एडवांस्ड सर्च

दिल्ली में सीलिंग पर सियासत तेज, केजरीवाल ने उठाया बीजेपी पर सवाल

सीलिंग को लेकर आम आदमी पार्टी और बीजेपी के नेता एक दूसरे पर पलटवार कर रहे हैं. दिल्ली के मायापुरी से सीलिंग की खबर सामने आने के बाद अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी को निशाने पर लिया है.

Advertisement
aajtak.in
पंकज जैन नईदिल्ली, 13 April 2019
दिल्ली में सीलिंग पर सियासत तेज, केजरीवाल ने उठाया बीजेपी पर सवाल मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

दिल्ली में लोकसभा चुनाव से पहले सीलिंग का मुद्दा एक बार फिर गर्मा गया है. सीलिंग को लेकर आम आदमी पार्टी और बीजेपी के नेता एक दूसरे पर पलटवार कर रहे हैं. दिल्ली के मायापुरी से सीलिंग की खबर सामने आने के बाद अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी को निशाने पर लिया है.

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि  "अपने ही व्यापारियों को इस तरह पीटना बेहद शर्मनाक है व्यापारियों ने हमेशा धन और वोट से भाजपा का साथ दिया. बदले में भाजपा ने उनकी दुकानें सील की और उनको लाठियों से पीटा. चुनाव में भी व्यापारियों पर इतना बर्बर लाठी चार्ज? भाजपा साफ कह रही है- नहीं चाहिए भाजपा को व्यापारियों का साथ"

केजरीवाल ने ट्वीट के जरिए पूर्ण राज्य का मुद्दा भी उठाया. उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि "अगर दिल्ली पूर्ण राज्य का दर्जा मिलता तो हम 24 घंटे में सीलिंग रुकवा देते. 5 साल में केंद्र की भाजपा सरकार ने दिल्ली व्यापारियों पर खूब ज़ुल्म ढाए हैं.

आम आदमी पार्टी के मुखिया के ट्वीट का दिल्ली बीजेपी विधायक और नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने जवाब दिया. अरविंद केजरीवाल का ट्वीट साझा करते हुए विजेंद्र गुप्ता ने लिखा कि "केजरीवाल जी फिर झूठ फैला रहे हो! मायापुरी मे सीलिंग की यह कार्यवाही आम आदमी पार्टी सरकार के अधिकारी सब डिवीजन मजिस्ट्रेट(SDM) द्वारा NGT के आदेश पर की गई है.

ये तो वही बात हुई @ArvindKejriwal जी, उल्टा चोर कोतवाल को डाँटे"

उधर डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने मायापुरी में सीलिंग के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया. मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया  "मोदी जी! आपकी पुलिस दिल्ली में जलियांवाला बाग जैसा नृशंस कांड क्यों कर रही है"

आपको बता दें कि दिल्ली में सीलिंग एक बड़ा राजनीतिक मुद्दा बन चुका है. आम आदमी पार्टी पिछले कई महीनों से केंद्र सरकार के सामने संसद में अध्यादेश लाने की मांग करती आई है, तो वहीं बीजेपी भी आम आदमी पार्टी सरकार को सीलिंग के लिए सवालों के कटघरे में खड़ा कर चुकी है. हालांकि राजनीतिक बयानबाजी के बीच व्यापारियों को अबतक सीलिंग से राहत नहीं मिल पाई है.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay