एडवांस्ड सर्च

Advertisement

फेरारी की लेन पर क्रिकेट की तरह है ट्वेंटी-20: सिद्धू

अपनी लच्छेदार और जुमलों भरी कमेंट्री के लिये मशहूर पूर्व भारतीय क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू ने टी-20 लीग के लिये ‘ठोस मनोरंजन’ और ‘विश्व क्रिकेट का चमकता सूरज’ करार दिया.
फेरारी की लेन पर क्रिकेट की तरह है ट्वेंटी-20: सिद्धू नवजोत सिंह सिद्धू
आजतक ब्यूरोनई दिल्ली, 29 March 2012

अपनी लच्छेदार और जुमलों भरी कमेंट्री के लिये मशहूर पूर्व भारतीय क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू ने टी-20 लीग के लिये ‘ठोस मनोरंजन’ और ‘विश्व क्रिकेट का चमकता सूरज’ करार दिया.

सिद्धू ने कहा, ‘भारतीय क्रिकेट में जो कुछ हुआ उसमें टी-20 लीग सर्वश्रेष्ठ है. ट्वेंटी-20 क्रिकेट फेरारी की लेन पर क्रिकेट की तरह है. यह बेहद तेज है. लोगों ने पहले शास्त्रीय संगीत सुनना शुरू किया, उसके बाद पाप संगीत और अब वे राक संगीत की तरफ मुड़ गये हैं. टी-20 राक संगीत की तरह है. इसने देश को झूमने के लिये मजबूर कर दिया है.’

उन्होंने सेट मैक्स के टी-20 कार्यक्रम ‘एक्स्ट्रा इनिंग ट्वेंटी-20’ की शुरुआत के अवसर पर कहा, ‘टी-20 अलग तरह का खेल है. यह बदलते समय की मांग है. टी-20 विश्व क्रिकेट का चमकता सूरज है. टी-20 लीग बाजार से बर्गर खरीदने जैसा है जबकि घर में कोई खाना नहीं बनाना चाहता हो. इससे क्रिकेट में अच्छा बदलाव आया है और यह ठोस मनोरंजन है.’

क्रिकेटर से राजनीतिज्ञ बने भाजपा के सांसद सिद्धू ने कहा कि टी-20 लीग लगातार बढ़ती लोकप्रियता के कारण अब भी टिका हुआ है. उन्होंने कहा, ‘अच्छा नाम कमाना आसान है लेकिन उसे बनाये रखना मुश्किल होता है. टी-20 लीग ने क्रिकेट के शासन और प्रशासन को बदल कर रख दिया. भारत अब विश्व क्रिकेट का केंद्र बन गया है. पंद्रह साल पहले क्रिकेटर पैसा कमाने के लिये इंग्लैंड जाते थे लेकिन अब परिदृश्य बदल गया है आज खिलाड़ी पैसा कमाने के लिये भारत आ रहे हैं. भारत विश्व क्रिकेट का मक्का बन गया है.’

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay