एडवांस्ड सर्च

आजमगढ़ के DM बोले- नहीं बढ़ाया प्रचार का खर्च, सपा ने खुद रद्द की रैली

आजमगढ़ में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन अखिलेश यादव की होने वाली जनसभाओं के निरस्त किए जाने के आरोपों पर आजमगढ़ जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी ने निराधार बताया और कहा कि सपा ने खुद ही  रैलियां निरस्त कराई हैं.

Advertisement
aajtak.in
कुमार अभिषेक आजमगढ़, 10 May 2019
आजमगढ़ के DM बोले- नहीं बढ़ाया प्रचार का खर्च, सपा ने खुद रद्द की रैली आजमगढ़ की रैली में अखिलेश यादव

आजमगढ़ में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन अखिलेश यादव की होने वाली जनसभाओं के निरस्त किए जाने के आरोपों पर आजमगढ़ जिला अधिकारी शिवाकांत द्विवेदी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सफाई दी है. जिलाधिकारी ने कहा कि प्रशासन ने न तो चुनाव खर्च के दरों में कोई बढ़त्तरी की है और न ही अखिलेश यादव की रैलियों को निरस्त किया है. सपा के द्वारा लगाए गए सभी आरोप बेबुनियाद है और अखिलेश यादव की शुक्रवार को होने वाली रैलियों को सपा ने खुद ही निरस्त कराया है.

बता दें कि सपा जिला अध्यक्ष हवलदार यादव ने गुरुवार को आरोप लगाते हुए कहा था कि जिला प्रशासन द्वारा निर्वाचन खर्चे की दरें मतदान से दो दिन पहले संशोधित कर दी गई है. सत्ता और प्रशासन के मिलीभगत के चलते शुक्रवार को अखिलेश यादव की होने वाली जनसभाओं को निरस्त कर दिया है. सपा इन आरोपों को आजमगढ़ जिला अधिकारी ने निराधार और बेबुनियाद बताया.

जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी ने कहा कि आजमगढ़ में अखिलेश यादव की चारों जनसभाओं में से किसी भी जनसभा को जिलाधिकारी या उपजिलाधिकारी द्वारा निरस्त नहीं किया गया है. जिलाधिकारी ने कहा कि अखिलेश यादव के मुख्य चुनाव अभिकर्ता राजबहादुर यादव ने गुरुवार को यह अवगत कराया कि आजमगढ़ की चार विधानसभा में प्रस्तावित अखिलेश यादव की रैली निरस्त कर दी गई हैं. ऐसे में शुक्रवार की जनसभाओं के लिए हेलीपैड के लिए हेलीकॉप्टर लैंडिंग के लिए ली गई अनुमति को तत्काल निरस्त कर दी जाए.

गौरतलब है कि आजमगढ़ के सपा जिलाध्यक्ष ने गुरुवार को आरोप लगाया कि जिला प्रशासन ने हार की हताशा में सत्ता के दबाव में निर्वाचन से जुड़ी संस्थाओं, खासतौर से जिला प्रशासन तकनीकी दृष्टि से चुनाव को रद्द करने का बहाना ढूंढ रहा है. इसीलिए प्रचार समाप्त होने में दो दिन शेष रहते चुनाव मद में होने वाले खर्च की पूर्व निर्धारित दरों को संशोधित कर दिया गया है. प्रशासन और सत्ता की मिलीभगत के चलते सपा अध्यक्ष की शुक्रवार को होने वाली रैलियों को निरस्त कर दिया गया है. आजमगढ़ मे अखिलेश यादव को सगड़ी, आजमगढ़ सदर, गोपालपुर, व मेहनगर विधानसभा क्षेत्रों में एक-एक सभा करनी थी.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव आजमगढ़ संसदीय सीट से चुनावी मैदान में हैं. बीजेपी ने उनके खिलाफ भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ को चुनावी मैदान में उतारा है. सपा अध्यक्ष ने अभी तक आजमगढ़ में महज दो जनसभाएं की हैं. पहली उन्होंने नामांकन के दौरान और दूसरा बुधवार को मायावती के साथ संयुक्त जनसभा को संबोधित किया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay