एडवांस्ड सर्च

राजस्थान सरकार का बड़ा फैसला, इस दिन बिना बैग स्कूल जाएंगे बच्चे

राजस्थान में अब सरकारी स्कूल के बच्चों को महीने में दो दिन बिना बैग स्कूल जाना होगा. इस दिन स्कूल में किताबों से नहीं, बल्कि एक्टिविटी के माध्यम से पढ़ाई करवाई जाएगी.

Advertisement
aajtak.in
मोहित पारीक नई दिल्ली, 10 September 2018
राजस्थान सरकार का बड़ा फैसला, इस दिन बिना बैग स्कूल जाएंगे बच्चे प्रतीकात्मक फोटो

राजस्थान सरकार ने स्कूली बच्चों के लिए विद्यार्थियों के लिए 'आनंददायी शनिवार' पहल की शुरुआत की है. इसके अंतर्गत सरकारी स्कूलों के बच्चों को शनिवार के दिन बैग लेकर स्कूल नहीं जाना होगा और पढ़ाई किताबों से नहीं करवाई जाएगी. साथ ही बच्चों कोकुछ क्रिएटिव और अलग तरह की पढ़ाई कराई जाएगी. बता दें कि यह हर महीने के दूसरे और चौथे शनिवार को लागू होगा.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, विद्यार्थियों की कम्यूनिकेशन स्किल, क्रिएटिविटी और लॉजिकल थिंकिंग के विकास के लिए यह किया जा रहा है और कक्षा 1 से कक्षा 12 तक के विद्यार्थियों के लिए ये किया जा रहा है. बच्चों के सर्वांगीण विकास को ध्यान में रखते हुए सरकार ने स्कूलों में हर महीने के दूसरे और चौथे शनिवार को 'आनन्ददायी शनिवार' के रूप में मनाने के फैसला किया है.

पढ़ाई में हिट हैं दिल्ली के सरकारी स्कूल, ऐसे पढ़ते हैं बच्चे

इन दोनों शनिवार को बच्चों को बस्तामुक्त कर दिया जाएगा ताकि वह यह समय मस्ती में गुजार सकें. बच्चों को कई तरह के क्रिएटिव कामों की ट्रेनिंग दी जाएगी. राजस्थान स्कूल एजुकेशन काउंसिल ने राजस्थान के सभी जिला एजुकेशन ऑफिसरों और समग्र शिक्षा अभियान के डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेट्रर्स को आनंददायी शनिवार के बारे में बताते हुए सर्कुलर जारी कर दिया है.

EXCLUSIVE : दिल्ली में नाव से नदी पार कर स्कूल जाने को मजबूर छात्र

इस दौरान बच्चों को डिबेट, स्टोरीटेलिंग, कम्यूनेटिंग विद पीपल, डॉक्टर्स, नर्सेज, बैंक के कार्य, प्लांटेशन वर्क्स, रोड सेफ्टी, डिस्प्ले ऑफ मॉटिवेशनल वीडियोज, गुड टच, बैड टच, गेम्स आदि के बारे में बताया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay