एडवांस्ड सर्च

झारखंड की रैली में PM मोदी ने नागरिकता बिल पर खेला दलित कार्ड

झारखंड के धनबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान के जमीनदारी ने अपनी सेवा के लिए बसाया था. इन दलित के साथ आमनवीय कार्य किए गए और उत्पीड़न हुए. इतना ही उनके मंदिर, चर्च और गुरुद्वारों पर भी जुल्म किए गए. इसी के चलते पाकिस्तान से लाखों हमारे साथी भारत आए और दशकों से भारत के अलग-अलग जगह पर रहते हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 12 December 2019
झारखंड की रैली में PM मोदी ने नागरिकता बिल पर खेला दलित कार्ड धनबाद की रैली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

झारखंड विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण की एक तरफ वोटिंग हो रही तो दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चौथे चरण की सीट धनबाद में रैली को संबोधित करते हुए नागरिकता बिल पर दलित कार्ड खेला. पीएम ने कहा कि पाकिस्तान से जो अल्पसंख्यक आए हैं, उनमें ज्यादातर लोग दलित समुदाय से हैं, जिनके साथ वहां पर उत्पीड़न और अत्याचार हुए हैं. पीएम ने कहा कि भाजपा ही है जो संकल्प लेने के बाद पूरा जरूर करती है. उन्होंने कहा कि हम जो वादा करते हैं उसे पूरी ईमानदारी से निभाते हैं.

पीएम ने कहा कि 1947 भारत के टुकड़े हुए 1971 में बंगालदेश बना तो सबसे ज्यादा प्रभावित वहां के अल्पसंख्यक हुए. पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बंगालादेश में अल्पसंख्यक अधिकतर हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन और ईसाई थे. इन लोगों ने 1947 में अलग देश की मांग भी नहीं की थी, उन पर ये थोपा गया था. पाकिस्तान में जो हिंदू थे, इनमें ज्यादातर दलित समुदाय के लोग ही थे, जो वहां पर साफ सफाई का काम करते थे.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के जमीनदारी ने अपनी सेवा के लिए बसाया था. इन दलित के साथ आमनवीय कार्य किए गए और उत्पीड़न हुए. इतना ही उनके मंदिर, चर्च और गुरुद्वारों पर भी जुल्म किए गए. इसी के चलते पाकिस्तान से लाखों हमारे साथी भारत आए और दशकों से भारत के अलग-अलग जगह पर रहते हैं. उन्हें राजनीतिक रूप से इस्तेमाल तो किया गया, लेकिन कांग्रेस उन्हें नागरिकता नहीं दिया. कांग्रेस ने वादा किया था कि पाकिस्तान, बंगलादेश अफगानिस्तान से आए लोगों को नागरिकता देंगे. लेकिन कल राज्यसभा में पलट गए और कांग्रेस ने भी उनके साथ वही पाकिस्तान की तरह बर्ताव किया.

पीएम ने कहा कि अफगानिस्तान में जब तालिबान में हमले बढ़े तो वहां के ईसाई भाई भारत आए. वो भी यहीं के थे. अब जब हमने ईसाई परिवार, दलित परिवार और वंचित परिवार को नागरिकता देने का प्रावधान बनाया तो कांग्रेस इसका विरोध कर रही है. कांग्रेस को पता है कि दलित और आदिवासियों ने उसे ठुकरा दिया है तो उन्हें एक ही वोटबैंक के सहारा नजर आ रहा है. इसीलिए वो बार-बार नागरिकता कानून से मुसलमानों को भ्रमित कर रहे हैं, लेकिन साफ कह दूं कि यहां के रहने वाले किसी भी मुसलमानों को कई परेशानी नहीं होगी.

कांग्रेस हमेशा बोलती है झूठ-मोदी

साथ ही नरेंद्र मोदी ने कहा कि बीजेपी जो संकल्प लेती है, उसे पूरा करती है. कांग्रेस की तरह हम झूठ नहीं बोलते हैं. बीजेपी ने छह महीने में करके दिखाया है कि संकल्प कितने भी बड़े और मुश्किल भरे हो, लेकिन इरादे राष्ट्रहित में हो तो हरहाल में पूरे होते हैं. अनुच्छेद 370 को हटाने और मुस्लिम मां-बहनो को तीन तलाक से निजात दिलाने सहित पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बंगलादेश से आए अल्पसंख्यक शरणार्थियों को नागरिकता देने को अमलीजामा पहनाया.

पीएम ने कहा कि कांग्रेस ने देश में एक विचित्र माहौल बनाया, जिसके बाद घोषणा पत्रों और नेताओं पर लोगों का विश्वास करीब करीब उठ ही गया था. लोगों को लगने लगा था कि जनता चुनाव के दौरान घोषणा करते हैं और भूल जाते हैं. देश के लोगों में यह भावना कांग्रेस के चलते ही हुई. कांग्रेस और उसके सहयोगी यही करते रहे हैं.

किसानों से किए हर वादे को किया पूरा

पीएम ने कहा कि छह महीने पहले हम यहां आए थे तो वादा किया था कि सीधी मदद पहुंचाएंगे. हमने वादा किया था तो निभाया. छोटे किसान, छोटे व्यापारी से किए वादे को पूरा किया. हमने कहा था कि 2024 तक देश के हर घर को जल देने का काम करेंगे. सरकार बनते ही इस संकल्प को पूरा करने के लिए हमने जल शक्ति मंत्रालय बनाया और 2024 तक इस सपने को पूरा कर रहे हैं. इस सपने को पूरा करने के लिए साढे़ तीन लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे ताकि माताओं-बहनों को पानी के लिए जो दिक्कत होती है उससे मुक्ति मिलेगी.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम जानते हैं कि यहां पानी की दिक्कतें है, जिसके लिए हमने बीड़ा उठाया है. बीजेपी ने कहा था कि देश में एक ही संविधान लागू करेंगे, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हट चुका है और भारत का संविधान पूरी तरह से लागू है. 370 हटाने का वादा पूरा किया कि नहीं. एक बड़ा निर्णय को पूरा करने का काम किया.

अयोध्या में अब भव्य राम मंदिर बनेगा

पीएम ने कहा कि हमने कहा था कि राम जन्मभूमि  को लेकर जो विवाद सदियों से चल रहा था, जिसको कांग्रेस ने जानबूझकर उलझाया. हमने कहा था कि हमारे संकल्प पत्र में लिखा था कि रामजन्मभूमि को शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाएंगे. आप खुद ही देख रहे हैं कि अयोध्या में राममंदिर के लिए सारी अड़चनें हट चुकी हैं. देश ने एकता और भाई चारा दिखा दिया. देश में सभी संप्रदाय के लोगों मिलकर कैसे रहते हैं इसे पूरी दुनिया को संदेश दे दिया है.

तीन तलाक से मुस्लिम बहन नहीं बल्कि मुस्लिम भाई की मदद की है

पीएम ने कहा कि हमने ये भी कहा था कि तीन तलाक कुप्रथा से माताओं-बहनों को मुक्ति दिलाकर रहेंगे, मुक्ति दिलाना. यह कानून बन चुका है. मुस्लिम मां-बहनों को इस नर्क से दूर किया. हमने वोटबैंक की चिंता नहीं रहती है. ये तीन तलाक मुस्लिम बहनों की मदद करता और मुस्लिम भाइयों की भी मदद करता है. हर भाई उसकी बहन अगर से तीन तलाक के कारण उसके पास आ जाए तो भाई को मुसीबत होगी कि नहीं होगी. कोई बेटी अगर तीन तलाक के कारण घर लौटकर आ जाए तो पिता को परेशानी होगी. तीन तलाक से पूरा परिवार परेशान हो जाता है. इससे हमने मुस्लिम परुषों की भी मदद की.

इस दौरान मुख्यमंत्री रघुवर दास ने संसद से बुधवार को पास हुए नागरिकता संशोधन बिल के लिए पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया. सीएम रघुवर दास ने कहा कि 2014 से पहले देश में जातिवाद और संप्रदायवाद की राजनीति करते हुए पूर्व की कांग्रेस और झारखण्ड मुक्ति मोर्चा की सरकारों ने इस देश को लूटने का और विकास को बाधित करने का काम किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay