एडवांस्ड सर्च

फ्रांस की राज्यक्रांति से जुड़े रोचक तथ्‍य और जानकारियां

फ्रांसीसी क्रांति फ्रांस के इतिहास में राजनैतिक और सामाजिक उथल-पुथल और आमूल परिवर्तन की अवधि थी, जिसके दौरान फ्रांस की सरकारी सरंचना में आमूल परिवर्तन हुए और यह नागरिकता और अविच्छेद्य अधिकारों के प्रबोधन सिद्धांतों पर आधारित हो गयी.

Advertisement
aajtak.in [Edited by: रीता चौधरी]नई दिल्‍ली, 26 August 2014
फ्रांस की राज्यक्रांति से जुड़े रोचक तथ्‍य और जानकारियां

फ्रांसीसी क्रांति फ्रांस के इतिहास में राजनैतिक और सामाजिक उथल-पुथल और आमूल परिवर्तन की अवधि थी, जिसके दौरान फ्रांस की सरकारी सरंचना जो पहले कुलीन और कैथोलिक पादरियों के लिए सामंती विशेषाधिकारों के साथ पूर्णतया राजशाही पद्धति पर आधारित थी, अब उसमें आमूल परिवर्तन हुए और यह नागरिकता और अविच्छेद्य अधिकारों के प्रबोधन सिद्धांतों पर आधारित हो गयी. इस परिवर्तनों के साथ ही हिंसक उथल पुथल हुई जिसमें राजा का परीक्षण और निष्पादन, आतंक के युग में विशाल रक्तपात और दमन शामिल था.

(1) फ्रांस की राज्यक्रांति 1789 ई. में लूई सोलहवां के शासनकाल में हुई.

(2) फ्रांस की राज्यक्रांति के समय फ्रांस में सामंती व्यूवस्था थी.

(3) 14 जुलाई, 1789 ई. को क्रांतिकारियों ने बास्तील के कारागृह फाटक को तोड़कर बंदियों को मुक्त कर दिया. तब से 14 जुलाई को फ्रांस में राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जाता है.

(4) समानता, स्वतंत्रता और भाईचारे का नारा फ्रांस की राज्याक्रांति की देन है.

(5) मैं ही राज्य हूं और मेरे ही शब्द कानून हैं-ये कथन लुई चौदहवां का है.

(6) वर्साय के शीश महल का निमार्ण लुई चौदहवां ने करवाया.

(7) लुई चौदहवां ने वर्साय को फ्रांस की राजधानी घोषित किया.

(8) लुई सोलहवां फ्रांस की गद्दी पर 1774 ई. में बैठा.

(9) लुई सोलहवां की पत्नी मेरी एंत्वा नेता अस्ट्रिया की राजकुमारी थी.

(10) लुई सोलहवां को देशद्रोह के अपराध फांसी की गई.

(11) टैले एक प्रकार का भूमिकर था.

(12) फ्रांसीसी क्रांति में सबसे अहम योगदान वाल्टे‍यर, मौटेस्यू एवं रूसो का था.

(13) आल्टेयर चर्च का विरोधी था.

(14) रूसो फ्रांस में लोकतंत्र शासन पद्धति का समर्थक था.

(15) सौ चूहों की अपेक्षा एक सिंह का शासन उत्तम है-ये कथन वालटेयर के थे.

(16) सोशल कांट्रेक्ट रूसो की रचना है.

(17) लेटर्स ऑन इंगलिश वालटेयर की रचना है.

(18) कानून की आत्मा की रचना मौटेस्यू ने की.

(19) स्टेट्स जनरल के अधिवेशन की शुरुआत 5 मई 1789 ई. को हुई.

(20) मापतौल की दशमलव प्रणाली फ्रांस की देन है.

(21) सांस्कृतिक राष्ट्रियता का जनक हर्डर को कहा जाता है.

(22) नेपोलियन का जन्म 15 अगस्त 1769 ई. में हुआ.

(23) नेपोलियन का जन्म कोर्सिका द्वीप की राजधानी अजासियो में हुआ.

(24) नेपोलियन के पिता का नाम कार्लो बोनापार्ट था.

(25) नेपोलियन ने ब्रिटेन की सैनिक अकादमी में शिक्षा प्राप्ता की.

(26) नेपोलियन ने इटली में ऑस्ट्रिया (1796 ई.) के प्रमुख को समाप्त किया.

(27) फ्रांस में डायरेक्टरी के शासन का अंत 1799 ई. में हुआ.

(28) पहली बार नेपोलियन 1799 ई. में कॉन्सयल बना.

(29) जीवनभर के लिए नेपोलियन 1802 ई. में कॉन्सल बना.

(30) नेपोलियन फ्रांस का सम्राट 1804 ई. में बना.

(31) आधुनिक फ्रांस का निमार्ता नेपोलियन को माना गया है.

(32) इंग्लैंड को बनियों का देश सबसे पहले नेपोलियन ने कहा था.

(33) नेपोलियन की पहली पत्नी का नाम जोजे फाइन था.

(34) स्ट्राल्फकगर का युद्ध 21 अक्टूबर 1805 ई. में इंगलैंड और नेपोलियन के बीच हुआ.

(35) बैंक ऑफ फ्रांस की स्थापना 1800 ई. में नेपोलियन ने की.

(36) नेपोलियन का कोड नेपोलियन द्वारा तैयार कानूनों का संग्रह कहा गया.

(37) एल्बा के टापू पर नेपोलियन को बंदी बनाकर रखा गया था.

(38) मित्र राष्ट्रों की सेना ने नेपोलियन को वॉटर लू युद्ध में (18 जून 1815 ई.) में पराजित किया.

(39) नेपोलियन की मृत्यु 1821 ई. में हुई.

(40) नेपोलियन को लिट्ल कारपोरल के नाम से जाना जाता था.

(41) नेपोलियन के पतन का कारण रूस पर आक्रमण करना था.

(42) इंगलैंड के कारोबार का बहिष्कार करने के लिए नेपोलियन ने महाद्विपीय व्योवस्था का सुत्रपात किया.

(43) विएना समझौते के तहत यूरोप के देशों ने फ्रांस के प्रभुत्व को 1815 ई. में खत्म किया.

(44) नेपोलियन को नील नदी के युद्ध में अंग्रेजी जहाजी बेड़े के नायक नेल्सन के हाथों बुरी तरह पराजित होना पड़ा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay