एडवांस्ड सर्च

AAP को ईवीएम से छेड़खानी पर शक, तैनात किए 20 कार्यकर्ता

आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी राघव चड्ढा ने कहा कि हमें भारतीय जनता पार्टी पर पूरा भरोसा है कि वो चुनाव प्रभावित करने की कोशिश करेगी. लोगों के वोट कटवाने से लेकर, लोगों को वोट देने से रोकने और ईवीएम में छेड़खानी तक कर रही है. बीजेपी अब भी देश के किसी  भी स्ट्रांग रूम में घुसकर ईवीएम से छेड़खानी करने की इच्छा और ताकत रखती है.

Advertisement
पंकज जैन [Edited By: अभिषेक शुक्ल]नई दिल्ली, 16 May 2019
AAP को ईवीएम से छेड़खानी पर शक, तैनात किए 20 कार्यकर्ता AAP का आरोप, ईवीएम में हो सकती है छेड़छाड़ (तस्वीर- राघव चड्ढा)

दिल्ली में 12 मई को हुई वोटिंग के बाद आम आदमी पार्टी(AAP) के उम्मीदवार काउंटिंग सेंटर में कार्यकर्ताओं की तैनाती कर स्ट्रांग रूम की निगरानी कर रहे हैं. साउथ दिल्ली के जीजाबाई इंस्टीट्यूट को काउंटिंग सेंटर बनाया गया है और इसके भीतर सीलबंद स्ट्रांग रूम में EVM मशीन रखी गई है. इसी बीच साउथ दिल्ली से 'AAP' उम्मीदवार राघव चड्ढा ने बीजेपी पर ईवीएम में छेड़खानी का आरोप लगाया है.

बुधवार को राघव चड्ढा काउंटिंग सेंटर का जायजा लेने के लिए पहुंचे. उन्होंने बताया कि 12 मई को चुनाव समाप्त होने के बाद रोजाना काउंटिंग सेंटर के दो बार चक्कर लगा रहे हैं. साथ ही आम आदमी पार्टी ने कार्यकर्ताओं की एक फौज बनाई है, जिसे काउंटिंग सेंटर के अंदर तैनात किया है, जो स्ट्रांग रूम की निगरानी करेंगे.

राघव ने आगे कहा कि 'कार्यकर्ता पूरी बिल्डिंग की सीसीटीवी फुटेज पर नज़र रखेंगे. कौन व्यक्ति आ रहा है, कौन जा रहा है. आम आदमी पार्टी के 20 वालंटियर्स सुरक्षा के इंतजाम पर नज़र रखेंगे. ये सभी वालंटियर दो-दो की संख्या में हर 8 घंटे में शिफ्ट बदलेंगे.'

कार्यकर्ताओं की तैनाती पर सवाल पूछने पर राघव चड्ढा ने भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) पर बड़ा आरोप लगाया. राघव ने कहा कि 'हमें भारतीय जनता पार्टी पर पूरा भरोसा है कि वो चुनाव प्रभावित करने की कोशिश करेगी. लोगों के वोट कटवाने से लेकर, लोगों को वोट देने से रोकने और ईवीएम में छेड़खानी तक कर रही है. बीजेपी अब भी देश के किसी  भी स्ट्रांग रूम में घुसकर ईवीएम से छेड़खानी करने की इच्छा और ताकत रखती है. इसलिए हम नज़र बनाये हुए हैं कि अगर प्रशासन बीजेपी को नहीं पकड़ पाए तो आम आदमी पार्टी उन्हें पकड़ ले. दक्षिणी दिल्ली से रमेश बिधूड़ी की हार निश्चित है और हर से बौखलाए बीजेपी के नेता ईवीएम में छेड़खानी का प्रयास कर सकते हैं.

पूरे मामले में 'आजतक' ने साउथ दिल्ली के काउंटिंग सेंटर की जिम्मेदारी सम्भाल रहीं जिला अधिकारी निधि श्रीवास्तव से बातचीत की. उन्होंने बताया कि स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के लिए बेहद सख्त गाइडलाइन हैं. पैरामिलिट्री फोर्स के साथ दिल्ली पुलिस तैनात की गई है. इसके अलावा स्ट्रांग रूम के आसपास और स्ट्रांग रूम के अंदर हर गतिविधि को सीसीटीवी कैमरे में 24 घण्टे क़ैद किया जाता है. सीसीटीवी के लिए बाकायदा पावर बैकअप दिया जाता है ताकि एक सेकेंड का फुटेज भी रिकॉर्ड होने से न चूके.

आगे जिला अधिकारी निधि श्रीवास्तव ने बताया कि स्ट्रांग रूम की एक फीड राजनीतिक दलों के लिए टीवी स्क्रीन के माध्यम से अलग से दिखाई जाती है, जहां पार्टी के कार्यकर्ता कभी भी देख सकते हैं. उन्होंने कहा कि इसका मकसद है कि पारदर्शिता बनी रहे और राजनीतिक दल संतुष्ट रहें. कई राजनीतिक दलों के वॉलंटियर्स को रिटर्निंग ऑफिसर द्वारा आईडी कार्ड भी मुहैया किये गए हैं.

आपको बता दें कि 'आजतक' को मिली जानकारी के मुताबिक साउथ दिल्ली के काउंटिंग सेंटर में ईवीएम मशीन को अलग अलग कमरों में क़ैद किया गया है. कमरे के बाहर और अंदर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं. साउथ दिल्ली लोकसभा की हर विधानसभा के लिए अलग रूम है. रूम को सीलयुक्त ताला लगाकर बन्द किया गया है, जहां पैरामिलिट्री फोर्स भी तैनात है. कमरे के अंदर और बाहर सीसीटीवी को चुनाव आयोग की एक टीम 24 घण्टे मॉनिटर करती है. जानकारी के मुताबिक पैरामिलिट्री फोर्स की तीन कंपनियां और दिल्ली पुलिस के 250 से ज्यादा जवान साउथ दिल्ली के काउंटिंग सेंटर में तैनात किए गए हैं.

साउथ दिल्ली के काउंटिंग सेंटर में करीब 250 सीसीटीवी लगे हुए हैं. दिलचस्प बात यह है कि हर कमरे के बाहर, विधानसभा का नाम और अन्य जानकारी वाला का एक रंगीन बोर्ड लगाया है. हर कमरे के बाहर अलग-अलग रंग का बोर्ड मौजूद है.

 चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़ लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay