एडवांस्ड सर्च

विजय बहुगुणा के खून में है राजनीति

उत्तराखंड में मुख्यमंत्री बनने जा रहे कांग्रेस नेता विजय बहुगुणा ने भले ही एक न्यायाधीश एवं वकील के तौर पर अपनी छाप छोड़ी, लेकिन राजनीति उनके खून में हमेशा दौड़ती रही है.

Advertisement
आजतक ब्यूरो/भाषानई दिल्ली, 13 March 2012
विजय बहुगुणा के खून में है राजनीति विजय बहुगुणा

उत्तराखंड में मुख्यमंत्री बनने जा रहे कांग्रेस नेता विजय बहुगुणा ने भले ही एक न्यायाधीश एवं वकील के तौर पर अपनी छाप छोड़ी, लेकिन राजनीति उनके खून में हमेशा दौड़ती रही है. वह एक रसूखदार सियासी परिवार से ताल्लुक रखते हैं.

विजय बहुगुणा अपने जमाने के दिग्गज नेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा के पुत्र हैं. हेमवती नंदन बहुगुणा कभी संजय गांधी के बेहद करीबी हुआ करते थे, लेकिन हालात बदले तो उन्हें कांग्रेस से अलग होना पड़ा.

हेमवती नंदन उत्तर प्रदेश के बड़े सियासी शूरमा माने जाते थे, हालांकि 1984 के लोकसभा चुनाव में उन्हें महानायक अमिताभ बच्चन से हार का सामना करना पड़ा.

विजय बहुगुणा का जन्म 28 फरवरी, 1947 को इलाहाबाद में हुआ. उन्होंने इलाहाबाद उच्च न्यायालय में बतौर वकील काम किया. बाद में उन्होंने बंबई उच्च न्यायालय में भी अपनी सेवाएं दीं.

वह उत्तराखंड के निवर्तमान मुख्यमंत्री बी सी खंडूरी के रिश्तेदार और उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की नेता रीता बहुगुणा जोशी के भाई हैं. वह फिलहाल उत्तराखंड कांग्रेस इकाई के उपाध्यक्ष और टिहरी गढ़वाल से लोकसभा सदस्य हैं.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay