एडवांस्ड सर्च

दिल्ली: केजरीवाल सरकार के खिलाफ खुलकर आई कांग्रेस, जारी किया रिपोर्ट कार्ड

कांग्रेस के जरिए दिल्ली की केजरीवाल सरकार के खिलाफ जारी इस रिपोर्ट कार्ड पर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा कि हमने आम आदमी पार्टी का रिपोर्ट कार्ड बनाया है. इस रिपोर्ट कार्ड में बताया गया है कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में क्या किया और क्या नहीं किया है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 07 May 2019
दिल्ली: केजरीवाल सरकार के खिलाफ खुलकर आई कांग्रेस, जारी किया रिपोर्ट कार्ड दिल्ली कांग्रेस

लोकसभा चुनाव के बीच अब दिल्ली में कांग्रेस आम आदमी पार्टी के खिलाफ चुनावी मैदान में उतर चुकी है. इसी बीच केजरीवाल सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने रिपोर्ट कार्ड जारी किया है.

कांग्रेस के जरिए दिल्ली की केजरीवाल सरकार के खिलाफ जारी इस रिपोर्ट कार्ड पर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा कि हमने आम आदमी पार्टी का रिपोर्ट कार्ड बनाया है. इस रिपोर्ट कार्ड में बताया गया है कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में क्या किया और क्या नहीं किया है.

वहीं दिल्ली कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हारून यूसुफ ने इस रिपोर्ट कार्ड के जरिए दिल्ली सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा यह सरकार विज्ञापन के आधार पर चलने वाली सरकार है. वहीं यूसुफ ने शिक्षा और स्वास्थ्य को लेकर दिल्ली सरकार की कमियों को उजागर करते हुए बताया कि दसवीं के रिजल्ट में दिल्ली नौवें स्थान पर है. साथ ही दिल्ली में शिक्षकों की बहुत ज्यादा कमी है. केजरीवाल ने 500 नए स्कूल और 20 नए कॉलेज का वादा किया था, मगर पूरा नहीं किया. वहीं दिल्ली में कोई नया अस्पताल नहीं बना है. हमारे समय में 18 नए अस्पताल बने थे.

दिल्ली में यातायात के लिए मेट्रो का काफी इस्तेमाल किया जाता है. जिसको लेकर भी कांग्रेस ने अपने रिपोर्ट कार्ड में दिल्ली सरकार पर निशाना साधा है. यूसुफ ने बताया कि दिल्ली मेट्रो में किराए को दो बार बढ़ाया गया. वहीं बिजली का बिल नहीं बढ़ा, मगर बाकी सभी टैक्स बढ़ा दिए गए हैं. साथ ही दिल्ली में फिक्स प्राइस देश में सबसे ज्यादा है. उन्होंने बताया कि केजरीवाल ने आते ही दिल्ली में लाडली योजना बंद कर दी थी. जिसमें बालिकाओं को एक लाख रुपया मिलता था. 4 सालों में 183 मोहल्ला क्लिनिक खोले और 111 डिस्पेंसरी बंद कर दी. साथ ही उन्होंने कहा कि दिल्ली में तकरीबन 30 मौत अस्थमा से होती हैं. केजरीवाल ने प्रदूषण कम करने के लिए कुछ नहीं किया.

बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के लिए दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच गठबंधन को लेकर काफी मशक्कत की गई थी. हालांकि गठबंधन की ये जोड़तोड़ कामयाब नहीं हो सकी और इस लोकसभा चुनाव में दोनों पार्टियां एक-दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ रही है. दिल्ली में 12 मई को मतदान होना है और 23 मई को मतगणना होगी.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़ लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay