एडवांस्ड सर्च

भद्रक: BJD छोड़ BJP में शामिल हुए मौजूदा MP, बेटे को मिला टिकट

भद्रक लोकसभा सीट से 8 उम्मीदवार मैदान में हैं. सांसद अर्जुन चरण सेठी अलग-अलग दलों के टिकट पर इस सीट से 8 बार सांसदी का चुनाव जीत चुके हैं. हालांकि बीजेडी ने इस बार उन्हें टिकट नहीं दिया है. अर्जुन चरण सेठी बीजेडी छोड़कर बीजेपी में शामिल हो चुके हैं. बीजेपी ने इस सीट से अर्जुन चरण सेठी से बेटे अभिमन्यू सेठी को टिकट दिया है.

Advertisement
पन्ना लालनई दिल्ली, 24 April 2019
भद्रक: BJD छोड़ BJP में शामिल हुए मौजूदा MP, बेटे को मिला टिकट ओडिशा की एक चुनावी सभा में पीएम मोदी का कटआउट (फोटो-TWITTER/BJP4Odisha)

भद्रक लोकसभा सीट पर 29 अप्रैल को मतदान है. ओडिशा की प्रचंड गर्मी में इस सीट पर जोरों का प्रचार अभियान चल रहा है. इस सीट से 8 उम्मीदवार मैदान में हैं. मौजूदा बीजेडी सांसद अर्जुन चरण सेठी अलग-अलग दलों के टिकट पर इस सीट से 8 बार सांसदी का चुनाव जीत चुके हैं. हालांकि बीजेडी ने इस बार उन्हें टिकट नहीं दिया है. अर्जुन चरण सेठी बीजेडी छोड़कर बीजेपी में शामिल हो चुके हैं. बीजेपी ने इस सीट से अर्जुन चरण सेठी से बेटे अभिमन्यू सेठी को टिकट दिया है. बीजेडी ने इस बार इस सीट से मंजूलता मंडल को मैदान में उतारा है , जबकि कांग्रेस ने मधुमिता सेठी को टिकट दिया है. इस सीट से टीएमसी और बहुजन समाज पार्टी भी मैदान में हैं.  

भद्रक लोकसभा सीट का विस्तार बालेश्वर और भद्रक जिले में हैं. एक जिले के रुप में भद्रक 1 अप्रैल 1993 को वजूद में आया. भद्रक लोकसभा सीट पिछले 20 साल से बीजू जनता दल की राजनीति का केन्द्र बना रहा है.  भद्रक ओडिशा का सुरक्षित (अनुसूचित जाति) लोकसभा सीट है. इस शहर का नाम मशहूर भद्रकाली मंदिर के नाम पर पड़ा है. ये मंदिर सालंदी नदी के किनारे स्थित है.

राजनीतिक पृष्ठभूमि

भद्रक लोकसभा सीट कांग्रेस और बीजू जनता दल का वर्चस्व रहा है. आजादी के बाद हुए चुनावों में यहां से कांग्रेस ने जीत हासिल की. 1951, 57 और 62 में कान्हू चरण जेना सांसद बने. 1967 में स्वतंत्र पार्टी के धरणीधर जेना को जीत मिली. 1971 में कांग्रेस ने फिर वापसी की, 1977 में ये सीट जनता पार्टी के बैरागी जेना ने जीती. 1980 और 84 में एक बार फिर से कांग्रेस ने इस सीट पर दबदबा कायम किया. 1989 और 1991 में जनता दल यहां वापसी करने में सफल रही. 1996 में कांग्रेस ने ये सीट फिर से जनता दल से छीन ली. दिसंबर 1997 में बीजू जनता दल का गठन होने के बाद अर्जुन चरण सेठी नवीन पटनायक के साथ हो लिए. उसके बाद से अबतक के हर लोकसभा चुनाव में इस सीट पर अर्जुन चरण सेठी जीतते रहे हैं.

2014 का जनादेश

2014 के लोकसभा चुनाव में भद्रक से जीतकर अर्जुन चरण सेठी ने रिकॉर्ड कायम कर दिया. वह इस सीट से आठवीं बार चुने गए. देश में मोदी लहर के बावजूद इस सीट पर उनकी बादशाहत कायम रही. उन्हें 5 लाख 2 हजार 338 वोट मिले. कांग्रेस के संग्राम केशरी जेना को 3 लाख 22 हजार 979 वोट मिले. 2 लाख 16 हजार 617 वोट लाकर बीजेपी के शरत दास तीसने नंबर पर रहे. बाकी अन्य दलों का यहां कोई खास वजूद नहीं है.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay