एडवांस्ड सर्च

मध्य प्रदेश: बीजेपी नेताओं में लोकसभा चुनाव के लिए बच्चों को टिकट दिलाने की होड़

अब खुद भाजपा में इस बार अपनों के लिए टिकट मांगने की होड़ लगी है. मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने अपने बेटे अभिषेक भार्गव तो वहीं पूर्व मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने अपनी बेटी मौसम बिसेन को लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बताया है.

Advertisement
रवीश पाल सिंह [Edited by: अजीत कुमार सिंह ]भोपाल, 15 March 2019
मध्य प्रदेश: बीजेपी नेताओं में लोकसभा चुनाव के लिए बच्चों को टिकट दिलाने की होड़ बीजेपी(फोटो- इंडिया टुडे आर्काइव)

लोकसभा चुनाव के लिए टिकटों की माथापच्ची के बीच मध्यप्रदेश बीजेपी में अब अपनों के लिए टिकट की मांग शुरू हो गई है. जहां भाजपा हमेशा से अन्य राजनीतिक पार्टीयों पर वंशवाद का आरोप लगाती रही है, वहीं अब खुद भाजपा में इस बार अपनों के लिए टिकट मांगने की होड़ लगी है.

मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने अपने बेटे अभिषेक भार्गव तो वहीं पूर्व मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने अपनी बेटी मौसम बिसेन को लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बताया है. भोपाल में बीजेपी चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक में पहुंचे गोपाल भार्गव ने कहा कि टिकट मांगना सबका अधिकार है. मेरा बेटा 14 साल से मेरी सहायता कर रहा है, युवा मोर्चे में भी अलग अलग पदों पर रहा है. सबका टिकट मांगने का अधिकार है. मैं जहां तक मानता हूं कि संबंध के कारण किसी को टिकट से वंचित नहीं करना चाहिए. यदि वो टिकट डिजर्व करता है तो उसे टिकट मिलना चाहिए.

वहीं, शिवराज सरकार में मंत्री रहे गौरीशंकर बिसेन अपनी बेटी मौसम बिसेन को लोकसभा चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं. भोपाल में पत्रकारों से बात करते हुए बिसेन ने कहा कि 2014 में बीजेपी के संगठन ने मौसम का नाम प्रस्तावित किया था लेकिन नेतृत्व ने किसी और को प्रत्याशी बनाया और हमने उन्हें जीता कर लोकसभा भेजा था. भारतीय जनता पार्टी का नेतृत्व जिस पैमाने पर टिकट देता है उसमें मेरी बेटी मौसम अन्य कार्यकर्ताओं से कहीं से भी कम नहीं है. वो इंजीनियर है, नागपुर विश्वविद्यालय की टॉपर है. सिंधिया कन्या विद्यालय की भी टॉपर रही है और उसने अपना दावा रखा है.

आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव के लिए भी नेताओं ने अपनों के लिए टिकट को लेकर काफी बयानबाजी की थी और कई नेताओं के अपनों को टिकट मिला भी था. ऐसे में सत्ता के सेमीफायनल के बाद क्या सत्ता के फाइनल में भी नेताओं के अपने टिकट पाने में कामयाब होंगे, यह नामों के ऐलान के बाद पता चलेगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay