एडवांस्ड सर्च

MP: जीत-हार पर पार्टी नेताओं के बीच अनोखी शर्त, कांग्रेस नेता ने मुंडवाए बाल

मध्य प्रदेश में बीजेपी की जबरदस्त जीत के बाद राजगढ़ में एक अनोखी शर्त चर्चा का विषय बनी हुई है. नतीजों से पहले राजगढ़ में कांग्रेस नेता बापूलाल सेन और बीजेपी नेता रामबाबू मंडलोई के बीच अनोखी शर्त लगी थी.

Advertisement
aajtak.in
रवीश पाल सिंह भोपाल, 24 May 2019
MP: जीत-हार पर पार्टी नेताओं के बीच अनोखी शर्त, कांग्रेस नेता ने मुंडवाए बाल कांग्रेस नेता बापूलाल सेन

लोकसभा चुनाव में बीजेपी और एनडीए को मिली भारी भरकम जीत ने विपक्षी पार्टियों के नेताओं का दिल ज़ाहिर तौर पर भारी कर दिया है. इसी के साथ मध्य प्रदेश में 29 में से 28 सीटों पर बीजेपी ने जबरदस्त जीत दर्ज की है.

इस जीत के बाद राजगढ़ में एक अनोखी शर्त भी चर्चा का विषय बनी हुई है. दरअसल नतीजों से पहले राजगढ़ में कांग्रेस नेता बापूलाल सेन और बीजेपी नेता रामबाबू मंडलोई के बीच अनोखी शर्त लगी थी. शर्त ये थी कि अगर कांग्रेस जीती तो बीजेपी नेता रामबाबू अपना सिर मुंडवाएंगे और अगर बीजेपी जीती तो कांग्रेस नेता बापूलाल सेन अपना सिर मुंडवाएंगे.

mp_052419050003.jpgकांग्रेस नेता बापूलाल सेन

इस शर्त में गए कांग्रेस नेता के बाल

अब जब देशभर में मोदी लहर के कारण बीजेपी को जबरदस्त बहुमत मिला है तो इस शर्त के मुताबिक, कांग्रेस नेता बापूलाल सेन ने शुक्रवार को सरेआम हराना गांव में बीजेपी कार्यकर्ताओं के सामने अपना सिर मुंडवा लिया है. बापूलाल सेन ने मध्यप्रदेश में कांग्रेस की हार के पीछे राहुल गांधी के 10 दिन में कर्ज माफी वाले बयान को दोषी माना और कहा कि राहुल गांधी को 10 दिन की बजाय किसानों को तीन महीने का समय देना चाहिए था क्योंकि सही समय पर किसानों का कर्ज माफ नहीं होने से किसानों में गुस्सा था और इसका खामियाजा पार्टी को भुगतना पड़ा.

उज्जैन में शहर महामंत्री ने मुंडवाया सिर

वहीं, उज्जैन में भी कांग्रेस की हार का असर देखने को मिला जब शहर महामंत्री ने कांग्रेस की हार के बाद अपना सिर मुंडवाया. दरअसल, कांग्रेस के शहर महामंत्री धर्मेंद्र भटनागर ने तीन दिन पहले अति उत्साह में आकर केंद्र में कांग्रेस की सरकार नहीं बनने पर कार्यालय के नीचे सिर मुंडवाने की घोषणा की थी.

मध्य प्रदेश में बीजेपी की बड़ी जीत

बता दें कि मध्य प्रदेश में बीजेपी की बड़ी जीत हुई और कांग्रेस बुरी तरह फेल हो गई है. मध्य प्रदेश में बीजेपी को 28 सीटें मिली हैं और कांग्रेस केवल एक ही सीट जीत पाई. बीजेपी की इस जीत में कांग्रेस के कई दिग्गज नेता पिछड़ गए. वहीं, सीहोर में नतीजे देखकर सीहोर जिला कांग्रेस अध्यक्ष रतन सिंह ठाकुर की हार्टअटैक से मौत हो गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay