एडवांस्ड सर्च

जरूरत से ज्यादा पढ़ी-लिखी महिला को नहीं मिली नौकरी, कोर्ट से भी झटका

जरूरत से ज्यादा योग्यता की वजह से महिला को नहीं मिली नौकरी, हाई कोर्ट ने रद्द की याचिका... यहां पढ़ें पूरा मामला

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in/ प्रियंका शर्मा नई दिल्ली, 12 July 2019
जरूरत से ज्यादा पढ़ी-लिखी महिला को नहीं मिली नौकरी, कोर्ट से भी झटका प्रतीकात्मक फोटो

किसी भी पद पर आवेदन करने से पहले एक बार अपनी योग्यता जांच लें. अगर आपकी योग्यता उस पद के लिए मांगी गई योग्यता से अधिक होती है तो भविष्य में आपको इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है. ऐसा ही कुछ हुआ चेन्नई की एक महिला के साथ. जहां मद्रास उच्च न्यायालय (Madras High Court) ने उनका आवेदन इस आधार पर रद्द कर दिया है क्योंकि उनकी योग्यता जरूरत से ज्यादा थी. बता दें, उन्होंने चेन्नई मेट्रो रेल लिमिटेड में नौकरी के लिए आवेदन किया था.

जस्टिस एस वैद्यनाथन ने आर लक्ष्मी प्रभा का आवेदन खारिज कर दिया है. उन्होंने ट्रेन ऑपरेटर, स्टेशन कंट्रोलर, जूनियर इंजीनियर (स्टेशन) के पदों के लिए आवेदन किया था. अपन आवेदन खारिज करने के पर सीएमआरएल (CMRL) के  आदेश को चुनौती देते हुए उन्होंने कोर्ट में याचिका दायर की थी. आपको बता दें, इन सभी पदों के लिए शैक्षणिक योग्यता इंजीनियरिंग में डिप्लोमा तय की गई थी. लेकिन महिला B.E ग्रेजुएट हैं.

CMRL विज्ञापन का उल्लेख करते हुए, न्यायाधीश ने कहा कि जिन उम्मीदवारों की योग्यता किसी पद के  लिए आवश्यकता से अधिक है, वे उस पद पर आवेदन करने के योग्य नहीं माने जाएंगे. वहीं आगे उन्होंने कहा कि पद के लिए साफतौर पर निर्देश दिए गए थे कि जिसमें "न्यूनतम योग्यता स्पष्ट तौर पर बताया गई है और यह भी लिखा किया गया है  कि जरुरत से अधिक योग्यता वाले उम्मीदवार आवेदन  नहीं कर सकते".

आपको बता दें, महिला ने 1 फरवरी, 2013 को चेन्नई मेट्रो रेल लिमिटेड (CMRL) में ट्रेन  ऑपरेशन,  स्टेशन कंट्रोलर, जूनियर इंजीनियर (स्टेशन)  के पदों के लिए आवेदन किया था. उन्होंने साल 2013 में 31 मार्च को आयोजित ऑनलाइन परीक्षा को सफलतापूर्वक पास किया था. वहीं इस पद पर आवेदन करने के लिए न्यूनतम योग्यता डिप्लोमा था, लेकिन महिला के पास इंजीनियरिंग की डिग्री थी.

वहीं महिला ने सफाई देते हुए कहा कि 21 जून 2013 को उन्होंने B.E. कोर्स पूरा किया था. जिस समय उन्होंने चेन्नई मेट्रो रेल लिमिटेड (CMRL) पदों के लिए आवेदन किया था, उस समय उनके पास कोई डिग्री नहीं थी. उन्होंने केवल "इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग" में डिप्लोमा किया था.

महिला ने आगे तर्क दिया कि उसने अपनी इंजीनियरिंग की डिग्री से संबंधित किसी भी जानकारी को दबाया नहीं था और इसलिए, नियुक्ति के लिए उसकी उम्मीदवारी पर विचार किया जाना चाहिए. अपने जवाबी हलफनामे में, CMRL ने कहा कि स्टेशन कंट्रोलर, ट्रेन ऑपरेटर, जूनियर इंजीनियर (स्टेशनों) के पद के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को एक सामान्य निर्देश दिया गया था कि B.E, B.Tech या अन्य किसी भी उच्च योग्यता वाले उम्मीदवार योग्य नहीं है.

CMRL का कहना है कि ऐसी उच्च योग्यता वाले उम्मीदवारों को ध्यान में रखना चाहिए कि भर्ती के किसी भी समय या CMRL में नियुक्ति के बाद भी उनकी उम्मीदवारी रद्द कर दी जाएगी, यदि वह जरूरत से अधिक योग्यता के पाए जाते हैं. जिस वजह से न्यायाधीश ने महिला की  याचिका को खारिज कर दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay