एडवांस्ड सर्च

1992 के बाद पहली बार अयोध्या में हारी भाजपा

6 दिसंबर 1992 में बाबरी मस्जिद के विवादास्पद ढांचे के गिरा देने के बाद लखनऊ विधान सभा क्षेत्र में पहली बार भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है. भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह को समाजवादी पार्टी नेता तेज नारायण पांडे उर्फ पवन पांडे ने हराया.

Advertisement
आजतक वेब ब्यूरोनई दिल्ली, 06 March 2012
1992 के बाद पहली बार अयोध्या में हारी भाजपा भाजपा पार्टी ध्वज

6 दिसंबर 1992 में बाबरी मस्जिद के विवादास्पद ढांचे के गिरा देने के बाद लखनऊ विधान सभा क्षेत्र में पहली बार भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है. भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह को समाजवादी पार्टी नेता तेज नारायण पांडे उर्फ पवन पांडे ने हराया.

पवन पांडे ने 5405 वोटों के अंतर से अयोध्या विधानसभा सीट पर कब्जा जमाया. जहां पवन पांडे को सर्वाधिक 55262 वोट मिले वहीं दूसरे स्थान पर रहने वाले भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह को 49857 वोट मिले.

विधानसभा क्षेत्र में तीसरे नंबर पर बसपा के प्रत्याशी प्रकाश गुप्ता रहे. उन्हें 33 481 वोट मिले. वहीं निर्दलीय उम्मीदवार गुलशन उर्फ बिंदू 22023 वोटों के साथ चौथे स्थान पर रहे. कांग्रेस प्रत्याशी 9710 वोटों के साथ पांचवां स्थान मिला.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay