एडवांस्ड सर्च

शाह फैसल ने बनाई अपनी पार्टी JK पीपुल्स मूवमेंट, शेहला राशिद भी शामिल

श्रीनगर में पूर्व आईएएस अधिकारी शाह फैसल ने आज अपनी राजनीतिक पार्टी 'जम्मू और कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट' की शुरुआत करते हुए रैली की.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in श्रीनगर, 17 March 2019
शाह फैसल ने बनाई अपनी पार्टी JK पीपुल्स मूवमेंट, शेहला राशिद भी शामिल शाह फैसल के साथ शेहला राशिद

पूर्व आईएएस अधिकारी शाह फैसल ने रविवार को अपनी राजनीतिक पार्टी 'जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट' की शुरुआत करते हुए श्रीनगर में रैली की. इस दौरान जवाहरलाल नेशनल यूनिवर्सिटी (जेएनयू) की छात्र नेता शेहला राशिद समेत कई लोग फैसल की राजनीतिक पार्टी में शामिल हुए.

इस दौरान शाह फैसल ने कहा कि पहले मैंने सोचा था कि मैं कश्मीर घाटी के किसी भी प्रमुख राजनीतिक दल में शामिल हो जाऊंगा, लेकिन इन पार्टी के प्रति लोगों की प्रतिक्रिया बहुत नकारात्मक थी. इसलिए मैंने अपनी खुद की राजनीतिक पार्टी शुरू करने का फैसला किया. यह कश्मीर घाटी के युवाओं के लिए नया मंच है.

img_20190317_125447_031719024911.jpg

फैसल ने कहा कि हमारी पार्टी कश्मीर के शांतिपूर्ण समाधान के लिए काम करेगी. यहां रहने वाले लोगों की इच्छा के अनुसार, हम सिल्ट रुट की फिर से शुरूआत करेंगे. हम उन ताकतों से लड़ेंगे जो धर्म के आधार पर जम्मू-कश्मीर को बांटने की कोशिश कर रहे हैं. हम नौजवान युवाओं, हम स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए काम करेंगे और हम राज्य से भ्रष्टाचार को खत्म करेंगे.

download_031719024828.jpg

नाम लिए बगैर फैसल ने कहा कि जो लोग मुझे अपने राजनीतिक दल में लाना चाहते थे, आज वह कह रहे हैं कि मैं आरएसएस और भाजपा का एजेंट हूं. उन्होंने कहा कि इस पार्टी को शुरू करने का हमारा उद्देश्य सभी धर्मों और जातियों के लोगों को मंच प्रदान करना है. कश्मीरी पंडित हमारी संस्कृति का हिस्सा हैं और उन्हें घाटी में लौटना चाहिए.

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में तब तक डेवलपमेंट का कोई लाभ नहीं होगा, जब तक हालात बेहतर नहीं होते हैं और जब तक कश्मीर में अमन शांति नहीं आती है और उसके लिए युवाओं की भूमिका बहुत जरूरी है. वह उन्हीं युवाओं के लिए काम करेंगे. शाह फैसल ने कहा कि वह केजरीवाल और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की राजनीति से प्रभावित है और दोनों ने राजनीति की शुरुआत में जिस अंदाज से लोगों का विरोध और चुनौतियां झेली उन्हें भी उस तरह की चुनौतियों से पार निकलना होगा और वह राजनीति में कुछ पाने के लिए नहीं बल्कि कुछ करने के लिए आए हैं.

इस मौके पर शेहला राशिद ने कहा कि हमें जीवन जीने की बुनियादी सुविधाओं की आवश्यकता है और हमें विकास की आवश्यकता है. हम कश्मीर मुद्दे के शांतिपूर्ण समाधान के लिए काम करेंगे. हम घाटी के युवाओं के सशक्तीकरण के लिए काम करेंगे. बता दें, शाह फैसल ने 2010 आईएएस बैच के टॉपर ने इस साल जनवरी में इस्तीफा दे दिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay