एडवांस्ड सर्च

डीयू प्रशासन के खिलाफ ABVP और DUSU का सत्याग्रह शुरू

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) और  तथा दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ (DUSU) ने दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ सेलेबस तथा एकेडमिक काउंसिल संबंधी अपनी मांगों को लेकर नार्थ कैंपस की आर्टस फैकल्टी पर सत्याग्रह शुरू कर दिया है.

Advertisement
aajtak.inनई दिल्ली, 20 July 2019
डीयू प्रशासन के खिलाफ ABVP और DUSU का सत्याग्रह शुरू सत्याग्रह प्रदर्शन करते हुए स्टूडेंट्स

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) और  तथा दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ (DUSU) ने दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ सेलेबस तथा एकेडमिक काउंसिल संबंधी अपनी मांगों को लेकर नार्थ कैंपस की आर्टस फैकल्टी पर सत्याग्रह शुरू कर दिया है.

यह सत्याग्रह कल डीयू की प्रस्तावित EC मीटिंग के खत्म होने तक चलेगा. अभाविप ने सत्याग्रह के माध्यम से छात्रों के प्रतिनिधित्व को अकादमिक परिषद में सुनिश्चित करने और राजनीति विज्ञान , पत्रकारिता , हिंदी , इतिहास , समाजशास्त्र तथा अंग्रेजी के नए पाठ्यक्रमों को वापस लेने , सिलेबस संबंधी विषयों पर सुझावों और आपत्तियों पर विचार करने के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय से बाहर के विशेषज्ञों की एक समीक्षा समिति गठित करने तथा महत्व के शैक्षिक मामलों में सभी हितधारकों को शामिल करने के लिए एक प्रणाली के गठन की मांग की है.

डूसू अध्यक्ष शक्ति सिंह ने कहा कि "देश की सांस्कृतिक चेतना पर प्रहार करने की वामपंथी कोशिशों को डीयू का छात्र सफल नहीं होने देगा. हम तथ्य आधारित तथा पक्षपात रहित सेलेबस के पक्ष में हैं तथा डूसू मांग करता है कि छात्रों का अकादमिक मामलों में प्रतिनिधित्व सुनिश्चित हो.

अभाविप दिल्ली के प्रदेश मंत्री सिद्धार्थ यादव ने कहा कि "छात्र विरोधी मानसिकता जिसका कोई वास्तविक आधार भी नहीं है को छात्रों पर थोपना हमें मंजूर नहीं. हमने जिन मांगों को आज के सत्याग्रह के माध्यम से रखा है. उसके पूरे होने तक हमारा संघर्ष जारी रहेगा तथा हम आशा करते हैं कि वामपंथी अपनी झूठ फैलाने की कोशिशों को बंद करेंगें. राष्ट्रवादी विचारों के प्रति आधारहीन तथा कपोल कल्पना आधारित पाठ्य सामग्री को वापस लेना होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay