एडवांस्ड सर्च

स्टार्टअप शुरू करने में मदद करेगा IIT दिल्ली, उठाएगा ये कदम

आईआईटी दिल्ली भारत का पहला टैक स्कूल होगा जो पीएचडी किए हुए उम्मीदवारों के लिए फैलोशिप शुरू करेगा और अपनी रिसर्च से स्टार्टअप खोलने में मदद करेगा.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: मोहित पारीक]नई दिल्ली, 21 April 2018
स्टार्टअप शुरू करने में मदद करेगा IIT दिल्ली, उठाएगा ये कदम आईआईटी दिल्ली

आईआईटी दिल्ली स्टार्टअप शुरू करने के लिए मदद करने की योजना बना रहा है. आईआईटी दिल्ली भारत का पहला टैक स्कूल होगा जो पीएचडी किए हुए उम्मीदवारों के लिए फैलोशिप शुरू करेगा और अपनी रिसर्च से स्टार्टअप खोलने में मदद करेगा. आईआईटी दिल्ली इसकी रिसर्च के लिए भी उम्मीदवारों को पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध करवाएगा.

आईआईटी दिल्ली के डायरेक्टर प्रोफेसर रामगोपाल राव ने कहा कि पीएचडी कर चुके उम्मीदवारों को चार महीने के लिए हरियाणा के सोनीपत कैंपस में रखा जाएगा, जहां वे लोग अपने-अपने विषयों पर रिसर्च करेंगे. बता दें कि फिलहाल 2500 विद्यार्थी इस संस्थान से पीएचडी कर रहे हैं, लेकिन फिर भी कंपनी शुरू करने के लिए लोगों को अवसर बहुत कम प्राप्त हो रहे हैं.

12वीं के बाद कम पैसे में करें ये कोर्स, होगी लाखों की कमाई!

दरअसल पीएचडी करने वाले विद्यार्थी एकेडमिक्स में ही अपना करियर बनाते हैं और स्टार्ट अप या खुद का नया बिजनेस नहीं खोल पाते हैं. राव का कहना है कि हम पीएचडी करने वाले विद्यार्थियों को स्टार्टअप शुरू करने का अवसर देंगे और यह उनके रिसर्च के आधार पर तय किया जाएगा. साथ ही उन्होंने कई स्टार्टअप के उदाहरण भी दिए जो कि आज बाजार में बहुत सही जगह बनाए हुए हैं.

पढ़ाई बीच में छोड़ी, सीडी बेची और फिर ऐसे बना करोड़ों का मालिक!

बता दें कि आईआईटी दिल्ली रिसर्च के आधार पर 20 उम्मीदवारों का चयन करेगा और स्टार्टअप शुरू करने में उनकी मदद करेगा. इस का फायदा वो लोग ले सकते हैं, जिन्होंने पीएचडी कर ली है या अपनी रिसर्च खत्म कर ली है. पीएचडी किए हुए उम्मीदवारों को ये अवसर देना आईआईटी दिल्ली का बड़ा कदम है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay