एडवांस्ड सर्च

एससीईआरटी के बीएड प्रोग्राम की सीटें होंगी दोगुनी: मनीष सिसोदिया

स्टेट काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (SCERT) के बीएड प्रोग्राम की सीटें 70 से बढ़कर अगले साल 150 हो जाएंगी.

Advertisement
aajtak.in
रोशनी ठोकने/ ऋचा मिश्रा नई दिल्‍ली, 10 August 2016
एससीईआरटी के बीएड प्रोग्राम की सीटें होंगी दोगुनी: मनीष सिसोदिया Deputy Chief Minister Manish Sisodia

स्टेट काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (SCERT) के बीएड प्रोग्राम की सीटें 70 से बढ़कर अगले साल 150 हो जाएंगी.

बैचलर ऑफ एजुकेशन और डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन के नये बैच के स्टूडेंट्स को संबोधित करते हुए दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि अगले साल तक यहां बीएड प्रोग्राम में 150 बच्चों को एडमिशन मिलने लगे.

डिफेंस कॉलोनी स्थित एससीईआरटी ऑफिस में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान भावी शिक्षकों को संबोधित करते हुए शिक्षा मंत्री ने ये भी कहा कि यहां से बैचलर ऑफ एजुकेशन और डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन कोर्स कर रहे स्टूडेंट्स को बहुत जल्द एक अलग इंस्टीट्यूट मिल जाएगा. मनीष सिसोदिया ने स्टूडेंट्स से कहा कि वे सोचकर-विचारकर बताएं कि इस भावी इंस्टीट्यूट का क्या नाम होना चाहिए? उन्होंने कहा कि ये आपका इंस्टीट्यूट है और अब आपकी जिम्मेदारी है कि इसके लिए कोई अच्छा सा नाम सुझाएं.

शिक्षा मंत्री ने भावी शिक्षकों को एक होमवर्क भी दिया. मनीष सिसोदिया ने बैचलर ऑफ एजुकेशन और डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन के स्टूडेंट्स से कहा कि हर स्टूडेंट्स अपने हिसाब से दुनिया की 10 सबसे बड़ी समस्याएं बताएं और ये भी बताएं कि इन समस्याओं को सुलझाने में एक शिक्षक के रूप में आप क्या-क्या भूमिका निभा सकते हैं. उन्होंने कहा कि अगली बार जब वह दोबारा मुखातिब होंगे तो इस पर चर्चा करेंगे.

भावी शिक्षकों को संबोधित करते हुए उप-मुख्यमंत्री ने ये भी कहा कि आने वाले समय में आपके ऊपर दिल्ली के 26 लाख बच्चों की जिम्मेदारी होगी. एजुकेशनल इंस्टीट्यूट को खड़ा करने की जिम्मेदारी आप जैसे भावी शिक्षकों पर है और जिस दिन हमने एजुकेशनल इंस्टीट्यूट को ठीक खड़ा कर दिया उस दिन समाज की ज्यादातर समस्याएं या तो खत्म हो जाएंगी या कम हो जाएंगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay