एडवांस्ड सर्च

ओडिशा में बोले राहुल- PM मोदी और नवीन पटनायक ने लोगों को ठगा

Lok sabha election कांग्रेस अध्यक्ष रायपुर में स्वास्थ्य कर्मियों से संवाद किया. इस बीच, छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने आयुष्मान भारत योजना के बारे में पूछे जाने पर कहा कि यह योजना बीमा आधारित है जिसमें करदाताओं के पैसे को बीमा कंपनियों को दे दिया जाता है.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: वरुण शैलेश]रायपुर/भुवनेश्वर , 15 March 2019
ओडिशा में बोले राहुल- PM मोदी और नवीन पटनायक ने लोगों को ठगा राहुल गांधी

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस राहुल गांधी की चुनावी मुहिम तेज हो गई है. वह रैलियां करने के साथ ही छात्रों और युवाओं से लगातार संवाद कर रहे हैं. इसी क्रम में वह आज ओडिशा के दौरे पर पहुंचे. ओडिशा में वह बारगढ़ जिले में एक जनसभा को संबोधित किया.  इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक पर निशाना साधा.

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि दोनों नेताओं ने देश और प्रदेश के लोगों को ठगने का काम किया है. राहुल गांधी ने कहा कि ओडिशा बेरोजगारी का सेंटर बन गया है. नवीन पटनायक प्रदेश के लोगों को नौकरी देने में पूरी तरह से असफल रहे हैं. ओडिशा को पांच अफसर चला रहे हैं और नवीन पटनायक को नरेंद्र मोदी रिमोर्ट कंट्रोल के जरिए चला रहे हैं. आप लोग कांग्रेस के सरकार बनाने का काम कीजिए आप लोगों की की सरकार होगी और आपके हित में काम करेगी.

कांग्रेस अध्यक्ष ने नरेंद्र मोदी और नवीन पटनायक के नाम लेकर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया. राहुल ने नरेंद्र मोदी को राफेल के मुद्दे पर घेरा तो नवीन पटनायक को चिटफंड के लोकर सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने देश की जनता का 30 हजार करोड़ रुपये अनिल अंबानी को दे दिया. राहुल गांधी ने कहा कि मध्य प्रदेश और राजस्थान में जिस तरह से कांग्रेस पार्टी की सरकार किसान, युवाओं और गरीबों के लिए काम करेगी. उन्होंने कहा कि ओडिशा में शिक्षा और स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल काफी खराब है. नवीन पटनायक और नरेंद्र मोदी की सरकार शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं को नीजिकरण करते जा रहे हैं. जबकि हमारी सरकार का लक्ष्य गरीबों की मदद करने का है.

राहुल ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस सरकार ने स्वास्थ्य सेवा अधिकार दिया है. उसी प्रकार से हम ओडिशा और देश में स्वास्थ्य सेवा का अधिकार देनें का काम करेंगे ताकि कम पैसे में लोग इलाज करा सकें. इतना ही नहीं हम शिक्षा व्यवस्था को भी ऐसा बनाना चाहते हैं कि गरीब से गरीब परिवार के लोग अपने बच्चों को कम पैसे में पड़ा सकें.

ओडिशा से पहले राहुल गांधी छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर पहुंचे थे जहां उन्होंने किसानों और कृषि से जुड़ा मुद्दों पर बात की. रायपुर में उन्होंने स्वास्थ्य कर्मियों से संवाद किया. इस बीच, छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने आयुष्मान भारत योजना के बारे में पूछे जाने पर कहा कि यह योजना बीमा आधारित है जिसमें करदाताओं के पैसे को बीमा कंपनियों को दे दिया जाता है. बीमा कंपनियों के अलावा इस योजना में कई अनियमितताओं की रिपोर्ट मिली है. जबकि हमारा मकसद अपने आधारभूत ढांचे की बदौलत लोगों को गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराना है.

गौरतलब है कि चुनावी सभा अभियान के तहत राहुल गांधी गुरुवार को केरल के त्रिशूर पहुंचे थे. जबकि बुधवार को वह चेन्नई के स्टेला मैरिस कॉलेज फॉर वुमन की छात्राओं से संवाद करने पहुंचे थे, जहां उन्होंने छात्रों से विभिन्न मुद्दों पर खुलकर बातचीत की थी.

इसी दौरान उन्होंने मछुआरे समुदाय से वादा किया कि अगर केंद्र में कांग्रेस नीत सरकार बनती है तो मत्स्य क्षेत्र के लिए एक विशेष मंत्रालय का गठन किया जाएगा. राहुल ने कहा, 'मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसा नहीं हूं, जो अपने वादों को पूरा नहीं करते हैं. मैं आपको भरोसा दिलाता हूं और वादा करता हूं कि जब 2019 में हमारी सरकार सत्ता में आएगी तो मत्स्य क्षेत्र के लिए एक समर्पित मंत्रालय होगा.' राहुल ने कहा, 'आप मेरे भाषणों को सुनें. जो कुछ भी मैंने कहा है, उसे पूरा किया है, पूरा करूंगा. आपकी जरूरतों के लिए एक विशेष मंत्रालय आपके लिए एक अहिंसक हथियार होगा. श्रीलंकाई नौसेना, तटीय नियामक क्षेत्र और मछली पकड़ने वाली नौकाओं के मामले को सुलझाया जाएगा.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay