडिया पर वीडियो डालने पर भी बैन लगा दिया है. राज्य में 19 मई को 9 सीटों पर वोट डाले जाने हैं. उससे पहले ही आयोग ने बड़ी कार्रवाई की है.

आखिरी राउंड के लिए जो चुनाव प्रचार परसों यानी 17 मई की शाम पांच बजे खत्म होना था, लेकिन अब ये कल यानी 16 मई को रात 10 बजे ही खत्म हो जाएगा. इसके बाद किसी तरह के सार्वजनिक प्रचार की अनुमति नहीं है.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay