एडवांस्ड सर्च

मायावती ने 7 राज्यों में हार की समीक्षा की, कई प्रभारियों पर गिरी गाज

यूपी बसपा प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा से उत्तराखंड प्रभारी का चार्ज छीनकर एमएल तोमर को उत्तराखंड का नया बसपा प्रभारी नियुक्त किया गया है. सूत्रों के मुताबिक जानकारी मिली है कि राजस्थान के प्रभारी मुनकाद अली को हटाकर रामजी गौतम और धर्मवीर अशोक को प्रभारी बनाया गया है.

Advertisement
aajtak.in
कुमार अभिषेक नई दिल्ली, 02 June 2019
मायावती ने 7 राज्यों में हार की समीक्षा की, कई प्रभारियों पर गिरी गाज बसपा अध्यक्ष मायावती (फाइल फोटो)

लोकसभा चुनाव में खराब परफॉर्मेंस के बाद बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने कई बड़े फैसले लिए हैं. हार की गाज कई चुनाव प्रभारियों पर गिरी है. मायावती ने उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, राजस्थान, गुजरात और ओडिशा के राज्य प्रभारियों को हटा दिया गया है. यूपी नेताओं के साथ कल मायावती की बैठक है, लिहाजा अभी तक यहां के किसी नेता पर कोई एक्शन नहीं लिया गया है.

वहीं, कई राज्यों के प्रभारियों को हटाने के अलावा बसपा अध्यक्ष मायावती ने दिल्ली और मध्य प्रदेश के बसपा अध्यक्षों को भी हटा दिया है. यूपी बसपा प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा से उत्तराखंड प्रभारी का चार्ज छीनकर एमएल तोमर को उत्तराखंड का नया बसपा प्रभारी नियुक्त किया गया है. सूत्रों के मुताबिक जानकारी मिली है कि राजस्थान के प्रभारी मुनकाद अली को हटाकर रामजी गौतम और धर्मवीर अशोक को प्रभारी बनाया गया है.

एमपी के प्रभारी भी हटाए गए

मध्य प्रदेश के प्रभारी डीपी चौधरी को हटाकर रमाकांत को नियुक्त किया गया है. दिल्ली में सुरेंद्र सिंह की जगह लक्ष्मण सिंह को नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया है. बता दें कि लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद विपक्षी दलों में समीक्षा का दौर जारी है.

मायावती ने रविवार को दिल्ली में बिहार, झारखंड, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, गुजरात और ओडिशा के प्रभारियों और विधायकों के साथ समीक्षा बैठक की. जिसमें यह निर्णय लिए गए.

बसपा अध्यक्ष मायावती कल (सोमवार) यूपी के प्रभारियों के साथ बैठक करेंगी. इस बैठक में सभी नवनिर्वाचित सांसदों, जोनल इंचार्ज और जिलाध्यक्षों को बुलाया गया है.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से बीजेपी गठबंधन ने 64 सीट जीती हैं. जबकि सपा-बसपा गठबंधन को सिर्फ 15 सीटों पर ही जीत मिली है. जिसमें बसपा के हिस्से में 10 और सपा के हिस्से में 5 सीटें आई हैं. सपा से गठबंधन के बावजूद निराशाजनक रहे नतीजों की मायावती समीक्षा कर रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay