एडवांस्ड सर्च

छठे चरण में BJP की सीटें दांव पर, विपक्ष के पास खोने को कुछ भी नहीं

छठे चरण की सात राज्यों की जिन 59 लोकसभा सीटों पर चुनाव हो रहे हैं. इसमें बीजेपी के लिए अपनी सीटें बचाने की चुनौती हैं, क्योंकि 59 में से 45 सीटें बीजेपी के पास है. जबकि कांग्रेस के पास महज दो सीटें है. ऐसे में दोनों पार्टियों की साख दांव पर है.

Advertisement
aajtak.in
कुबूल अहमद नई दिल्ली, 12 May 2019
छठे चरण में BJP की सीटें दांव पर, विपक्ष के पास खोने को कुछ भी नहीं प्रतीकात्मक फोटो

लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण में सात राज्यों की 59 सीटों पर रविवार को मतदान जारी है. इनमें राजधानी दिल्ली और हरियाणा की सभी सीटों के अलावा उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल सहित झारखंड की भी कुछ सीटों पर वोटिंग जारी है. इस चरण में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से लेकर केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी, कांग्रेस की शीला दीक्षित, ज्योतिरादित्य सिंधिया और एमपी के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह, साध्वी प्रज्ञा जैसे नेताओं की साथ-साथ राजनीतिक दलों की भी प्रतिष्ठा दांव पर है.

छठे चरण की 59 सीटों के लिए बीजेपी के 54, बीएसपी के 49, कांग्रेस के 46, शिवसेना के 16, आप के 12, टीएमसी के 10, आईएनएलडी के 10, सीपीआई के 7, सीपीएम के 6 और निर्दलीय 769 उम्मीदवार मैदान में है. छठे चरण में कुल मतदाता 10 करोड़ 18 लाख हैं जो इन उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे.

छठे चरण की सात राज्यों की जिन 59 सीटों पर चुनाव हो रहे हैं. इसमें बीजेपी के लिए अपनी सीटें बचाने की चुनौती हैं, क्योंकि 59 में से 45 सीटें बीजेपी के पास है. जबकि कांग्रेस के पास महज दो सीटें है. ऐसे में कांग्रेस के पास खोने के लिए कुछ नहीं है. वहीं अन्य को 11 सीटें मिली थी. बीजेपी के सहयोगी दल अपना दल के पास भी एक सीट है.

छठे चरण में उत्तर प्रदेश की 14 सीटों पर वोटिंग हो रही है. इनमें सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, इलाहाबाद, अम्बेडकर नगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संत कबीर नगर, लालगंज, आजमगढ़, जौनपुर, मछलीशहर और भदोही सीट है. इन 14 सीटों पर कुल 177 प्रत्याशी मैदान में है. 2014 में 12 सीटें बीजेपी, एक सीट अपना दल और एक सीट सपा को मिली थी.  

बिहार की 8 सीटों पर वोटिंग हो रही है. इनमें वाल्मीकि नगर, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, वैशाली, गोपालगंज, सिवान और महराजगंज सीट है. 2014 में इन सभी आठों सीटों को बीजेपी जीतने में कामयाब रही थी. आरजेडी, जेडीयू और कांग्रेस खाता नहीं खोल सकी थी. इस बार के चुनाव में बिहार की इन 8 सीटों पर  127 प्रत्याशी मैदान में है.

हरियाणा की 10 सीटों पर वोटिंग जारी है, इनमें अंबाला, कुरुक्षेत्र, सिरसा, हिसार, करनाल, सोनीपत, रोहतक, भिवानी-महेंद्रगढ़, गुड़गांव और फरीदाबाद सीट है. 2014 में इन 10 सीटों में से बीजेपी 7, इनेलो 2 और कांग्रेस महज एक सीट ही जीत सकी थी. इस बार के चुनाव में हरियाणा की इन 10 सीटों पर कुल  223 प्रत्याशी मैदान में है.

झारखंड की 4 सीटों पर मतदान हो रहे हैं. इनमें गिरीडीह, धनबाद, जमशेदपुर और सिंहभूम सीट है. 2014 में बीजेपी इन चार सीटें जीतने में कामयाब रही थी. इस बार के चुनाव में झारखंड की चार सीटों के लिए 67 उम्मीदवार मैदान में है.

दिल्ली की सभी 7 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी है, इनमें चांदनी चौक, नई दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, उत्तर पश्चिम दिल्ली, पश्चिम दिल्ली और दक्षिण दिल्ली सीट हैं. इन सभी सातों सीटों को 2014 में बीजेपी जीतने में कामयाब रही थी. इस बार के लोकसभा चुनाव में दिल्ली की सात सीटों पर 164 प्रत्याशी मैदान में है. कांग्रेस, बीजेपी और आप तीनों पार्टियों के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है.

पश्चिम बंगाल की 8 सीटों पर वोटिंग हो रही है. इनमें तामलुक, कांति, घाटल, झारग्राम, मेदिनीपुर, पूर्णिया, बांकुरा और विष्णुपुर सीट है. 2014 में इन सभी आठ सीटों को टीएमसी जीतने में कामयाब रही थी. इस बार के चुनाव में बंगाल की 8 सीटों पर 83 प्रत्याशी मैदान में है.

मध्य प्रदेश की 8 सीटों पर चुनाव हो रहे हैं. इनमें मुरैना, भिंड, गुना, विदिशा, राजगढ़, सागर, ग्वालियर और भोपाल सीटे हैं. 2014 में इन आठ में से बीजेपी सात सीटें जीतने में कामयाब रही थी. जबकि कांग्रेस को एक सीट मिली थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay