एडवांस्ड सर्च

Jodhpur Lok Sabha chunav Result 2019: सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत हारे

Lok Sabha Chunav Jodhpur Result 2019 राजस्थान की जोधपुर लोकसभा सीट पर बीजेपी उम्‍मीदवार गजेंद्र सिंह शेखावत 274440 वोटों के अंतर से अपने नजदीकी प्रति‍द्वंदी वैभव गहलोत को पटखनी देने में कामयाब रहे हैं.

Advertisement
aajtak.in
राहुल झारिया नई दिल्ली, 24 May 2019
Jodhpur Lok Sabha chunav Result 2019: सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत हारे Jodhpur Lok Sabha Election Result 2019

राजस्थान की जोधपुर लोकसभा सीट पर मतगणना के बाद नतीजे आ चुके है. जिसमें बीजेपी उम्‍मीदवार गजेंद्र सिंह शेखावत 274440 वोटों के अंतर से अपने नजदीकी प्रति‍द्वंदी वैभव गहलोत को पटखनी देने में कामयाब रहे हैं. इस सीट पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत के चुनाव मैदान में होने के कारण राज्य की हाई-प्रोफाइल सीट पर सभी की नजरें थीं.

2019 का जनादेश

जोधपुर लोकसभा सीट से बीजेपी उम्‍मीदवार गजेंद्र सिंह शेखावत ने अपने  निकटतम प्रतिद्वंदी वैभव गहलोत को 274440 से हरा दिया है. बीजेपी प्रत्याशी गजेंद्र सिंह शेखावत को 788888 वोट मिले. वहीं मुख्यमंत्री अशोक सिंह गहलोत के बेटे वैभव गहलोत 514448 वोट मिले. बहुजन समाज पार्टी के मुकुल चौधरी को 11703 वोट मिले. साथ ही 11688 वोटों के साथ नोटा का वोट प्रतिशत 0.87% रहा.

कब और कितनी हुई वोटिंग

जोधपुर लोकसभा सीट पर चौथे चरण (29 अप्रैल) के तहत वोटिंग हुई है. इस सीट पर कुल मतदान 68.41 फीसदी रिकॉर्ड दर्ज किया गया. इस संसदीय सीट पर 1951393 मतदाता हैं जिसमें 1021166 पुरुष और 930217 महिला मतदाता शामिल हैं. 1951393 मतदाताओं में से 1334927 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया.

कौन-कौन प्रमुख उम्मीदवार रहे मैदान में

जोधपुर लोकसभा सीट से 10 उम्मीदवार मैदान में रहे, लेकिन मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और कांग्रेस के बीच था. जोधपुर अशोक गहलोत का गृह जिला है, जिसके चलते इस पर लोगों की निगाह ज्यादा है. जबकि शेखावत क्षेत्र के कद्दावर नेता हैं और मोदी सरकार में कृषि राज्यमंत्री रहे, साथ ही बीजेपी किसान मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव भी हैं.

2014 का चुनाव

साल 2014 के लोकसभा चुनाव में जोधपुर लोकसभा सीट पर बीजेपी का पलड़ा भारी था. विधानसभा चुनाव में मिली अप्रत्याशित जीत को दोहराते हुए बीजेपी ने कांग्रेस का गढ़ माने जाने वाले इस सीट पर जीत का परचम लहराया. चुनाव में 62.4 फीसदी मतदान हुए थे, जिसमें बीजेपी को 66.2 फीसदी और कांग्रेस को 28.1 फीसदी वोट मिले थे.

बीजेपी से गजेंद्र सिंह शेखावत ने कांग्रेस से राजघराने की चंद्रेश कुमारी कटोच को 4,10,051 मतों के भारी अंतर से पराजित किया. जहां शेखावत को 7,13,515 वोट मिले तो वहीं चंद्रेश कुमारी कटोच को 3,03,464 वोट मिले.

सामाजिक ताना-बाना

जोधपुर लोकसभा क्षेत्र जोधपुर और जैसलमेर के कुछ हिस्सों को मिलाकर बनाया गया है. साल 2008 के परिसीमन के बाद यहां का जाट बहुल क्षेत्र पाली में चले जाने से यह सीट राजपूत बहुल हो गई है. इसके अलावा इस सीट पर विश्नोई समाज का भी खासा प्रभाव है. जबकि कुछ इलाकों में मुस्लिम वोट निर्णायक है.

साल 2011 की जनगणना के मुताबिक यहां की जनसंख्या 29,60,625 है, जिसका 54.46 प्रतिशत हिस्सा ग्रामीण और 42.54 प्रतिशत हिस्सा शहरी है. वहीं कुल आबादी का 14.91 फीसदी अनुसूचित जाति और 3.46 फीसदी अनुसूचित जनजाति हैं.

सीट का इतिहास

जोधपुर संसदीय सीट के इतिहास की बात करें तो अब तक 16 आम चुनावों और 1 उपचुनाव में 8 बार कांग्रेस का कब्जा रहा, जबकि 4 बार बीजेपी ने जीत हासिल की. वहीं 4 बार निर्दलीय उम्मीदवार, 1 बार भारतीय लोकदल ने जीत का परचम लहराया.

इस संसदीय सीट पर सबसे ज्यादा 8 बार जीत दर्ज करने वाली कांग्रेस 1957, 1967, 1980, 1984, 1991, 1996, 1998, 2009 में जीती. जबकि 1989, 1999, 2004 और 2014 में यह सीट बीजेपी के खाते में गई. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस सीट का पांच बार प्रतिनिधित्व किया. माली समुदाय से आने वाले गहलोत ने राजपूतों के वर्चस्व वाली सीट पर सभी सियासी समीकरणों को ध्वस्त कर दिया.

साल 2013 के विधानसभा चुनाव और गत लोकसभा चुनाव में अपना यह गढ़ बीजेपी के हाथों गंवा बैठी कांग्रेस ने दिसंबर 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में जबरदस्त वापसी की. पहले जोधपुर लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत विधानसभा की 10 सीटें आती थीं, लेकिन 2008 के परिसीमन में यहां की 2 जाट बहुल सीटों को पाली में शामिल कर दिया गया. हाल में हुए विधानसभा चुनाव में जोधपुर लोकसभा क्षेत्र की 8 सीटें-पोकरण, फलोदी, लोहावट, शेरगढ़, सरदारपुरा, जोधपुर शहर और सूरसागर विधानसभा में 6 सीट पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की. जबकि बीजेपी को महज 2 सीट फलोदी और सूरसागर से संतोष करना पड़ा.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़ लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay