एडवांस्ड सर्च

EVM पर विपक्ष की बैठक, राहुल गांधी ने कहा- अब मोदी सरकार पर होगी सर्जिकल स्ट्राइक

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब विपक्षी दलों के नेता मिले. इस मीटिंग में EVM की विश्वसनीयता पर एक बार फिर चर्चा हुई. राहुल गांधी ने कहा EVM को लेकर लोगों के मन में शंका है. राहुल ने कहा कि विपक्षी पार्टियां सरकार को कुछ बैकअप सिस्टम के बारे में बताना चाहती हैं. राहुल ने बताया कि पूरा मकसद चुनाव की प्रक्रिया में लोगों का भरोसा बढ़ाना है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 01 February 2019
EVM पर विपक्ष की बैठक, राहुल गांधी ने कहा- अब मोदी सरकार पर होगी सर्जिकल स्ट्राइक कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में राहुल गांधी के साथ विपक्षी नेताओं की बैठक (फोटो-आजतक)

केन्द्र सरकार द्वारा अंतरिम बजट पेश करने के तुरंत बाद राहुल गांधी के नेतृत्व में दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब विपक्षी दलों के नेता मिले. इस मीटिंग में EVM की विश्वसनीयता पर एक बार फिर चर्चा हुई. राहुल गांधी ने कहा EVM को लेकर लोगों के मन में शंका है. राहुल ने कहा कि विपक्षी पार्टियां सरकार को कुछ बैकअप सिस्टम के बारे में बताना चाहती हैं. राहुल ने बताया कि पूरा मकसद चुनाव की प्रक्रिया में लोगों का भरोसा बढ़ाना है. उन्होंने कहा कि सोमवार को शाम 5.30 बजे विपक्षी दलों के नेता EVM के मुद्दे पर चुनाव आयोग के नेताओं से मिलेंगे. रिपोर्ट के मुताबिक विपक्षी पार्टियां चाहती हैं कि लोकसभा चुनावों में 50 फीसदी वीवीपैट्स मशीनों का इस्तेमाल हो.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सभी पार्टियां तीन मुद्दों पर बात करने के लिए राजी हुई हैं. ये मुद्दे हैं नौकरी, खेती और संवैधानिक संस्थाओं पर सरकार द्वारा लगातार हमला. राहुल ने एक बार फिर से कहा कि किसानों को रोजाना 17 रुपया देना उनकी मेहनत का अपमान है. राहुल गांधी ने अंतरिम बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अगले कुछ महीनों में नरेंद्र मोदी सरकार पर सर्जिकल स्ट्राइक होने वाली है. बता दें कि सत्ता पक्ष के कई नेताओं ने बजट को विपक्ष पर सर्जिकल स्ट्राइक बताया था. केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और आरके सिंह ने अंतरिम बजट विपक्ष पर सर्जिकल स्ट्राइक करार दिया है.

राहुल गांधी से जब इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया पूछी गई तो उन्होंने कहा कि अगले कुछ महीनों में नरेंद्र मोदी सरकार पर सर्जिकल स्ट्राइक होने वाली है. राहुल ने कहा, "कुछ ही दिनों में नरेंद्र मोदी सरकार पर कई सर्जिकल स्ट्राइक होने वाले हैं, राफेल, नोटबंदी, नौकरी, खेती हमारे पास बहुत मुद्दे हैं. राहुल गांधी ने राफेल का मुद्दा एक बार फिर उठाया. उन्होंने कहा, "हिन्दुस्तान की जनता को ये बात समझ आ गई है कि अनिल अंबानी को 30000 करोड़ रुपये नरेंद्र मोदी जी सीधे देते हैं, HAL को अलग कर देते हैं, हमारे पास मुद्दों की कमी नहीं है."

राहुल ने किसानों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि आप 15 लोगों का 3.5 लाख करोड़ रुपये माफ कर सकते हैं. लेकिन किसानों को आज रोजाना 17 रुपये देते हैं, ये उनका अपमान नहीं तो क्या है. राहुल ने कहा कि किसान, बेरोजगारी और संस्थाओं पर हमले के मुद्दे पर ही चुनाव लड़ा जाएगा.

कांग्रेस और विपक्ष की इस बैठक में एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडु, टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रॉयन, समाजवादी पार्टी नेता रामगोपाल यादव, सीपीएम के मो सलीम और आम आदमी पार्टी से संजय सिंह शामिल थे. इसके अलावा जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला, बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा, आरजेडी के मनोज झा, डीएमके की कनिमोई, आरएलडी के जयंत चौधरी, सीपीआई के डी राजा और शरद यादव भी शामिल थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay