एडवांस्ड सर्च

झारखंड: क्या बीजेपी का एक धड़ा बागी सरयू राय के साथ खड़ा है

झारखंड में सरयू राय के बहाने बीजेपी में मुख्यमंत्री रघुवर दास का विरोधी खेमा सक्रिय हो रहा है और फिलहाल अंदरखाने माहौल बनाने में जुटा है. साथ ही बीजेपी की ओर से अभी तक बागी सरयू राय के खिलाफ किसी तरह का कोई अनुशासनात्मक कार्रवाई नहीं की गई है.

Advertisement
aajtak.in
सत्यजीत कुमार रांची, 19 November 2019
झारखंड: क्या बीजेपी का एक धड़ा बागी सरयू राय के साथ खड़ा है सरयू राय और निशिकांत दुबे

  • रघुवर दास के खिलाफ मैदान में उतरे सरयू राय
  • सरयू राय  संग निशिकांत दुबे का फोटो वायरल

झारखंड के सियासी रण में बीजेपी से टिकट कटने पर वरिष्ठ नेता सरयू राय बागी बन गए हैं. मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ सरयू राय ने जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा सीट पर निर्दलीय ताल ठोककर बीजेपी की मुसीबत बढ़ा दी है. इतना ही नहीं सरयू राय के बहाने बीजेपी में मुख्यमंत्री रघुवर दास का विरोधी खेमा भी सक्रिय हो रहा हो रहा है और फिलहाल अंदरखाने माहौल बनाने में जुटे हैं. साथ ही बीजेपी ने अभी तक बागी सरयू राय के खिलाफ किसी तरह का कोई अनुशासनात्मक कदम नहीं उठाया है. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या बीजेपी का एक धड़ा सरयू राय के साथ खड़ा है.

बीजेपी से टिकट कटने के बाद नाराज सरयू राय ने जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा सीट से सोमवार को निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल दिया. जबकि, सरयू राय अभी तक जमशेदपुर पश्चिमी सीट से चुनाव लड़ते रहे हैं. ऐसे में पूर्वी सीट से चुनाव ताल ठोककर सरयू राय सीएम रघुवर दास के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है.

सरयू राय का जवाबी हमला

सरयू राय ने नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा था कि बहुमत की सरकार पर 'रघुवर दाग' लगा है. यह दाग बीजेपी के दामन पर भी है. इसे मोदी डिटर्जेंट भी नहीं धो पाएगा. उन्होंने कहा कि जनता से छल नहीं करना चाहिए उसे बेवकूफ नहीं बनाना चाहिए.  सरयू राय इससे पहले भी रघुवर दास के खिलाफ कई बड़े आरोप लगा चुके हैं. इसके बाद भी बीजेपी ने अभी तक सरयू राय पर किसी तरह की कार्रवाई करने से हिचकिचा रही है.

सरयू राय के खिलाफ बीजेपी शांत

झारखंड के बीजेपी सहप्रभारी बीजेपी नंदकिशोर यादव ने कहा कि हम सरयू राय पर जल्दबाजी में किसी तरह का कोई फैसला नहीं करेंगे. ऐसे में हम नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख तक इंतजार करेंगे और उसके बाद ही सरयू के खिलाफ कोई भी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा सकती है. वही, सरयू राय के बागी तेवर में किसी तरह की कोई कमी नहीं नजर आ रही है.

सरयू राय के संग निशिकांत दुबे का फोटो वायरल

सरयू राय के बहाने मुख्यमंत्री रघुवर दास का विरोधी खेमा सक्रिय हो रहा है. इसी बीच गोड्डा से बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे संग सरयू राय की एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. हालांकि यह फोटो निशिकांत दुबे ने ही 16 नवंबर को पोस्ट किया था और साथ ही मनीर नियाजी का एक शेर भी लिखा, 'जानता हूं एक ऐसे शख्स को मैं भी मुनीर, गम से पत्थर हो गया मगर रोया नहीं.'

सरयू राय के समर्थन में जेएमएम

दरअसल निशिकांत दुबे और सरयू राय के बीच अच्छे संबंध है और दोनों एक-दूसरे को बेहतर समझते है. ऐसे में सरयू के फोटो शेयर करने और कार्रवाई न होने के चलते सवाल उठाता है कि क्या सरयू को बीजेपी में एक गुट का समर्थन और सहानुभूति हासिल है. यहां तक ​​कि विपक्षी दल जेएमएम के नेता हेमंत सोरेन ने भी सरयू राय को नैतिक समर्थन देने की घोषणा की है.

जेएमएम महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने स्वीकार किया है कि सरयू राय भ्रष्टाचार के खिलाफ व्हिसल ब्लोअर की तरह लड़ते रहे हैं. ऐसे में सीएम रघुवर दास के भ्रष्टाचार के मामले को उठाते रहे हैं, जिसके चलते उनका टिकट कटा है. ऐसे में सीएम के खिलाफ लड़ने का साहस दिखाया है ऐसे में हम सभी का समर्थन है. जबकि, इस सीट पर कांग्रेस से गौरव बल्लभ चुनावी मैदान में है और जेएमएम गठबंधन का हिस्सा है. इसके बावजूद जेएमएम ने सरयू राय को समर्थन देने का ऐलान कर दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay