एडवांस्ड सर्च

UP Board Exam 2020: 12वीं के स्टूडेंट अब दे सकेंगे कंपार्टमेंट परीक्षा

UP Board 12th Exam: यूपी बोर्ड के परीक्षार्थियों के लिए अच्छी खबर है. इस साल यूपी बोर्ड ने 12वीं के स्टूडेंट्स को राहत देने वाला फैसल किया है. इसके तहत अब यूपी बोर्ड के 12वीं के स्टूडेंट्स फेल होने पर कंपार्टमेंट परीक्षा दे सकेंगे.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 11 December 2019
UP Board Exam 2020: 12वीं के स्टूडेंट अब दे सकेंगे कंपार्टमेंट परीक्षा प्रतीकात्मक फोटो

  • अब 10वीं की तरह 12वीं के स्टूडेंट्स अब कंपार्टमेंट परीक्षा दे सकेंगे.
  • छात्र दो विषयों में फेल होने पर परीक्षार्थी कंपार्टमेंट परीक्षा दे पाएंगे.
  • इसी सत्र से की जाएगी ये व्यवस्था, जानिए कैसी होगी

UP Board 12th Exam: यूपी बोर्ड के परीक्षार्थियों के लिए अच्छी खबर है. इस साल यूपी बोर्ड ने 12वीं के स्टूडेंट्स को राहत देने वाला फैसल किया है. इसके तहत अब यूपी बोर्ड के 12वीं के स्टूडेंट्स फेल होने पर कंपार्टमेंट परीक्षा दे सकेंगे.

यूपी बोर्ड (UP Board) में अब हाईस्कूल की ही तरह 12वीं यानी इंटरमीडिएट (UP Board 10th, 12th) के स्टूडेंट्स को भी कंपार्टमेंट परीक्षा देने का मौका मिल सकेगा. इससे एक या दो विषय में फेल परीक्षार्थियों को उसी सत्र में पास होने का मौका मिल सकेगा. भाषा से उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने इसकी घोषणा करते हुए कहा है कि अब हाईस्कूल व इंटर दोनों परीक्षाओं में दो विषयों में फेल होने पर परीक्षार्थी कंपार्टमेंट परीक्षा दे सकेंगे. मार्कशीट पर यह नहीं लिखा जाएगा कि विद्यार्थी कंपार्टमेंट परीक्षा देकर पास हुआ है. यह सुविधा अभी तकUP Board 10th यानी हाईस्कूल परीक्षा में एक विषय में फेल होने वाले परीक्षार्थियों को ही मिलती है. उन्होंने कहा कि कंपार्टमेंट परीक्षा की सुविधा देने के इस प्रस्ताव पर जल्द शासन की मुहर लगाई जाएगी. परीक्षा के नाम पर स्टूडेंट्स को घबराहट न हो, इसी कारण मूल्यांकन पद्घति में बदलाव किया जा रहा है.

उन्होंने आगे कहा कि यूपी बोर्ड में हाईस्कूल में अगर परीक्षार्थी एक विषय में फेल है तो उसे अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया जाता है. परीक्षार्थी के पास उस विषय में इंप्रूवमेंट देने का भी विकल्प होता है. अगर वह दो विषय में फेल है तो उसे कंपार्टमेंट परीक्षा का मौका मिलता है. इसके तहत वह फेल होने वाले दोनों विषयों में किसी एक की परीक्षा देता है और वह पास होकर अगली कक्षा में चला जाता है. इंटरमीडिएट में यह विकल्प नहीं है. अगली कक्षा में जाने के लिए परीक्षार्थी का सभी विषयों में पास होना जरूरी होता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay