एडवांस्ड सर्च

ICSE स्टूडेंट्स के लिए अच्छी खबर, पास मार्क्स में हुई कटौती

काउंसिल ऑफ इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशंस (CISCE) ने पास मार्क्स में कमी कर दी है. काउंसिल ने आईसीएसई और आईएससी परीक्षा के लिए पास होने वाले प्रतिशत में तीन और पांच प्रतिशत की कमी कर दी है.

Advertisement
aajtak.in [Edited By- मोहित पारीक]नई दिल्ली, 28 November 2017
ICSE स्टूडेंट्स के लिए अच्छी खबर, पास मार्क्स में हुई कटौती प्रतीकात्मक फोटो

काउंसिल ऑफ इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशंस (CISCE) ने पास मार्क्स में कमी कर दी है. काउंसिल ने आईसीएसई और आईएससी परीक्षा के लिए पास होने वाले प्रतिशत में तीन और पांच प्रतिशत की कमी कर दी है. नए सिस्टम के अनुसार परीक्षा आईसीएसई के विद्यार्थियों को पास होने के लिए 33 और आईएससी के विद्यार्थियों को 35 फीसदी अंक लाना आवश्यक होगा. यह सिस्टम साल 2019 से लागू हो जाएगा.

इससे पहले आईसीएसई के विद्यार्थियों को 35 अंक और आईएससी यानि 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को 40 फीसदी अंक लाना आवश्यक होता है. सीआईएससीई ने अपने सर्कुलर में कहा कि अन्य बोर्ड के साथ एकरुपता खत्म करने के लिए यह कदम उठाया गया है. काउंसिल के अनुसार यह फैसला मानव संसाधन विकास मंत्रालय से कई बैठक करने के बाद ये फैसला लिया गया है.

TIPS: सर्दियों में ऐसे करें पढ़ाई, बोर्ड एग्जाम में आएंगे अच्छे नंबर

साथ ही काउंसिल ने स्कूलों को अपनी आंतरिक परीक्षाओं में भी इसी मॉडल को फॉलो करने के लिए कहा है. अब स्कूलों को अगले साल से यह मॉडल फॉलो करना होगा. बता दें कि कक्षा 9 और 10 के छात्रों के लिए 33 फीसदी और 11 और 12वीं कक्षा के बच्चों के लिए पासिंग मार्क्स 35 फीसदी होंगे.

बदल गया बिहार बोर्ड के मैट्रिक और इंटर की परीक्षा का पैटर्न, पूछे जाएंगे 50 ऑब्जेक्टिव सवाल

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay