एडवांस्ड सर्च

नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा से पास, पक्ष में 311 और विरोध में पड़े 80 वोट

aajtak.in दिसंबर 10, 2019
अपडेटेड 0:26 IST

नागरिकता संशोधन बिल देर रात तक जारी बहस के बाद लोकसभा से पास हो गया है. विपक्ष के जोरदार हंगामे के बीच गृह मंत्री अमित शाह ने बिल पर जवाब दिया. कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने इस बिल का विरोध किया है. AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने सदन में बहस के दौरान नागरिकता संशोधन बिल की कॉपी फाड़ दी, जिसे बाद में सदन की कार्यवाही से निकाल दिया गया. बिल के पक्ष में 311 और विरोध में 80 वोट पड़े.

Check Latest Updates
Advertisement
नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा से पास, पक्ष में 311 और विरोध में पड़े 80 वोटगृहमंत्री अमित शाह

हाइलाइट्स

  • लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल हुआ पास
  • नागरिकता संशोधन बिल के पक्ष में पड़े 311 वोट
  • नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में पड़े 80 वोट
  • कांग्रेस, टीएमसी, AIMIM ने किया बिल का विरोध
  • 00:13 ISTPosted by Himanshu Kothari

    पीएम मोदी ने दी बधाई

  • 00:06 ISTPosted by Himanshu Kothari

    नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा से पास

    नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा से पास हो गया है. इस बिल के पक्ष में 311 वोट पड़े हैं. वहीं विपक्ष में 80 वोट पड़े हैं.

  • 00:03 ISTPosted by Himanshu Kothari

    असदुद्दीन ओवैसी के संशोधन खारिज

    नागरिकता संशोधन बिल पर वोटिंग की प्रक्रिया चल रही है. इस दौरान सांसद असदुद्दीन ओवैसी के संशोधन को खारिज कर दिया गया. ओवैसी के सुझाए गए पहले संशोधन को 12 तो दूसरे को महज 9 वोट मिले.

  • 23:46 ISTPosted by Himanshu Kothari

  • 23:36 ISTPosted by Himanshu Kothari

    अमित शाह का जवाब खत्म

    नागरिकता संशोधन बिल पर अमित शाह का जवाब खत्म हो गया है. अब संशोधन बिल पर वोटिंग की प्रक्रिया जारी है.

  • 23:30 ISTPosted by Himanshu Kothari

    'बांग्लादेश में 1971 के बाद से अल्पसंख्यकों पर अत्याचार'

    बांग्लादेश में 1971 के बाद से अल्पसंख्यकों पर अत्याचार हुआ. शेख मुजीब-उर-रहमान के बाद से अल्पसंख्यकों पर अत्याचार हुए. हालांकि मौजूद सरकार में ये अत्याचार कम हुए हैं: अमित शाह

  • 23:27 ISTPosted by Himanshu Kothari

    'नेहरू ने पहली बार धर्म के आधार पर नागरिकता दी'

    पीएम नेहरू ने पहली बार धर्म के आधार पर नागरिकता दी. देश का विभाजन ही धर्म के आधार पर हुआ. देश में बिल को लेकर अफवाह फैलाई जा रही है: अमित शाह

  • 23:24 ISTPosted by Himanshu Kothari

    'मूल नागरिकों को खतरा नहीं'

    जो भारत के मूल नागरिक हैं उन्हें कोई खतरा नहीं. वहीं बिल से इस देश के किसी भी मुसलमान का कोई लेना देना नहीं है. यहां का मुसलमान सम्मान से जीएगा. मोदी के पीएम रहते हुए देश का संविधान ही हमारा धर्म है: अमित शाह

  • 23:15 ISTPosted by Himanshu Kothari

    देश में एनआरसी होकर रहेगी: अमित शाह

    इस देश में एनआरसी होकर रहेगी. हमारा घोषणापत्र की हमारा बैकग्राउंड है. एनआरसी के बाद एक भी घुसपैठिया इस देश में नहीं रह जाएगा. हमें मुसलमानों से कोई नफरत नहीं है: अमित शाह

  • 23:14 ISTPosted by Himanshu Kothari

    केरल में कांग्रेस मुस्लिम लीग के साथ: अमित शाह

    नागरिकता संशोधन बिल पर बोलते हुए अमित शाह ने कांग्रेस पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि कांग्रेस जैसी सांप्रदायिक पार्टी हमने नहीं देखी है. केरल में कांग्रेस मुस्लिम लीग के साथ है तो वहीं महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ है.

  • 23:12 ISTPosted by Himanshu Kothari

    'सबको नागरिक बनाना है'

    अमित शाह ने नागरिकता संशोधन बिल पर कहा कि दस्तावेज हो या न हो, अधूरा हो या पूरा हो, सबको नागरिक बनाना है.

  • 23:09 ISTPosted by Himanshu Kothari

    371 को हम कभी भी नहीं छेड़ेंगे: अमित शाह

    371 को हम कभी भी नहीं छेड़ेंगे. पूरे नॉर्थ ईस्ट को इस बात से आश्वस्त करना चाहता हूं. किसी को डरने की जरूरत नहीं है: अमित शाह

  • 23:06 ISTPosted by Himanshu Kothari

    रोहिंग्या को कभी स्वीकार नहीं किया जाएगा: अमित शाह

    जो वोट बैंक के लिए घुसपैठियों को शरण देना चाहता है, हम उन्हें सफल नहीं होने देंगे. वोट के लिए घुसपैठियों को शरण देने वाले चिंतित हैं. रोहिंग्या को कभी स्वीकार नहीं किया जाएगा. रोहिंग्या बांग्लादेश के जरिए भारत आते हैं: अमित शाह

  • 22:55 ISTPosted by Himanshu Kothari

    'रिफ्यूजी पॉलिसी को भारत ने स्वीकार नहीं किया'

    किसी भी रिफ्यूजी पॉलिसी को भारत ने स्वीकार नहीं किया है. पारसी भी प्रताड़ित होकर ईरान से भारत आए थे. कांग्रेस ने जिन्ना की टू नेशन थ्योरी क्यों मानी? कांग्रेस ने विभाजन को क्यों नहीं रोका? PoK हमारा है और वहां के लोग भी हमारे हैं: अमित शाह

  • 22:50 ISTPosted by Himanshu Kothari

    बिल किसी भी धर्म के प्रति भेदभाव नहीं करता: अमित शाह

    बिल किसी भी धर्म के प्रति भेदभाव नहीं करता है. ये बिल एक सकारात्मक भाव लेकर आया है उन लोगों के लिए जो भारत, पाकिस्तान और अफगानिस्तान में प्रताड़ित है. प्रताड़ित शरणार्थी होता है, घुसपैठिया नहीं होता. बिल में संविधान के अनुच्छेद 14, 21, 25 का उल्लंघन नहीं है: अमित शाह

  • 22:47 ISTPosted by Himanshu Kothari

    'पाकिस्तान में 2011 में 3.4 फीसदी हिंदू'

    1947 में पाकिस्तान में 23 फीसदी हिंदू थे लेकिन वहीं साल 2011 में ये आकंड़ा 3.4 फीसदी रह गया. पड़ोसी देशों में अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचारों को देखते हुए भारत मूकदर्शक नहीं बन सकता. वहीं भारत में अल्पसंख्यकों की आबादी बढ़ी है. यहां हिन्दुओं की आबादी के प्रतिशत में कमी आई है जबकि मुस्लिम आबादी के प्रतिशत में बढ़ोतरी हुई है. पड़ोसी देशों के अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्यचारों पर भारत चुप नहीं रहेगा: अमित शाह

  • 22:38 ISTPosted by Himanshu Kothari

    बिल अनुच्छेद 14 का उल्लंघन नहीं करता: अमित शाह

    मैं चाहता हूं देश में भ्रम की स्थिति न बने. किसी भी तरीके से ये बिल गैर संवैधानिक नहीं है. न ही ये बिल अनुच्छेद 14 का उल्लंघन करता है. धर्म के आधार पर ही देश का विभाजन हुआ था. देश का विभाजन धर्म के आधार पर न होता तो अच्छा होता. इसके बाद इस बिल को लेकर आने की जरूरत हुई. 1950 में नेहरू-लियाकत समझौता हुआ था, जो कि धरा का धरा रह गया: अमित शाह

  • 22:36 ISTPosted by Himanshu Kothari

    नागरिकता संशोधन बिल पर जवाब दे रहे हैं गृहमंत्री अमित शाह.

  • 22:21 ISTPosted by Himanshu Kothari

    आम आदमी पार्टी ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध किया

    आम आदमी पार्टी ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध किया है. सांसद भगवंत मान ने कहा, 'इस बिल के जरिए संविधान का कत्ल हो रहा है. आजादी के बाद किसी को भी धर्म के नाम पर नागरिकता नहीं मिली. वहीं अगर अवैध लोगों की पहचान कर ली तो उनका क्या करोगे? कहां लेकर जाओगे इनको? क्या उनके लिए शरणार्थी कैंप बनाओगे? अगर शरणार्थी कैंप बनाओगे तो मुफ्त बिजली-पानी सब देना पड़ेगा. ये बिल हमें लेकर कहां जा रहा है?'

  • 21:56 ISTPosted by Himanshu Kothari

    इस देश को कोई तोड़ नहीं सकता: रविशंकर प्रसाद

    रविशंकर प्रसाद ने कहा कि किसी की हिम्मत नहीं है भारत का बंटवारा कर दे. ये देश मजबूत है. हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई सब मिलकर साथ रहते हैं और इस देश को आगे बढ़ाते हैं. अब इस देश को कोई तोड़ नहीं सकता.

  • 21:53 ISTPosted by Himanshu Kothari

  • 21:24 ISTPosted by Abhishek Shukla

    नगालैंड और मिजोरम के सांसदों ने बिल का किया समर्थन

    नागालैंड के एनडीपीपी से सांसद तोखेहो येपथोपी ने कहा कि मौजूदा नागरिकता विधेयक केंद्र सरकार लेकर आ रही है. नगालैंड की स्थित अन्य राज्यों से अलग है. नॉर्थ ईस्ट विद्रोही समस्या की वजह से बाउंड्री पर फोर्स की तैनाती नगालैंड सीमाओं पर नहीं हो पा रही है. इस बिल से देश में स्थिरता आएगी. केंद्र सरकार के इस बिल को हम समर्थन देते हैं. वहीं मिजोरम के एएनएफ पार्टी के सांसद सी लारोसांगा ने कहा कि हम ऐसे लोगों का समर्थन कर रहे हैं, जो उत्पीड़ित हैं. इसलिए हम इस बिल को समर्थन दे रहे हैं.

  • 20:40 ISTPosted by Himanshu Kothari

    गौरव गोगोई ने नागरिकता बिल का किया विरोध

    गौरव गोगोई ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध करते हुए कहा है कि पहले एनआरसी में सुधार कीजिए. नागरिकता बिल के जरिए बंगाली समाज के लोगों को झूठा दिलासा दिया जा रहा है.

  • 20:36 ISTPosted by Himanshu Kothari

    शिरोमणि अकाली दल ने किया समर्थन

    शिरोमणि अकाली दल ने नागरिकता संशोधन बिल का समर्थन किया है.

  • 20:32 ISTPosted by Himanshu Kothari

    असदुद्दीन ओवैसी ने बिल की कॉपी फाड़ी

    असदुद्दीन ओवैसी ने अपनी बात के आखिर में महात्मा गांधी का जिक्र करते हुए नागरिकता संशोधन बिल की कॉपी को फाड़ दिया.

  • 20:17 ISTPosted by Himanshu Kothari

    नागरिकता बिल से देश को खतरा: असदुद्दीन ओवैसी

    एआईएमआईएम ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध किया है. असदुद्दीन ओवैसी ने बिल का विरोध करते हुए कहा, 'चीन के बारे में सरकार क्यों नहीं बोलती. नागरिकता बिल हिटलर के कानून से भी बदतर है. एक और बंटवारा होने जा रहा है. नागरिकता बिल से देश को खतरा है.'

  • 19:56 ISTPosted by Himanshu Kothari

    मीनाक्षी लेखी का तंज

    नागरिकता संशोधन बिल पर बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने विपक्ष को आड़े हाथों लिया. साथ ही विपक्ष पर तंज भी कसा. मीनाक्षी लेखी ने कहा, 'मुझे लगता है कि अगर ये लोग पाकिस्तानी संसद में होते तो उसे अब तक सुधार चुके होते.'

  • 19:36 ISTPosted by Himanshu Kothari

    कांग्रेस ने किया विरोध

    कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा, 'अगर किसी पीड़ित समुदाय को शरण दे रहे हैं तो हम इसका विरोध नहीं कर रहे हैं लेकिन हमारा विरोध इस बात का है कि इसका मानदंड धर्म को बनाया जा रहा है. इसे बदलना चाहिए. बीजेपी हिंदू राष्ट्र स्थापित करने की तरफ आगे बढ़ रही है.'

  • 19:29 ISTPosted by Himanshu Kothari

    एलजेपी ने नागरिकता बिल का समर्थन किया

    एलजेपी ने नागरिकता बिल का समर्थन किया है. इस बिल को लेकर सांसद चिराग पासवान ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह ने बिल को लेकर तमाम सुझावों का सम्मान किया.

  • 19:25 ISTPosted by Himanshu Kothari

    समाजवादी पार्टी ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध किया

    समाजवादी पार्टी ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध किया है. सांसद एसटी हसन ने कहा है कि इस बिल के कारण मुस्लिमों के मन में डर का माहौल पैदा हुआ है.

  • 19:16 ISTPosted by Himanshu Kothari

    एनसीपी ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध किया

    एनसीपी ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध किया है. एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले ने बिल का विरोध करते हुए कहा है, 'इस बिल को लेकर फिर से विचार किया जाना चाहिए. मेरा कहना है कि अपने देश से किसी को बेघर न करें. यह हमारा मौलिक कर्तव्य है कि हमें हर धर्म के लोगों के साथ खड़ा होना चाहिए. मुझे लगता है कि यह बिल काम नहीं करेगा और सुप्रीम कोर्ट में जरूर अटकेगा. आप इस बिल को कितनी भी अच्छी नीयत से लाए हों, लेकिन आपको इस बिल को लेकर दोबारा विचार करना चाहिए और इस बिल को वापस लेना चाहिए.'

  • 19:01 ISTPosted by Himanshu Kothari

    BSP ने नागरिकता संशोधन बिल का किया विरोध, बताया संविधान विरोधी

    BSP ने नागरिकता संशोधन बिल का किया विरोध है. साथ ही इस बिल को संविधान विरोधी करार दिया है. सांसद अफजल अंसारी ने कहा कि इस्लाम को मानने वालों को स्वीकार नहीं किया जाएगा और दूसरे धर्म को मानने वाले लोगों को इस देश में स्वीकार कर लिया जाएगा तो यह काफी विभाजनकारी है.

  • 18:54 ISTPosted by Himanshu Kothari

    श्रीलंका के तमिलों का क्या होगा?: विनायक राउत

    6 समुदाय के कितने रिफ्यूजी भारत में रह रहे हैं इसकी जानकारी बिल में नहीं है. गृहमंत्री ने इसका भी जवाब नहीं दिया कि जब उन्हें नागरिकता मिल जाएगी तो हमारी जनसंख्या कितनी हो जाएगी. श्रीलंका के तमिलों का क्या होगा?: शिवसेना सांसद विनायक राउत

  • 18:45 ISTPosted by Himanshu Kothari

    नागरिकता संशोधन बिल का जेडीयू ने समर्थन किया

    नागरिकता संशोधन बिल का जेडीयू ने समर्थन किया है. जेडीयू सांसद राजीव सिंह रंजन ने कहा कि यह बिल खास लोगों को सम्मानित करने के लिए नहीं है. यह बिल धर्मनिरपेक्षता के पक्ष में है.

  • 18:16 ISTPosted by Himanshu Kothari

    बीजेपी का भारत का विचार विभाजनकारी: अभिषेक बनर्जी

    अगर इस बिल को आज स्वामी विवेकानंद देखते तो उन्हें काफी धक्का लगता क्योंकि ये भारत के लिए उनके विचारों के खिलाफ है. बीजेपी का भारत का विचार विभाजनकारी है. अगर हम महात्मा गांधी के शब्दों को नजरअंदाज करेंगे और सरदार पटेल की सलाह पर ध्यान नहीं देंगे तो यह विनाशकारी होगा: अभिषेक बनर्जी

  • 17:47 ISTPosted by Himanshu Kothari

    अब विकास का युग आया है: राजेंद्र अग्रवाल

    नागरिकता संशोधन बिल पर बोलते हुए बीजेपी सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस वो दल है, जिसने इस देश के ऊपर सबसे ज्यादा वक्त तक शासन किया. लेकिन अब वोटबैंक की राजनीति का वक्त जा चुका है. अब विकास का युग आया है. अब सबका साथ सबका विकास का युग आया है.

  • 17:23 ISTPosted by Himanshu Kothari

    विधेयक भारत की परंपरा के खिलाफ है: मनीष तिवारी

    कोई भी शरणार्थी हमसे शरण मांगता है तो ये हमारा कर्तव्य बनता है कि बिना उसका मजहब देखे, उसको शरण दें. इस बिल में विरोधाभास है. इस बिल को फिर से देखने की जरूरत है. ये विधेयक भारत की परंपरा के खिलाफ है. भारत का मूलभूत सिद्धांत रहा है कि हम बिना मजहब देखे मानवीय आधार पर शरण दें: मनीष तिवारी

  • 17:19 ISTPosted by Himanshu Kothari

    नागरिकता संशोधन बिल संविधान के खिलाफ है: मनीष तिवारी

    नागरिकता संशोधन बिल संविधान के खिलाफ है. ये विधेयक मूलभूत आधार का उल्लंघन करता है. ये विधेयक भारत के संविधान के मूलभूत अधिकारों का उल्लंघन करता है. अंतर्राष्ट्रीय संधिया भी है जो ये कहती है कि कोई भी शरणार्थी अगर आपके यहां शरण मांगे तो आप इनकार नहीं कर सकते और न ही ये देखा जाएगा कि उनका धर्म क्या है: मनीष तिवारी

  • 17:14 ISTPosted by Himanshu Kothari

    '3 देशों से यहां आए लोगों को नागरिकता देने का प्रावधान'

    जो अल्पसंख्यक बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान इन 3 देशों से यहां आए हैं, इनको यहां नागरिकता देने का प्रावधान है. बंगाल के लोगों को नॉर्थ-ईस्ट के लोगों को यह बात बता देनी चाहिए कि जो शरणार्थी जिस दिन से यहां आए हैं, उनको उस दिन से ही नागरिकता दी जानी चाहिए: अमित शाह

  • 17:08 ISTPosted by Himanshu Kothari

    कार्यवाही होगी खत्म: अमित शाह

    अल्पसंख्यक प्रवासी के खिलाफ कोई भी कार्यवाही जो चल रही होगी, वह भारत की नागरिकता मिलने के साथ ही खत्म हो जाएगी. नागरिकता बिल लाखों लोगों की नरकपूर्ण जिंदगी से मुक्ति दिलाने वाला बिल है: अमित शाह

  • 17:04 ISTPosted by Himanshu Kothari

    मणिपुर में इनर लाइन परमिट लागू होगा: अमित शाह

    अमित शाह ने कहा कि सीमाओं की सुरक्षा सरकार का कर्तव्य है. मणिपुर में इनर लाइन परमिट लागू होगा. किसी का अधिकार नहीं छीना जा रहा है. हम बदलाव को स्वीकार करते हैं, बदलाव को समाहित करते हैं.

  • 16:51 ISTPosted by Himanshu Kothari

    बीजेपी के घोषणा पत्र का हिस्सा: अमित शाह

    नागरिकता बिल 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों में बीजेपी के घोषणा पत्र का हिस्सा रहा है. अगर बिल से भेदभाव साबित होता है तो बिल को वापस ले लूंगा. बिल को राजनीतिक पार्टी के आधार पर न देखें. कांग्रेस साबित करे कि बिल किसी के साथ भेदभाव करता है: अमित शाह

  • 16:47 ISTPosted by Himanshu Kothari

    कोई राजनीति एजेंडा नहीं: अमित शाह

    नागरिकता बिल के पीछे कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं है. हम नागरिकता बिल को लागू करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. अल्पसंख्यकों को लेकर भेदभाव नहीं कर रहे: अमित शाह

  • 16:42 ISTPosted by Himanshu Kothari

    लोगों को मिलेगा न्याय: अमित शाह

    मैं सदन को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि इससे लोगों को न्याय ही मिलेगा. लोग 70 सालों से न्याय का इंतजार कर रहे हैं. ये संवैधानिक प्रक्रिया है: अमित शाह

  • 14:11 ISTPosted by Mohit Grover

    जब सांसदों से बोले लोकसभा स्पीकर ओम बिरला- इतना जोश मत दिखाया करो

  • 14:10 ISTPosted by Mohit Grover

    नागरिकता बिल पर संसद में बोले अमित शाह- .001% भी अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं बिल

  • 13:38 ISTPosted by Mohit Grover

    बिल पेश होने के पक्ष में मतदान

    लोकसभा में नागरिकता बिल पेश होगा. पेश होने के लिए जो वोटिंग हुई उसमें 293 हां के पक्ष में और 82 विरोध में वोट पड़े. लोकसभा में इस दौरान कुल 375 सांसदों ने वोट किया.

  • 13:30 ISTPosted by Mohit Grover

    नागरिकता बिल के पेश होने पर विपक्ष ने विरोध किया है और अब बिल के पेश होने पर वोटिंग होगी.

  • 13:27 ISTPosted by Mohit Grover

    अमित शाह ने कहा कि इस बिल की जरूरत कांग्रेस की वजह से पड़ी. धर्म के आधार पर कांग्रेस ने देश का विभाजन किया. इस बिल की जरूरत नहीं पड़ती अगर कांग्रेस ऐसा नहीं करती, कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश को बांटा.

  • 13:17 ISTPosted by Mohit Grover

    अमित शाह ने इस दौरान कहा कि हमारे देश की 106 किमी. सीमा अफगानिस्तान से सटी है, ऐसे में उसे शामिल करना जरूरी था. मैं इसी देश का हूं और भूगोल जानत हूं. शायद ये लोग PoK को भारत का हिस्सा नहीं मानते हैं.

  • 13:12 ISTPosted by Mohit Grover

    विपक्षी नेताओं की तरफ से आर्टिकल 14 पर जो सवाल खड़े किए गए, उसपर अमित शाह जवाब दे रहे हैं. अमित शाह ने इस दौरान कहा कि इस बिल में संविधान का कोई उल्लंघन नहीं हुआ है.

  • 12:59 ISTPosted by Mohit Grover

    ओवैसी ने किया बिल का विरोध...

    असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि सेक्युलिरिज्म इस मुल्क का हिस्सा है, ये एक्ट फंडामेंटल राइट का उल्लंघन करता है. ये बिल लाकर सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन हो रहा है. इस मुल्क को इस कानून से बचा ले लीजिए, गृह मंत्री को बचा लीजिए.

  • 12:39 ISTPosted by Mohit Grover

    अधीर रंजन और अमित शाह में तीखी बहस...

    कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि इस बिल के पेश होने से संविधान के आर्टिकल 14 का उल्लंघन किया गया है, लेकिन अमित शाह ने कहा कि इस बिल के आने से अल्पसंख्यकों पर कोई असर नहीं होगा. ये बिल अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं है.

  • 12:39 ISTPosted by Mohit Grover

    लोकसभा में नागरिकता बिल पर तीखी बहस

    लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पेश हो गया है, लेकिन इस बिल के पेश करने पर ही संसद में हंगामा हो गया है. कांग्रेस, टीएमसी समेत कुछ विपक्षी पार्टियों ने इस बिल के पेश होने का ही विरोध किया. कांग्रेस का कहना है कि इस बिल का पेश होना ही संविधान के खिलाफ है. लेकिन अमित शाह ने कहा कि जब बिल पर चर्चा होगी तब वह जवाब देंगे.

  • 12:24 ISTPosted by Mohit Grover

    अमित शाह ने पेश किया नागरिकता बिल

    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में नागरिकता बिल को पेश किया. इसपर अधीर रंजन चौधरी ने विरोध जताया जिसपर अमित शाह ने जवाब दिया. अमित शाह ने अधीर रंजन को जवाब देते हुए कहा कि ये बिल कहीं पर भी इस देश के अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं है.

  • 12:18 ISTPosted by Mohit Grover

  • 12:18 ISTPosted by Mohit Grover

    नागरिकता बिल पेश होने से पहले लोकसभा में हंगामा हुआ है. कांग्रेस सांसदों द्वारा पिछले शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ टिप्पणी की गई थी. कुछ सांसद उनकी ओर बढ़े भी थे, अब इसी पर भाजपा माफी की मांग पर अड़ गई है.

  • 12:02 ISTPosted by Mohit Grover

    समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव का कहना है कि उनकी पार्टी नागरिकता बिल का विरोध करेगी.

  • 11:58 ISTPosted by Mohit Grover

    लोकसभा में चर्चा करेंगे ये सदस्य..


    भारतीय जनता पार्टी की ओर से नागरिकता संशोधन बिल पर बहस के दौरान ये सदस्य अपनी बात रखेंगे.
    Kiren Rijiju
    S S Ahluwalia
    Rajinder Agarwal
    Satyapal Singh
    Shankar Lalwani
    Dilip Sakia
    Locket Chatterjee
    Pallab Lochan Das
    Meenakshi Lekhi
    Shantanu Thakur
    Soumitra Khan

  • 11:48 ISTPosted by Mohit Grover

    AIUDF पार्टी जंतर मंतर पर नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ जंतर मंतर पर प्रदर्शन कर रही है.

  • 11:36 ISTPosted by Mohit Grover

    नागरिकता बिल अब से कुछ देर में पेश होने वाला है. बिल के विरोध में असम में आज बंद बुलाया गया है.

  • 11:08 ISTPosted by Mohit Grover

  • 11:03 ISTPosted by Mohit Grover

    नागरिकता बिल के समर्थन में आई AIADMK

    AIADMK  नागरिकता संशोधन बिल के समर्थन में आ गई है. बता दें कि AIADMK के राज्यसभा में 11 सांसद हैं.

  • 11:00 ISTPosted by Mohit Grover

    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह लोकसभा पहुंच गए हैं. दोपहर 12 बजे वह लोकसभा में नागरिकता कानून बिल पेश करेंगे. 


  • 10:37 ISTPosted by Mohit Grover

    आज ही पास होगा बिल?

    संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा है कि केंद्र सरकार आज ही नागरिकता बिल को लोकसभा में पास कराएगी. यानी इस बिल पर लोकसभा में सोमवार को ही चर्चा हो सकती है.

  • 10:36 ISTPosted by Mohit Grover

    इनर लाइन परमिट में मणिपुर भी हो सकता है शामिल

    गृह मंत्रालय सूत्रों की मानें तो नागरिकता कानून के तहत मणिपुर की चिंताओं को भी देखा गया है. इनर लाइन परमिट में मणिपुर को भी शामिल किया जा सकता है, अभी तक अरुणाचल, नगालैंड और मिजोरम को ही शामिल किया गया था. इससे पहले 1950 से लेकर अभी तक सभी को फॉरेन ऑफिस में रजिस्टर करने की जरूरत थी.

  • 10:22 ISTPosted by Mohit Grover

    शिया वक्फ बोर्ड की अमित शाह को चिट्ठी

    शिया वक्फ बोर्ड के प्रमुख वसीम रिज़वी ने गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखी है. इसमें लिखा गया है कि नागरिकता संशोधन बिल में शियाओं को भी शामिल किया जाए.

  • 10:13 ISTPosted by Mohit Grover

    नागरिकता कानून पर शिवसेना का चैलेंज

    शिवसेना नेता संजय राउत ने सोमवार को ट्वीट किया कि अवैध नागरिकों को बाहर करना चाहिए, हिंदुओं को भारत की नागरिकता देनी चाहिए. लेकिन उन्हें कुछ समय के लिए वोटिंग का अधिकार नहीं देना चाहिए. क्या कहते हो अमित शाह? और कश्मीरि पंडितों का क्या हुआ, क्या 370 हटने के बाद वो वापस जम्मू-कश्मीर में पहुंच गए?



  • 10:10 ISTPosted by Mohit Grover

    नागरिकता कानून पर विवाद क्यों? पहले क्या था और अब क्या? 10 पॉइंट में समझें

    इस बिल के तहत देश में आए शरणार्थियों को मिलने वाली नागरिकता को लेकर नियम पूरी तरह से बदल जाएंगे. केंद्र सरकार के इस कानून का विपक्षी पार्टियां विरोध कर रही हैं और इसे भारत के मूल नियमों के खिलाफ बता रही हैं. इस बिल में क्या विवादित है, पहले क्या था और अब क्या होने जा रहा है. जानें बिल से जुड़ी 10 बातें... नागरिकता कानून पर विवाद क्यों? पहले क्या था और अब क्या? 10 पॉइंट में समझें

  • 10:07 ISTPosted by Mohit Grover

    असम में संगठनों ने बुलाया बंद

    सिर्फ असम में इस बिल के विरोध में सोमवार को 16 संगठनों ने 12 घंटे का बंद बुलाया है. इनके अलावा आदिवासी छात्रों ने भी इस बंद का समर्थन किया है, असम के अलावा अन्य राज्यों में भी बिल के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है. नागरिकता कानून से पहले एनआरसी का भी भरपूर विरोध किया गया था.

  • 08:41 ISTPosted by Mohit Grover

    बेंगलुरु IIM की सांसदों को चिट्ठी


    संसद में नागरिकता संशोधन बिल आने से पहले बेंगलुरु के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट के टीचर, छात्र और कर्मचारियों ने सांसदों के नाम एक चिट्ठी लिखी है. इस चिट्ठी में सांसदों से अपील की गई है कि वो इस बिल का विरोध करें. इसके लिए आने वाली पीढ़ियां उन्हें सलाम करेंगी. इसमें कहा गया है कि नागरिकता संशोधन बिल हमारे मूल अधिकार के खिलाफ है, जो हमें संविधान से मिले हैं.

  • 08:41 ISTPosted by Mohit Grover

    CPI (M) करेगी दो बड़ी मांग


    सीपीआई (एम) की ओर से नागरिकता कानून में दो बदलाव करने की मांग की गई है, इसमें चिन्हित देशों की जगह सभी पड़ोसी देशों का नाम जोड़ने की बात कही है. इसके अलावा भारत सभी नागरिकों के लिए है और वसुधैव कुटुम्बकम की नीति पर चलने की मांग की गई है.

  • 08:40 ISTPosted by Mohit Grover

    क्या कहता है नया नागरिकता कानून?


    गौरतलब है कि मोदी सरकार जो संशोधित बिल ला रही है, उस बिल के अनुसार अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश से आने वाले हिंदू, जैन, बौद्ध, सिख यानी गैर-मुस्लिम शरणार्थियों को भारत की नागरिकता मिलने में आसानी होगी. पहले नागरिकता हासिल करने के लिए 11 साल का समय था, लेकिन अब इसे घटाकर 6 साल करने की तैयारी है. विपक्ष इसी का विरोध कर रहा है और मोदी सरकार पर धर्म के आधार पर बंटवारा करने का आरोप लगा रहा है.

  • 08:40 ISTPosted by Mohit Grover

    कौन करेगा बिल का विरोध?


    कांग्रेस पार्टी पहले दिन से इस बिल का विरोध कर रही है, कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी का कहना है कि वह एड़ी-चोटी का जोर लगाकर इसके खिलाफ प्रदर्शन करेंगे. कांग्रेस के अलावा टीएमसी, सपा, बसपा, लेफ्ट, एनसीपी, डीएमके, राजद समेत कई बड़ी पार्टियां बिल का विरोध करेंगी. शिवसेना अब एनडीए का साथ छोड़ चुकी है लेकिन इस बिल पर उसका क्या रुख रहता है, इसपर हर किसी की नज़र है.

  • 08:40 ISTPosted by Mohit Grover

    आज लोकसभा में पेश होगा नागरिकता कानून


    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल को पेश करेंगे. इस बिल पर मंगलवार को चर्चा होगी, जिसके बाद मतदान कराने के पास इसे पास कराया जाएगा. ये बिल पहले लोकसभा में पास हो चुका था, लेकिन कार्यकाल खत्म होने के साथ ही बिल भी समाप्त हुआ. इसलिए बिल को दोबारा लोकसभा-राज्यसभा में पेश किया जाएगा. भाजपा के पास लोकसभा में तो बहुमत है लेकिन राज्यसभा में विपक्ष के विरोध का सामना करना पड़ सकता है.

  • 08:40 ISTPosted by Mohit Grover

    नागरिकता कानून पर रार..

    केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार नागरिकता कानून को बदलने के लिए तैयार है. आज केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह लोकसभा में नागरिकता संशोधन कानून बिल को पेश करेंगे. सड़क से संसद तक इस बिल का विरोध हो रहा है लेकिन मोदी सरकार ने इसपर आगे बढ़ने की ठानी है. कांग्रेस, टीएमसी समेत कई अहम विपक्षी पार्टियों ने इसका विरोध करने की बात कही है. भारतीय जनता पार्टी ने अपने सभी सांसदों के लिए व्हिप जारी किया है.

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay