एडवांस्ड सर्च

हरियाणा में जेजेपी से आम आदमी पार्टी के गठबंधन का जल्द हो सकता है ऐलान

जननायक जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी हरियाणा में गठबंधन कर सकते हैं. दुष्यंत चौटाला ने आज तक से हुई खास बातचीत में कहा कि गठबंधन का ऐलान जल्द किया जा सकता है. उनकी पार्टी को समान विचारधारा वाली पार्टी के साथ गठंबधन करने में कोई आपत्ति नहीं है.

Advertisement
aajtak.in
सतेंदर चौहान चंडीगढ़, 10 April 2019
हरियाणा में जेजेपी से आम आदमी पार्टी के गठबंधन का जल्द हो सकता है ऐलान (फाइल फोटो- अरविंद केजरीवाल)

हरियाणा की जननायक जनता पार्टी(जेजेपी) और आम आदमी पार्टी(आप) के बीच लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर गठबंधन का ऐलान जल्द हो सकता है. आज तक से खास बातचीत में जननायक जनता पार्टी के नेता और हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने संकेत दिए हैं कि आने वाले 2 से 3 दिनों के भीतर उनकी पार्टी का गठबंधन आम आदमी पार्टी के साथ हो जाएगा. दुष्यंत चौटाला ने कहा कि नवरात्रा के दौरान गठबंधन की खुशखबरी हरियाणा की जनता को दी जाएगी. दुष्यंत चौटाला ने यह भी कहा है कि हरियाणा में सीटों के बंटवारे पर दोनों पार्टियों ने समझौता कर लिया है.

दुष्यंत चौटाला ने संकेत दिए हैं कि अगर किसी पार्टी के सिद्धांत उनकी पार्टी से मेल खाते हैं तो उन्हें उस पार्टी के साथ गठबंधन से कोई गुरेज नहीं है. दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि वे समान विचारधारा वाली किसी भी पार्टी से गठबंधन कर सकते हैं. हालांकि दुष्यंत चौटाला ने साफ किया है कि वे किसी भी कीमत पर कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेंगे.

हरियाणा में जाटों की प्रमुख पार्टी रही इंडियन नेशनल लोक दल का बंटवारा हो गया है. घरेलू पार्टी ही दो अलग-अलग पार्टियों में विभाजित हो गई है. ओ.पी चौटाला के बड़े बेटे अजय सिंह के बेटों दुष्यंत और दिग्विजय ने अपनी अलग जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) बना ली है. चौटाला के छोटे बेटे अभय सिंह के नेतृत्व वाले आइएनएलडी के विधायक पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो रहे हैं.

ऐसे में राज्य में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी हरियाणा में अपनी जमीन तलाश रही है. अगर यह गठबंधन होता है तो जाहिर तौर पर दोनों पार्टियों को फायदा पहुंच सकता है.

कांग्रेस का आंतरिक कलह भी इस गठबंधन को फायदा पहुंचा सकता है. कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर का अलग-अलग खेमा आपस में भिड़ता रहता है. सुरजेवाला जींद उपचुनाव में हार के बाद पार्टी नेताओं पर विश्वासघात का आरोप लगा चुके हैं.

इस सब के बीच अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) राज्य में पैर जमाने की कोशिश कर रही है.

आप ने जींद के उपचुनाव में इससे पहले भी जेजेपी का समर्थन किया था पर लोकसभा के चुनावों के लिए गठबंधन की बात अभी बन नहीं पाई थी. दुष्यंत चौटाला के इस बयान के बाद यह साफ हो गया है कि वे गठबंधन का ऐलान जल्द कर सकते हैं.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay